UPTET/CTET बाल विकास एवं शिक्षा शास्त्र प्रैक्टिस सेट 48 : परीक्षा में शामिल होने से पहले इन 30 महत्वपूर्ण प्रश्नों का कर लें अध्ययन

UPTET/CTET Child Development And Pedagogy Practice Set 48 : CTET की परीक्षा शुरू हो चुकी है और यह परीक्षा 13 जनवरी 2022 तक चलने वाली है। इस परीक्षा की तैयारी के लिए अभ्यर्थियों नें बहुत ही मेहनत किया था और अभी जिनकी परीक्षा बाकी है वो इसकी तैयारी के लिए अपने पूरे जी जान से लगे हुए हैं। UPTET की परीक्षा 28 नवंबर को आयोजित होनी थी लेकिन पेपर लीक हो जाने के वजह से पूरी परीक्षा प्रक्रिया को बीच मे ही रद्द करना पड़ा, अब इसकी परीक्षा 23 जनवरी 2022 को आयोजित कराई जानी है।

ऐसे में इस लेख के जरिये हम आपको UPTET/CTET के परीक्षा में पूछे गए विगत वर्षों के बाल विकास एवं शिक्षा शास्त्र के 30 महत्वपूर्ण प्रश्नों से अवगत कराएंगे, जिसका अध्ययन कर के आप अपनी तैयारी को और भी मजबूती प्रदान कर सकतें हैं।

UPTET/CTET Child Development And Pedagogy Practice Set 48
UPTET/CTET Child Development And Pedagogy Practice Set 48

UPTET/CTET Child Development And Pedagogy Practice Set 48

प्रश्न : एक बालक किसी कहानी के अनेक शीर्षक बताता है। उसमें योग्यता है।

  • वैचारिक प्रवाह की
  • साहचर्य प्रवाह की
  • अभिव्यक्ति प्रवाह की
  • शब्द प्रवाह की

उत्तर : 1

प्रश्न : डिसफेजिया है

  • लेखन में समस्या
  • गणना में समस्या
  • पठन में समस्या
  • भाषायी असामान्यता

उत्तर : 4

प्रश्न : ‘संज्ञान’ जानने की प्रक्रिया है, जिसमें सम्मिलित नहीं है

  • सोचना
  • समझना
  • शेखी बघारना
  • समस्या समाधान

उत्तर : 3

प्रश्न : श्रवण बाधितों के लिए कक्षा-कक्ष व्यवस्था का कौन-सा आकार सबसे ज्यादा प्रभावशाली है?

  • वर्गाकार
  • वृत्ताकार
  • आयताकार
  • अर्ध वृत्ताकार

उत्तर : 4

प्रश्न : कौन-सी अधिगम विशेषता मानसिक मन्द बालक की नहीं है?

  • धीमी गति से सीखना
  • शीघ्र भूलना
  • सामान्यीकरण की क्षमता
  • अनुकरण से सीखना

उत्तर : 3

प्रश्न : दृष्टि बाधितों के लिए एकीकृत शिक्षा का उद्देश्य है

  • सामाजिक एकीकरण
  • सामाजिक मान्यता
  • 1 और 2 दोनों
  • इनमें से कोई नहीं

उत्तर : 3

प्रश्न : निम्नलिखित में से कौन-सा सिद्धान्त संज्ञानात्मक विकास की चार प्रमुख अवस्थाओं का प्रतिपादन करता है?

  • पियाजे का संज्ञानात्मक विकास का सिद्धान्त
  • वाइगोत्स्की का सामाजिक विकास का सिद्धान्त
  • कोह्रबर्ग का संज्ञानात्मक विकास का सिद्धान्त
  • बैण्ड्ररा का सामाजिक सीखने का सिद्धान्त

उत्तर : 1

प्रश्न : कौन-सी निम्नांकित गतिविधि स्थानिक बुद्धि से सम्बन्धित है?

  • मौखिक अनुनय
  • एक जटिल उपकरण को इकट्ठा करना
  • परिकल्पना का विकास तथा परीक्षण
  • भाँप लेना की कब विनम्र होना है

उत्तर : 3

प्रश्न : मंद बुद्धि बालकों हेतु कौन-सी अभिप्रेरण प्रविधि अधिक उपयोगी होगी?

  • पुरस्कार एवं प्रशंसा
  • निन्दा
  • दण्ड
  • चुनौती

उत्तर : 1

प्रश्न : निम्नलिखित में से कौन-सा कथन अधिगम को स्पष्ट रूप से परिभाषित करता है?

