Rajasthan CET Syllabus 2022 In Hindi | राजस्थान CET सिलेबस हिंदी में

Rajasthan CET Syllabus 2022 In Hindi : उत्तर प्रदेश की तर्ज पर राजस्थान सरकार ने भी सरकारी नौकरी की तलाश कर रहे हैं उम्मीदवारों के लिए राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड (RSMSSB) के कॉमन एलिजिबिलिटी टेस्ट (CET) के तहत पटवारी, सुपरवाइज़, जूनियर अकाउंटेंट, प्लाटून कमांडर तथा अन्य पदों पर भर्ती हेतु ऑनलाइन आवेदन फॉर्म को जारी किया है, जो भी योग्य अभ्यर्थी हैं वे आधिकारिक वेबसाइट के जरिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

आज मैं आपको Cet exam Syllabus for LDC 2022 के साथ – साथ RSMSSB CET Exam Syllabus 2022 in Hindi तथा Rajasthan CET Exam Pattern के बारे में विस्तृत रूप से बताऊंगा ताकि अभ्यर्थियों को RSMSSB CET Syllabus 2022 में किसी भी प्रकार की असुविधा का सामना न करना पड़े, और अभ्यर्थी परीक्षा में अच्छा अंक प्राप्त कर सकें।

CET Exam Syllabus in Hindi
CET Exam Syllabus in Hindi

RSMSSB CET Syllabus 2022– संक्षिप्त विवरण

भर्ती का नामराजस्थान सीईटी भर्ती 2022
भर्ती बोर्ड का नामराजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड (RSMSSB)
पद का नामपटवारी, सुपरवाइज़, जूनियर अकाउंटेंट, प्लाटून कमांडर तथा अन्य पद
आवेदन की प्रक्रियाऑनलाइन
विज्ञापन संख्या09/2022
पदों की संख्या2996 पद
लेख का नामRajasthan CET Syllabus In Hindi
श्रेणीGoverment Exam Syllabus
आधिकारिक वेबसाइटhttps://rsmssb.rajasthan.gov.in

