UPTET / CTET बाल विकास एवं शिक्षा शास्त्र प्रैक्टिस सेट 17 : परीक्षा में जानें से पहले इन 30 प्रश्नों का करें अध्ययन

विज्ञापन

UPTET/CTET Child Development And Pedagogy Practice Set 17 : CTET की परीक्षाएं 16 दिसम्बर 13 जनवरी तक चलने वाली हैं जिसके लिए अभ्यार्थी कई महीनों से अपनी तैयारियों में लगे हुए हैं। तथा UPTET की परीक्षा भी इसके बाद होने की संभावना है। फ़िलहाल तैयारी का अंतिम समय चल रहा है, ऐसे में अभ्यार्थियों को नीचे दिए गए UPTET / CTET Child Development And pedagogy Practice Set 17 को जरूर हल करना चाहिए, जिससे वे अपनी तैयारी को और भी मजबूत कर सकते हैं।

विज्ञापन

ऐसे मे इस लेख के जरिये हम आपको UPTET/ CTET के परीक्षा मे पुछे गए विगत वर्षो के 30 महत्वपूर्ण बाल विकास एवं शिक्षा शास्त्र के प्रश्नो और उनके उत्तरो से अवगत कराएंगे, जिसका अधध्ययन आप अवश्य करें।

UPTET/CTET Child Development And Pedagogy Practice Set
UPTET/CTET Child Development And Pedagogy Practice Set

UPTET/CTET Child Development And Pedagogy Practice Set 17

प्रश्न : सी. डब्ल्यू. एस. एन. का अर्थ है

  • विशिष्ट आवश्यकता वाले बच्चे
  • मजबूत आवश्यकता वाले बच्चे
  • एकांगी आवश्यकता वाले बच्चे
  • मृदु आवश्यकता वाले व्यक्ति

उत्तर : 1

विज्ञापन

प्रश्न : निम्न में से कौन-सा परामर्श का एक तत्त्व नहीं है

  • वृत्तिक वृद्धि
  • साक्षात्कार
  • विश्वास
  • सम्प्रेषण

उत्तर : 1

प्रश्न : मनोविज्ञानशाला, उत्तर प्रदेश कहाँ स्थित है

  • आगरा
  • इलाहाबाद
  • लखनऊ
  • वाराणसी

उत्तर : 3

प्रश्न : जो सम्बन्ध स्किनर का चूहों से एवं थॉर्नडाइक का बिल्लियों से था, वही सम्बन्ध कोहलर का था

  • बंदरों से
  • मुर्गियों से
  • कुत्तों से
  • वनमानुषों से

उत्तर : 4

प्रश्न : अधिगम का पठार है

  • अधिगम की समाप्ति
  • अधिगम में अवरुद्ध वर्द्धन
  • अधिगम में दोष
  • अधिगम में अवरोध

उत्तर : 2

विज्ञापन

प्रश्न : संकलनात्मक परामर्श के जन्मदाता हैं

  • विलियम्सन
  • थॉर्न
  • रोजर्स
  • इनमें से कोई नहीं

उत्तर : 2

प्रश्न : छात्र के अवांछित व्यवहार के संशोधन हेतु सबसे प्रभावी विधि है

  • उसे माता-पिता को सूचित करना
  • छात्र को दण्डित करना
  • उसे नजरन्दाज करना
  • अवांछित व्यवहार के कारणों का पता लगाना तथा उपचारों का सुझाव देना

उत्तर : 4

प्रश्न : डिस्लेक्सिया संबंधित है

  • लेखन संबंधी समस्या से
  • पढ़ने संबंधी समस्या से
  • गणितीय कौशल संबंधी समस्या से
  • वाक्-क्षमता संबंधी विकार से

उत्तर : 2

प्रश्न : ब्रेल लिपि एवं टेप- रिकॉर्डिंग किसके लिए शैक्षिक प्रावधान के रूप में प्रयुक्त किये जा सकते हैं

