UPTET Exam 2023 – यूपी टीईटी क्या है? जानें योग्यता, परीक्षा की पूरी जानकारी

What Is UPTET: यदि आप उत्तर प्रदेश में अध्यापक बनने का सपना देख रहे हैं तो आपको सबसे पहले UPTET के बारे मेंं जानना अत्यंत ही आवश्यक है। यूपी टीईटी के बारे में साफ शब्दों में कहा जाए तो आप जब तक यूपी टीईटी की परीक्षा को पास नहीं करते हैं, तब तक आप उत्तरप्रदेश में सरकारी अध्यापक नहीं बन सकते हैं यानी यह एक प्रकार का एलिजिबिलिटी टेस्ट है, जिसे उत्तीर्ण करना बेहद ही जरूरी है।

इस योग्यता परीक्षा में कुल 2 पेपर होते हैं, पहला पेपर उन उम्मीदवारों के लिए होता है, जो कक्षा 1 से लेकर कक्षा 5 तक के स्कूलों में शिक्षक बनना चाहते हैं, और दूसरा पेपर उन उम्मीदवारों के लिए आयोजित किया जाता है, जो कक्षा 5 से लेकर कक्षा 8 तक के के शिक्षक बनना चाहते हैं, आज इस लेख में आपको उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा के बारे में सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त होगी। इसके अलावा उम्मीदवार इस परीक्षा की बेहतर तैयारी के लिए UPTET प्रैक्टिस सेट भी हल कर सकते हैं।

UPTET

UPTET Eligibility Criteria क्या है?

UPTET Eligibility Criteria / उत्तर प्रदेश टीचर एलिजिबिलिटी टेस्ट (UPTET) की पहले अगर उम्र सीमा की बात करें इसके लिए न्यूनतम आयु सीमा 18 वर्ष है, तथा अधिकतम की कोई सीमा तय नहीं की गई है, नीचे हमने इसके शैक्षिक योग्यता के बारे में विस्तार से जानकारी दी है-

प्राथमिक शिक्षक (कक्षा 1 से 5 तक)

  1. प्राथमिक शिक्षक बनने के लिए उम्मीदवार को मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से न्यूनतम 50% अंकों के साथ स्नातक की डिग्री और एनसीटीई / भारतीय पुनर्वास परिषद (आरसीआई) से 2 साल का डिप्लोमा (डी.एड)। या
  2. स्नातक की डिग्री और 2 साल बीटीसी, CT (नर्सरी) / नर्सरी टीचर ट्रेनिंग (एनटीटी) या
  3. विशेष बीटीसी प्रशिक्षण या में स्नातक की डिग्री या
  4. उत्तर प्रदेश में 2 साल और बीसीटी उर्दू विशेष प्रशिक्षण के साथ स्नातक की डिग्री होनी बेहद ही जरुरी है, अन्यथा उम्मीदवार इस परीक्षा में शामिल होने के योग्य नहीं माने जाएंगे।

उच्च प्राथमिक शिक्षक (कक्षा 6 से 8 तक)

  1. उच्च प्राथमिक शिक्षक बनने के लिए उम्मीदवार के पास नेशनल काउंसिल फॉर टीचर एजुकेशन (एनसीटीई) से मान्यता प्राप्त संस्थान से स्नातक की डिग्री और बीटीसी या
  2. भारतीय पुनर्वास परिषद (RCI) से न्यूनतम 50% अंकों के साथ स्नातक की डिग्री और B.Ed/B.Ed विशेष शिक्षा या
  3. न्यूनतम 50% अंकों के साथ इंटरमीडिएट (10+2) और एनसीटीई/यूजीसी से मान्यता प्राप्त संस्थान से 4 वर्षीय बीए/बीएससीईडी/बीएएड या
  4. न्यूनतम 50% अंकों के साथ इंटरमीडिएट (10+2) और प्राथमिक शिक्षा में 4 साल की डिग्री (बी.एल.एड) या
  5. न्यूनतम 45% अंकों के साथ स्नातक डिग्री और बीएड डिग्री होनी बेहद ही जरुरी है.