RSMSSB CET के संबंध में कुछ महत्वपूर्ण दिशा निर्देश

  1. समान पात्रता परीक्षा (स्नातक स्तर) मात्र एक पात्रता परीक्षा है समान पात्रता परीक्षा (स्नातक स्तर) में सम्मिलित पद परछात्रावास अधीक्षक ग्रेड-II भर्ती सुसंगत सेवा नियमों के उपबंधों के अनुसार की जायेगी किसी अभ्यर्थी का समान पात्रता परीक्षा में उपस्थित होने तथा स्कोर अर्जित कर लेना मात्र ही उसे नौकरी की गारंटी नहीं देगा। अभ्यर्थियों को भर्ती एजेन्सी द्वारा संचालित लिखित परीक्षा या साक्षात्कार या दोनों में आवश्यक रूप से उपस्थित होना होगा और उसे अर्हित करना होगा और सुसंगत सेवा नियमों में अधिकथित अन्य कसौटी भी पूर्ण करनी होगी। समान पात्रता परीक्षा (स्नातक स्तर) में सम्मिलित सेवाओं के पदों पर भर्ती के लिये अलग से भर्ती परीक्षा का आयोजन किया जायेगा, जिसमें अभ्यर्थियों का चयन श्रेणीवार रिक्त पदों के अनुसार परियता के आधार पर किया जायेगा। मुख्य भर्ती परीक्षा का आयोजन एवं भर्ती की कार्यवाही उस सेवा के सेवा नियमों के अनुसार की जायेंगी।
  2. समान पात्रता परीक्षा (स्नातक स्तर) वर्ष में कम से कम एक बार आयोजित की जायेगी। समान पात्रता परीक्षा का स्कोर परिणाम की दिनांक से एक वर्ष के लिये मान्य होगा।
  3. बोर्ड द्वारा उन समस्त अभ्यर्थियों के अक, जो समान पात्रता परीक्षा में उपस्थित हुये है प्रकाशित किया जायेगा।
  4. समान पात्रता परीक्षा में उपस्थित होने के प्रयासों की संख्या के संबंध में कोई निबंधन नहीं होगें। अभ्यर्थियों के पास समान पात्रता परीक्षा में अपना स्कोर सुधारने का अवसर होगा किसी अभ्यर्थी का समान पात्रता परीक्षा (स्नातक स्तर) में सम्मिलित पदों के लिये आने वाली परीक्षा से पूर्व का सर्वोत्तम उपलब्ध स्कोर मान्य होगा।
  5. समान पात्रता परीक्षा (स्नातक स्तर) में उल्लेखित अधीनस्थ और लिपिकवर्गीय सेवाओं के पदों पर सीधी भर्ती को शासित करने वाले किसी नियम में अंतर्विष्ट किसी बात के होते हुए भी कोई भी व्यक्ति समान पात्रता परीक्षा (स्नातक स्तर) में उल्लिखित पदों पर चयन के लिए संचालित लिखित परीक्षा या साक्षात्कार या दोनों में उपस्थित होने का पात्र नहीं होगा यदि वह सीईटी में इतने न्यूनतम अंक जो भर्ती एजेंसी द्वारा अवधारित किये जायें, प्राप्त करने में असफल रहता है। न्यूनतम अंक अवधारित करते समय, भर्ती एजेंसी यह विचार करेंगी कि समान पात्रता परीक्षा (स्नातक स्तर) में उल्लिखित पद पर विज्ञापित रिक्तियों की कुल संख्या के पंद्रह गुना अभ्यर्थी इस प्रकार विज्ञापित रिक्तियों के लिए आवेदन करने के पात्र होंगे किन्तु, उक्त श्रृंखला में उन समस्त अभ्यर्थी को जो वहीं अंक अर्जित करते है जो भर्ती एजेंसी द्वारा किसी निम्नतर श्रृंखला के लिए नियत किये जायें, समान पात्रता परीक्षा (स्नातक स्तर) में उल्लिखित पदों पर चयन के लिए संचालित लिखित परीक्षा या साक्षात्कार या दोनों में प्रवेश दिया जायेगा।परन्तु यदि मर्ती एजेंसी की यह राय हो कि, समान पात्रता परीक्षा (स्नातक स्तर) में उल्लिखित पद पर भर्ती के लिए संचालित लिखित परीक्षा या साक्षात्कार या दोनों में उपस्थित होने के साधारण मानक के आधार पर आरक्षित प्रवर्ग वाले अभ्यर्थियों की पर्याप्त संख्या उपलब्ध नहीं है तो, भर्ती एजेंसी द्वारा ऐसे आरक्षित प्रवर्ग वाले अभ्यर्थियों को प्रवेश देने के लिए शिथिल मानक लागू किया जा सकेगा ताकि उस प्रवर्ग में के अभ्यर्थियों की पर्याप्त संख्या लिखित परीक्षा या साक्षात्कार या दोनों में उपस्थित होने के लिए उपलब्ध हो इस प्रयोजन के लिए रिक्तियों की कुल अनुमानित संख्या के पंद्रह गुना की विचार की संख्या सीमा शिथिल मानी जायेगी। तथापि, लिखित परीक्षा या साक्षात्कार या दोनों में उपस्थित होने के लिए इस प्रकार अतिरिक्त रूप से अर्हित अभ्यर्थी, केवल उनके प्रदर्गों के लिए आरक्षित पदों पर चयन के लिए पात्र होंगे।
  6. समान पात्रता परीक्षा (स्नातक स्तर) में उल्लेखित किसी पद पर भर्ती के लिये, शैक्षणिक अर्हता, आयु अनुभव आदि ऐसी होगी जो उस पद पर भर्ती को शासित करने वाले सुसंगत सेवा नियमों में यथा विहित है।
  7. समान पात्रता परीक्षा (स्नातक स्तर) उपस्थित होने से पूर्व अभ्यर्थी द्वारा स्वयं यह सुनिश्चित किया जाना चाहिए कि वह समान पात्रता परीक्षा (स्नातक स्तर) में सम्मिलित किसी पद हेतु आयु शैक्षणिक अर्हताओं आदि यदि कोई हो, के संबंध में शर्ते पूर्ण करता / करती है समान पात्रता परीक्षा के लिये अनुज्ञात किया जाना अभ्यर्थी को पात्रता की उपचारणा मान्यता का पात्र नहीं बनायेगा।

