UPTET Exam Date 2021 : शिक्षक बनने की राह देख रहे 21 लाख से ज्यादा अभ्यर्थी मायूस, जानें कारण

UPTET Exam Date 2021 : उत्तर प्रदेश प्रशिक्षण परीक्षा नियामक इस साल 28 नवंबर के दिन UPTET की परीक्षा आयोजित करवाने वाला था लेकिन पेपर के लीक हो जाने के बाद यह परीक्षा रद्द कर दी गयी। इस वजह से UPTET के अभ्यर्थियों में काफी निराशा है।

आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश बेसिक शिक्षा बोर्ड की ओर से आयोजित होने वाली यूपीटीईटी की परीक्षा साल 2021 की शुरुआत में होनी थी। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक साल 2020 में राज्य में शिक्षक भर्ती के लिए आयोजित नहीं हो पाई यूपीटीईटी परीक्षा इस साल की शुरुआत में होनी थी लेकिन कोरोना के डेल्टा वेरिएंट की वजह कारण से इसे टाल दिया गया।

UPTET Exam Date 2021

इसी साल अक्टूबर में शुरू हुआ था रजिस्ट्रेशन

जुलाई में स्थगित होने वाली UPTET परीक्षा के लिए अक्टूबर में रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया शुरू हुई थी। इसके अनुसार 25 अक्टूबर तक आवेदन प्रक्रिया चली और शुल्क भुगतान करने की अंतिम तिथि 27 अक्टूबर थी। और 28 नवंबर, 2021 को परीक्षा आयोजित करने का फैसला हुआ हालांकि परीक्षा नहीं हो पाई।

UPTET पेपर ही हो गया लीक

28 नवंबर को यूपीटीईटी की परीक्षा दो पालियों में होनी थी, पहली पाली सुबह 10 से 12.30 बजे के बीच प्राथमिक स्तर (1 से 5 तक) और दूसरी पाली में दोपहर 2.30 से 5 बजे के बीच उच्च प्राथमिक स्तर (6 से 8 तक के लिए) की परीक्षा होनी थी। इसके लिए कुल 4268परीक्षा केंद्र बनाए गए थे। इसमें प्राथमिक स्तर में 1291628 और जूनियर स्तर में 873553 अभ्यर्थी को शामिल होना था। पहली पाली की परीक्षा होने से पहले ही खबर आई कि परीक्षा का पेपर लीक हो चुका है।

अब आयोग द्वारा परीक्षा की नई तिथियां जारी की जाएंगी तब जाकर कहीं परीक्षा होगी। ऐसे में लगता है यह साल भी उम्मीदवारों का ऐसे हो गुजर जाएगा।

क्या भारत की शिक्षा व्यवस्था में सुधार हुआ चाहिए? अपनी राय कमेंट में जरूर दें और ऐसी ही जानकरियों के लिए सरकारी अलर्ट को बुकमार्क करें।

  1. Sarkar nahi cahti ki berojgari kam h aur hamjage barna paper out hona bina sarkar ke asmbh h ye inke karni aur kathni me antar h

    Reply
  2. bjp सरकार में सिर्फ बातें आती है चूतिया बनाना आता है सरकार को लेकिन नोकरी नही आती है

    Reply
  3. Main D. El.Ed. 2017 ka student hu 3-3 bar UPTET CTET nikl chuka hai. Mere dekhte dekhte kitne judge kitne army chief kitne election chief badal gye but primary vacency ka kuch idea nhi hai.
    Goverment education ko primary manti hi nhi hai tbhi lakho gariib bachho k future k sath khel rhi hai.
    Ab main d.el.ed. karne k bad manrega m job karu ya to galat kam karke rupye earn karu.
    Aisi condition me ab mere jaise aur student kya kare. Hmare jaiso ki 21 lakh popution aur hr family m 3 log to honge hi. 21*3=63 lakh votes. Ab goverment decide kare

    Reply
  4. To kya kae sir ji jan laga ke mehanat karate hai ham log aur kuchh thekedar shiksha mafiyao ki vajah se barbad hobjate hai ham log

    Reply
Leave a Comment