  • अधिगम प्रक्रिया तथा परिणाम है।
  • अधिगम एक सतत प्रक्रिया है।
  • अधिगम व्यवहार परिवर्तन की प्रक्रिया है।
  • उपरोक्त सभी

उत्तर : 4

प्रश्न : निम्नलिखित में से कौन-सी शिक्षण विधि नहीं है?

  • प्रश्नोत्तर विधि
  • साक्षात्कार विधि
  • ब्रेन स्टॉर्मिंग विधि
  • अन्वेषण विधि

उत्तर : 2

प्रश्न : निम्नलिखित में से शिक्षण के सूत्र कौन-से हैं?
(i) ज्ञात से अज्ञात की ओर
(ii) स्थूल से सूक्ष्म की ओर
(iii)सरल से जटिल की ओर
(iv) पूर्ण से अंश की ओर

  • i और iii
  • ii, iii और iv
  • i और iv
  • ये सभी

उत्तर : 4

प्रश्न : निम्नलिखित विशेषताओं में से कौन-सी विशिष्ट बालको की विशेषता नहीं है?

  • वे अपनी आयु के अधिकांश बच्चों से अधिक जल्दी व स्वतन्त्र रूप से सीखते हैं।
  • उनका शब्दकोश अधिक विकसित होता है तथा उनके पढ़ने व लिखने के कौशल अधिक उन्नत होते हैं।
  • वे स्वयं को सामान्य उपलब्धि के मानकों से ऊपर नहीं रखते हैं।
  • वे चुनौतीपूर्ण व कठिन कार्यों में बहुत अभिप्रेरित रहते हैं।

उत्तर : 3

प्रश्न : निम्नलिखित में से कौन शिक्षण कौशलों की विशेषता नहीं है?

  • शिक्षण कौशल शिक्षक क्रियाओं अथवा व्यवहारों से सम्बन्धित होते हैं।
  • शिक्षण कौशल छात्रों के सीखने में सहायता एवं सुगमता प्रदान करते हैं।
  • शिक्षण कौशल कक्षा शिक्षण व्यवहार की सभी इकाइयों से सम्बन्धित होते हैं।
  • शिक्षण कौशल शैक्षिक विशिष्ट उद्देश्यों को प्राप्त करने में सहायक होते हैं।

उत्तर : 3

प्रश्न : निम्नलिखित में से कौन-सा कथन शिक्षण की प्रकृति की सटीक व्याख्या नहीं करता है?

  • शिक्षण एक अन्तःक्रिया है।
  • शिक्षण कला और विज्ञान दोनों ही है।
  • शिक्षण एक विकासात्मक प्रक्रिया है।
  • शिक्षण केवल शिक्षक के लिए ही उपयोगी है।

उत्तर : 4

प्रश्न : निम्नलिखित में से कौन-से कारक व्यक्तित्व को प्रभावित करते हैं?
(i) दैहिक या वंशानुक्रम सम्बन्धी कारक
(ii) मनोवैज्ञानिक कारक
(iii) पर्यावरणीय कारक
(iv) प्रयोगात्मक कारक

  • i और ii
  • i, iii और iv
  • i, ii और iii
  • ii और iv

उत्तर : 2

प्रश्न : शिक्षा मनोविज्ञान का ज्ञान एक शिक्षक के लिए आवश्यक है, क्योंकि यह

  • नवीन शिक्षण तकनीकियों का ज्ञान प्रदान करता है।
  • समस्त शैक्षिक समस्याओं का सफलतापूर्वक समाधान करने में सहायता करता है।
  • मूल्यांकन की नवीन तकनीकियों को सीखने में शिक्षक की सहायता करता है।
  • शिक्षक को स्वयं को समझने में सहायता करता है।

उत्तर : 2

प्रश्न : वृद्धि और विकास की प्रक्रियाओं के सन्दर्भ में कौन-सी बात सही है?

  • दोनों प्रक्रियाएँ प्राकृतिक हैं।
  • वृद्धि प्राकृतिक प्रक्रिया है तथा विकास में बाह्य कारक की आवश्यकता होती है।
  • यदि वृद्धि सन्तोषजनक है तो विकास स्वत हो जाता है।
  • दोनों प्रक्रियाएँ बिना बाह्य हस्तक्षेप के साथ-साथ चलती हैं।

उत्तर : 2

प्रश्न : कोहबर्ग के नैतिक विकास सम्बन्धी सिद्धान्त के अन्तर्गत निम्नलिखित में से कौन-सी बात उस सिद्धान्त की एक अवस्था नहीं है?