Rajasthan CET Exam Pattern

इसका परीक्षा पैटर्न निम्नलिखित है –

  1. इस परीक्षा प्रश्नों का प्रकार बहुविकल्पीय होगा।
  2. इसमें कुल 150 प्रश्न पूछें जाएंगे।
  3. प्रत्येक प्रश्न 2 (दो) अंक के होंगें।
  4. इसके लिए आपको कुल 3 घंटे का समय प्रदान किया जाएगा।
  5. इस परीक्षा में नकारात्मक अंकन का प्रावधान नहीं है।

आइए सारणी के माध्यम से इसे समझने का प्रयास करते हैं –

विषय विवरणप्रश्नों की संख्याकुल अंकसमयावधि
भारतीय राष्ट्रीय आन्दोलन पर विशेष बल के साथ राजस्थान और भारत का इतिहास, राजस्थान का इतिहास, कला, सांस्कृतिक, साहित्य परंपरा और विरासत, भारत का भूगोल, राजस्थान का भूगोल, राजस्थान पर विशेष बल के साथ भारतीय राजनीतिक व्यवस्था भारत की अर्थव्यवस्था राजस्थान की अर्थव्यवस्था दिज्ञान एवं प्रौद्योगिकी, तार्किक विवेचन एवं मानसिक योग्यता, सामान्य हिन्दी सामान्य अंग्रेजी कम्प्यूटर का ज्ञान, समसामयिक घटनाएं150300 3 घंटे।

Rajasthan CET Syllabus In Hindi

जैसा की आपको ज्ञात होगा कि राजस्थान सरकार ने CET के लिए ऑनलाइन फॉर्म को जारी किया है, और मैं आपको CET Exam ka Syllabus in Hindi के बारे में विस्तृत रूप से चर्चा करने वाला हूं, यदि आपका Rajasthan CET Syllabus In Hindi में किसी भी प्रकार का संदेह है तो आप इस लेख को पूरा अवश्य पढ़ें।

भारतीय राष्ट्रीय आन्दोलन पर विशेष बल के साथ राजस्थान और भारत का इतिहास

  1. भारतीय इतिहास की महत्त्वपूर्ण घटनाएं 19वीं एवं 20वीं शताब्दी में सामाजिक एवं धार्मिक सुधार आंदोलन
  2. भारतीय इतिहास की महत्त्वपूर्ण घटनाएं 19वीं एवं 20वीं शताब्दी में सामाजिक एवं धार्मिक सुधार आंदोलन भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन – विभिन्न अवस्थाए, इनमें देश के विभिन्न क्षेत्रों के योगदानकर्ता एवं उनका योगदान ।
  3. 1857 की क्रान्ति में राजस्थान का योगदान, राजस्थान में जनजाति किसान आन्दोलन राजनीतिक जनजागरण एवं प्रजामण्डल आंदोलन।
  4. स्वातंत्र्योत्तर राष्ट्र निर्माण राष्ट्रीय एकीकरण एवं राज्यों का पुनर्गठन, नेहरू युग में सांस्थानिक निर्माण, विज्ञान एवं तकनीकी का विकास।