यूपी टेट परीक्षा की बात करें तो, यूपी बेसिक एजुकेशन बोर्ड (UPBEB), प्राइमरी टीचर और अपर प्राइमरी टीचर एग्जाम को आयोजित कराती है। इसकी आधिकारिक वेबसाइट updeled.gov.in पर जानकारी आपको प्राप्त हो जाएगी।

UPTET परीक्षा पैटर्न

यूपी टीईटी के सम्पूर्ण परीक्षा पैटर्न को हम तालिका के माध्यम से समझेंगे जो निम्नलिखित हैं-

  1. यूपी टीईटी की परीक्षा के सभी प्रश्न वस्तुनिष्ठ (Objective) प्रकार के होंगे तथा प्रत्येक प्रश्न के लिए 1 नंबर निर्धारित होगा।
  2. इस परीक्षा में किसी भी प्रकार की नेगवटिव मार्किंग नहीं होगी।
  3. प्रथम प्रश्न पत्र ऐसे व्यक्ति के लिए होगा जो 1 से 5 तक के लिए शिक्षक बनना चाहते हैं।
  4. द्वितीय प्रश्न पत्र ऐसे व्यक्ति के लिए होगा जो 6 से 8 तक के लिए शिक्षक बनना चाहते हैं।
  5. जो व्यक्ति 1 से 5 और 6 से 8 दोनों के शिक्षक बनना चाहते हैं उन्हें दोनों पेपरों में शामिल होना पड़ेगा।
  6. दोनों प्रश्नपत्रों की परीक्षा की अवधि 2:30 घंटे की होगी तथा प्रश्नो की संख्या 150 होगी।

उम्मीद है, आपको यूपी टीईटी परीक्षा पैटर्न की जानकारी समझ में आई होगी, नीचे तालिका के माध्यम से आप और भी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं, और परीक्षा की तैयारी अच्छे ढंग से करके UPTET Cut Off को प्राप्त कर सकते हैं, और उसके बाद यूपीटेट सर्टिफिकेट प्राप्त कर सकते हैं।

UPTET Paper-1 का परीक्षा पैटर्न

विषयप्रश्नों की संख्याअंक
बाल विकास3030
भाषा प्रथम- हिंदी3030
भाषा द्वितीय- अंग्रेजी/ उर्दू/ संस्कृत3030
गणित3030
पर्यावरण अध्यन3030
कुल150150

UPTET Paper-2 परीक्षा पैटर्न

विषयप्रश्नों की संख्याअंक
बाल विकास3030
भाषा प्रथम- हिंदी3030
भाषा द्वितीय- अंग्रेजी/ उर्दू/ संस्कृत3030
गणित & विज्ञान & सामाजिक विज्ञान6060
कुल150150

हमने इस लेख के द्वारा यूपी टीईटी की तैयारी कर रहे अभ्यर्थियों को आयु सीमा के साथ – साथ इसके परीक्षा पैटर्न को भी पूरी तरह से समझाने का प्रयास किया है, साथ ही आप ज्यादा जानकारियों हेतु इसके सिलेबस को भी विस्तारपूर्वक पढ़ सकते हैं।

यूपी टीईटी की बेहतरीन तैयारी के लिए उम्मीदवार UP TET प्रैक्टिस सेट और पिछले साल के प्रश्नपत्रों को जरूर हल करें।

UPTET Validity 2023

उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा की वैधता अब माननीय योगी आदित्यनाथ के द्वारा बढ़ाकर आजीवन कर दी गई है, ऐसे में अब जो उम्मीदवार एक बार यूपीटेट परीक्षा उत्तीर्ण कर लेंगे उन्हें कुछ सालों के बाद यूपीटेट परीक्षा में फिर से शामिल होने की जरूरत नहीं है, पहले UPTET Validity सिर्फ 5 सालों तक ही वैध था. हालाँकि उम्मीदवार अपने अंक को बढ़ाने के लिए जितनी बार चाहें उतनी बार इस परीक्षा में शामिल हो सकते हैं.

UPTET FAQs

UPTET की आधिकारिक वेबसाइट क्या है?

UPTET की आधिकारिक वेबसाइट https://updeled.gov.in/ है, उम्मीदवार रजिस्ट्रेशन के लिए इस आधिकारिक वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं.

UPTET Notification 2023 कब जारी होगा?

UPTET Notification 2023 के बारे में अभी तक कोई भी आधिकारिक नोटिस जारी नहीं हुई है, लेकिन मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो यह मार्च महीने तक जारी हो सकती है, ज्यादा जानकारियों के लिए आप हमारा यह लेख पढ़ सकते हैं.

UPTET का फुल फॉर्म क्या है?

UPTET का फुल फॉर्म Uttar Pradesh Teacher Eligibility Test है, यह एक प्रकार की शिक्षक पात्रता परीक्षा है, जो उम्मीदवारों के शिक्षण की योग्यता को परखने के लिए आयोजित की जाती है।

कमेन्ट करें