  • संवेदी प्रेरक
  • प्राक् रूढ़िगत
  • रुढ़िगत
  • पश्च- रूढ़िगत

उत्तर : 1

प्रश्न : एक छात्र गणित के प्रश्न करते हुए एक प्रश्न पर अटक गया। कुछ समय सोचने के बाद अचानक उसे युक्ति सूझी तथा समस्या हल हो गई। इस प्रकार के अधिगम को कहते हैं

  • सक्रिय अनुबन्धन
  • सूझ द्वारा अधिगम
  • क्लासिकीय अनुबन्धन
  • श्रेणीबद्ध प्रविधि

उत्तर : 2

प्रश्न : विद्यार्थियों में पाई जाने वाली ‘अधिगम शैलियों में भिन्नता के कारण हो सकते हैं

  • विद्यार्थी के समाजीकरण की प्रक्रिया
  • विद्यार्थी द्वारा अपनाई जाने वाली चिन्तन की युक्तियाँ
  • परिवार का आर्थिक स्तर
  • बालक का पालन पोषण

उत्तर : 2

प्रश्न : व्यक्तित्व के विकास में विरासत तथा परिवेश की भूमिका के सम्बन्ध में निम्नलिखित में से कौन-सी बात सही है?

  • अच्छी विरासत, बुरे परिवेश की क्षतिपूर्ति कर सकती है
  • अच्छा परिवेश, बुरी विरासत की क्षतिपूर्ति कर सकता है।
  • विरासत तथा परिवेश का योगदान बराबर होता है।
  • बुरा परिवेश, अच्छी विरासत को दबा सकता है।

उत्तर : 2

प्रश्न : निम्नलिखित में से किसने बौद्धिक विकास को आयु से सम्बन्धित बताया है?

  • जेरौम एस ब्रेनर
  • डेविड आसुबेल
  • हिल्डा ताबा
  • जीन पियाजे

उत्तर : 4

प्रश्न : किसी वयस्क के आक्रामक व्यवहार को देखने मात्र बच्चे आक्रमकता सीख लेते हैं। यह विचार किसका है?

  • ऑलपोर्ट
  • केटल
  • डोलार्ड और मिलर
  • बांदुरा और उसके साथी

उत्तर : 4

प्रश्न : निम्नलिखित में कौन-सी मानसिक स्वास्थ्य की योग्यता नहीं है ?

  • सन्तुलित, एकीकृत तथा समन्वित विकास
  • वास्तविकता की स्वीकृति
  • शेखी बघारना
  • नियमित दिनचर्या

उत्तर : 3

प्रश्न : उच्च स्तरीय ज्ञानात्मक कौशलों का विकास करने में निम्नलिखित में से कौन-सा सर्वाधिक उपयुक्त है?

  • व्याख्या निदर्शन
  • चर्चा सत्र
  • भूमिका अभिनय
  • खोज अधिगम

उत्तर : 3

प्रश्न : NIVH सम्बन्धित है

  • दृष्टि बाधितों से
  • श्रवण बाधितों से
  • अस्थि बाधितों से
  • मानसिक बाधितों से

उत्तर : 1

प्रश्न : पूर्व- भाषायी बधिरता होती है।

  • भाषा-अर्जन से पूर्व
  • जन्म से
  • भाषा-अर्जन के उपरान्त
  • इनमें से कोई नहीं

उत्तर : 2

प्रश्न : विद्यार्थियों में समस्या समाधान योग्यता के पोषण का एक महत्त्वपूर्ण तरीका है

  • विमर्शक अभिवृत्ति निर्माण को उत्प्रेरित करना।
  • उन समस्याओं पर बल देना जो उनके लिए वास्तविक हैं।
  • औपचारिक तर्कणा तकनीक का प्रशिक्षण देना।
  • सर्वमान्य उत्तर देने या स्वीकार करने से इन्कार करना।

उत्तर : 1

प्रश्न : पाठ्यक्रम से भाव है

  • विद्यार्थी द्वारा स्कूल में प्राप्त किए गए सभी अनुभव
  • विषय जिन्हें अध्यापक वर्ग द्वारा पढ़ाया गया।
  • कोर्स के लिए निर्धारित पाठ्यक्रम।
  • कक्षा अनुभव, खेल और क्रीड़ाएँ।

उत्तर : ??

इस प्रश्न का सही उत्तर क्या होगा? हमें अपना जवाब कमेंट सेक्शन में जरूर दें।

आशा है आपको यह प्रैक्टिस सेट पसंद आया होगा, सरकारी परीक्षाओं से जुड़ी हर जानकरियों हेतु सरकारी अलर्ट को बुकमार्क जरूर करें।