राजस्थान का इतिहास, कला, सांस्कृतिक, साहित्य, परंपरा और विरासत

  1. प्राचीन सभ्यताएं, कालीबंगा, आहड, गणेश्वर, बालाथल और बैराठ।
  2. राजस्थान के इतिहास की महत्वपूर्ण ऐतिहासिक घटनाएं प्रमुख राजवंश, उनकी प्रशासनिक व राजस्व व्यवस्था, सामाजिक-सांस्कृतिक आयाम।
  3. स्थापत्य कला की प्रमुख विशेषताएं किले एवं स्मारक, कलाएं चित्रकलाएं और हस्तशिल्प।
  4. राजस्थानी साहित्य की महत्वपूर्ण कृतिया क्षेत्रीय बोलियां मेले, त्योहार लोक संगीत एवं लोक नृत्य राजस्थानी संस्कृति, परम्परा एवं विरासत राजस्थान के धार्मिक आंदोलन।
  5. संत एवं लोक देवता महत्वपूर्ण ऐतिहासिक स्थल।
  6. राजस्थान के प्रमुख व्यक्तित्व राजस्थान का एकीकरण ।

भारत का भूगोल

  1. भौतिक स्वरूप पर्वत पठार मरुस्थल एवं मैदान
  2. जलवायु एवं मानसून तंत्र प्रमुख नदियाँ, बांध, झीले एवं सागर।
  3. वन्य जीव जन्तु एवं अभयारण्य प्रमुख फसलें गेहूं, चावल, कपास, गन्ना, चाय एवं कॉफी।
  4. प्रमुख खनिज-लौह अयस्क, मैगनीज, बॉक्साइट एवं अभ्रक।
  5. ऊर्जा संसाधन परम्परागत एवं गैर-परम्परागत प्रमुख उद्योग एवं औद्योगिक प्रदेश।
  6. राष्ट्रीय राजमार्ग परिवहन के साधन एवं व्यापार

राजस्थान का भूगोल – Rajasthan CET Syllabus 2022 In Hindi

  1. भूगर्भिक संरचना एवं भू-आकृतिक प्रदेश
  2. जलवायु दशाएं मानसून तत्र एवं जलवायु प्रदेश
  3. अपवाह तंत्र, झीले सागर बांध एवं जल संरक्षण तकनीक।
  4. प्राकृतिक वनस्पति।
  5. वन्य जीव-जन्तु एवं अभयारण्य
  6. मृदाएं
  7. रची एवं खरीफ की प्रमुख फसलें जनसंख्या वृद्धि, घनत्व, साक्षरता एवं लिंगानुपात
  8. प्रमुख जनजातियाँ
  9. धात्विक एवं अधात्विक खनिज पदार्थ।
  10. ऊर्जा संसाधन परम्परागत एवं गैर-परम्परागत
  11. पर्यटन स्थल
  12. यातायात के साधन राष्ट्रीय राजमार्ग रेल एवं वायुयान।

राजस्थान पर विशेष बल के साथ भारतीय राजनीतिक व्यवस्था

  1. भारतीय संविधान की प्रकृति प्रस्तावना (उद्देशिका) मौलिक अधिकार राज्य के नीति निर्देशक सिद्धान्त, मौलिक कर्तव्य संघीय ढांचा संवैधानिक संशोधन, आपातकालीन प्रावधान जनहित याचिका संविधान सभा भारतीय संविधान की विशेषताएं
  2. राष्ट्रपति प्रधानमंत्री एवं मंत्रिपरिषद् संसद, उच्चतम न्यायालय संघीय एवं राज्य कार्यपालिका, निर्वाचन आयोग, नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक, मुख्य सूचना आयुक्त, लोकपाल, मानवधिकार आयोग, स्थानीय स्वायत शासन एवं पंचायती राज राष्ट्रीय।
  3. राजस्थान की राजनीतिक एवं प्रशासनिक व्यवस्था, राज्यपाल, मुख्यमंत्री, राज्य विधानसभा उच्च न्यायालय राजस्थान लोक सेवा आयोग, जिला प्रशासन राज्य नानवधिकार आयोग लोकायुक्त, राज्य निर्वाचन आयोग राज्य सूचना आयोग

भारत की अर्थव्यवस्था

  1. बजट निर्माण, बैंकिंग, लोक वित्त वस्तु एवं सेवा कर राष्ट्रीय आय संवृद्धि एवं विकास का आधारभूत ज्ञान।
  2. राजकोषीय एवं मौद्रिक नीतियाँ
  3. सब्सिडी, लोक वितरण प्रणाली
  4. ई-कॉमर्स
  5. अर्थव्यवस्था के प्रमुख क्षेत्र कृषि, उद्योग, सेवा एवं व्यापार क्षेत्रों को वर्तमान स्थिति, मुद्दे एवं पहल
  6. हरित क्रान्ति, श्वेत क्रान्ति एवं नीली क्रान्ति । पंचवर्षीय योजनाएं एवं नियोजन प्रणाली
  7. प्रमुख आर्थिक समस्याएं एवं सरकार की पहल, आर्थिक सुधार एवं उदारीकरण।

राजस्थान की अर्थव्यवस्था

  1. राजस्थान की खाद्य व व्यावसायिक फसले कृषि आधारित उद्योग वृहद सिंचाई एवं नदी घाटी परियोजनायें चंजन भूमि व सूखा क्षेत्र विकास परियोजनायें इन्दिरा गांधी नहर परियोजना।
  2. उद्योगों का विकास व उनका स्थान, कृषि आधारित उद्योग, खनिज आधारित उद्योग, लघु कुटीर एवं ग्रामोद्योग, निर्यातः सामग्री, राजस्थानी हस्तकला
  3. गरीबी एवं बेरोजगारी अवधारणा प्रकार, कारण, निदान एवं वर्तमान फ्लैगशिप योजनाए सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता कमजोर वर्गों के लिए प्रावधान।
  4. विभिन्न कल्याणकारी योजनायें महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम (MNREGA). विकास संस्थायें सहकारी आन्दोलन, लघु उद्यम एवं वित्तीय संस्थायें, संविधान के 73वें संशोधन के अनुरूप पंचायती राज संस्थाओं की ग्रामीण विकास में भूमिका ।

विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी

  1. सूचना एवं संचार प्रौद्योगिकी रक्षा प्रौद्योगिकी अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी एवं उपग्रह
  2. विद्युत धारा, उष्मा, कार्य एवं कर्जा
  3. आहार एवं पोषण रक्त समूह एवं RH कारक
  4. पर्यावरणीय एवं पारिस्थितिकीय परिवर्तन एवं इनके प्रमाण जैव-विविधता प्राकृतिक संसाधनों का संरक्षण एवं संधारणीय विकास
  5. जन्तुओं एवं पादपों का आर्थिक महत्व
  6. कृषि विज्ञान, उद्यान-विज्ञान, यानिकी एवं पशुपालन राजस्थान के विशेष संदर्भ में विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विकास राजस्थान के विशेष संदर्भ में
  7. भौतिक एवं रासायनिक परिवर्तन अम्ल, क्षार एवं लवण, ब्लीचिंग पाउडर खाने का सोडा, प्लास्टर ऑफ पेरिस, साबुन एवं अपमार्जक।

तार्किक विवेचन एवं मानसिक योग्यता

  1. Making series/analogy.
  2. Figure matrix questions, Classification. Alphabet test.
  3. Passage and conclusions.
  4. Blood relations.
  5. Coding-decoding. Direction sense test.
  6. Sitting arrangement.
  7. Input output.
  8. Number Ranking and Time Square.
  9. Making judgments)
  10. Logical arrangement of words. Inserting the missing character/number.
  11. Mathematical operations, average, ratio,
  12. Area of Triangle, circle, Bilipse, Trapezium, rectangle, sphere, cylinder.
  13. Percentage.
  14. Simple and compound interest.
  15. Unitary Method.
  16. Profit & Loss.
  17. Average
  18. Ratio & Proportion.
  19. Volume of sphere, eylinder, cube, cone.

सामान्य हिंदी

  1. संधि और संधि विच्छेद
  2. संज्ञा, सर्वनाम, विशेषण, क्रिया, क्रियाविशेषण, कारक, अव्यय समास, मेद, सामासिक पदों की रचना विग्रह।
  3. उपसर्ग एवं प्रत्यय विलोम शब्द पर्यायवाची एवं अनेकार्थक शब्द।
  4. विराम चिह
  5. ध्वनि एवं उसका वर्गीकरण, पारिभाषिक शब्दावली (अंग्रेजी भाषा के पारिभाषिक शब्दों के समानार्थक शब्द) शब्द शुद्धि (अशुद्ध शब्दों का शुद्धिकरण )या शुद्धि (अशुद्ध वाक्यांश का शुद्धिकरण )
  6. मुहावरे एवं लोकोक्तियाँ
  7. राजभाषा हिन्दी संवैधानिक स्थिति पत्र एवं उसके प्रकार कार्यालयी पत्र के प्रारूप के विशेष सन्दर्भ में।

English – Rajasthan CET Syllabus 2022 In Hindi

  1. Use of Articles and Determiners
  2. Tense/sequence of Tenses
  3. Voice: Active and Passive Narration: Direct and Indirect
  4. Use of Prepositions
  5. Translation of Ordinary/Common English sentences into Hindi and vice-versa
  6. Synonyms and Antonyms
  7. Comprehension of a given passage
  8. Glossary of official, Technical terms (with their Hindi version) Letter writing: Official, Demi-official, Circulars and Notices.
  9. Idioms and Phrases

कम्प्यूटर

  1. Characteristics of Computers
  2. Computer Organization including RAM, ROM, File System, Input Devices, Computer
  3. Software- Relationship between Hardware & Software…
  4. Operating System
  5. MS-Office (Exposure of word, Excel/Spread Sheet, Power Point)

समसामयिक घटनाएं

  1. राजस्थान भारतीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय महत्व की प्रमुख समसामयिक घटनाएं एवं मुद्दे
  1. वर्तमान में चर्चित व्यक्ति, स्थान एवं संस्थाए 3. खेल एवं खेलकूद संबंधी गतिविधियां।

CET Rajasthan Syllabus 2022 PDF Download in Hindi

यदि आप Rajasthan CET Syllabus PDF Download करना चाहते हैं तो आप आधिकारिक वेबसाइट या फिर नीचे दिए गए लिंक के जरिए CET Rajasthan Syllabus 2022 PDF Download in Hindi कर सकते हैं।

  1. Rajasthan CET Syllabus 2022 PDF Download

Rajasthan CET Syllabus in Hindi से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण प्रश्न

यह परीक्षा कुल कितने अंकों के लिए आयोजित की जाएगी?

यह परीक्षा कुल 300 अंकों के लिए आयोजित की जाएगी।

क्या इस परीक्षा में नकारात्मक अंकन का प्रावधान है?

नहीं, इस परीक्षा में नकारात्मक अंकन का प्रावधान नहीं है।

इस परीक्षा की समयावधि क्या है?

यह परीक्षा 3 घंटे के लिए आयोजित की जाएगी।

इस परीक्षा में कुल कितने प्रश्न पूछे जाएंगे?

इस परीक्षा में कुल 150 प्रश्न पूछे जाएंगे, तथा प्रत्येक प्रश्न 2 (दो) अंकों का होगा।

आशा है आपको हमारे द्वारा Rajasthan CET Syllabus 2022 In Hindi तथा परीक्षा पैटर्न के बारे में दी गई जानकारी आपको पसंद आई होगी, और जानकारी के लिए आधिकारिक वेबसाइट पर विजिट करें।

  1. Cet clear karne k liye kitne number chahiye

    Reply
  2. Cet clear karne k liye kitne number chahiye

    Reply
  3. CET ke cut off keti rag

    Reply
  4. Cet clear. Karne k liye kitne no chahiye

    Reply
कमेन्ट करें