  • श्रवणबाधित विद्यार्थी
  • दृष्टिबाधित विद्यार्थी
  • अस्थिबाधित विद्यार्थी
  • शारीरिक रूप से विकलांग विद्यार्थी

उत्तर : 2

प्रश्न : द बिहेवियर ऑफ ऑर्गेनिम्स’ नामक पुस्तक के लेखक हैं- “

  • पैवलव
  • स्किनर
  • हल
  • थॉर्नडाइक

उत्तर : 2

प्रश्न : निम्न में से कौन-सी कक्षा शिक्षण में जनतांत्रिक शिक्षण नीति नहीं है

  • अन्वेषण
  • व्याख्यान
  • मस्तिष्क उद्वेलन
  • योजना

उत्तर : 2

विज्ञापन

प्रश्न : निम्न में से कौन-सी समावेशी शिक्षा की एक विशेषता नहीं है

  • समावेशी शिक्षा एक सतत प्रक्रिया है, यह कोई उपार्जित अवस्था या उत्पाद नहीं है
  • यह केवल विशेष आवश्यकता वाले छात्रों के सीखने में अभिवृद्धि करती है
  • यह दिव्यांग बालकों की देखभाल से उनकी शिक्षा और व्यक्तिगत विकास की ओर सेवा में बदलाव है
  • यह सभी विद्यार्थियों की क्षमताओं को अधिकतम स्तर तक बढ़ाना चाहती है

उत्तर : 2

प्रश्न : निम्न में से कौन-सा फ्लैण्डर की अन्तः क्रिया विश्लेषण प्रणाली से सम्बन्धित नहीं है

  • शिक्षक कथन
  • अभिभावक कथन
  • छात्र कथन
  • मौन

उत्तर : 2

प्रश्न : सम्भाषण में अर्थ की लघुतम इकाई है

  • ध्वनिग्राम
  • पद
  • रूपग्राम
  • शब्द

उत्तर : 3

प्रश्न : छात्रों में सही व्यवहार के प्रशिक्षण हेतु सर्वाधिक महत्वपूर्ण क्या है

  • पुरस्कार
  • प्रशंसा
  • दण्ड
  • सही व्यवहार का प्रस्तुतीकरण

उत्तर : 4

प्रश्न : समस्या समाधान में लक्ष्य प्रवणता’ के सम्प्रत्यय को किसने प्रस्तावित किया था

  • कोहलर
  • हल
  • केन्डलर
  • ब्रिक

उत्तर : 2

प्रश्न : इनमें से कौन-सा शिक्षण की विचारधारा से सम्बन्धित नहीं है

  • डी. डब्ल्यू. एलेन
  • बुश
  • डेविड ह्यूम
  • एचीसन

उत्तर : 3

विज्ञापन

प्रश्न : निम्न में से कौन-सा शिक्षण अधिगम का स्तर नहीं है

  • स्मृति स्तर
  • अवबोध स्तर
  • परावर्ती स्तर
  • दूरवर्ती स्तर

उत्तर : 4

प्रश्न : “हम करके सीखते हैं।” किसने कहा था

  • डॉ. मेस
  • योकम
  • सिम्पसन
  • कोलेसनिक

उत्तर : 1

प्रश्न : निम्न में से कौन-सा शिक्षण का स्तर नहीं है

  • स्मृति
  • बोध
  • चिन्तन
  • वर्णन

उत्तर : 4

प्रश्न : शिक्षण की अन्तः क्रियात्मक अवस्था में मुख्य संक्रिया होती है

  • क्रिया और प्रतिक्रिया की
  • निदान की
  • प्रत्यक्षीकरण की
  • उपर्युक्त सभी

उत्तर : 4

प्रश्न : एक बालक काली गाय, काला कुत्ता तथा काली वस्तुओं को देखकर डरने लगता है। इस प्रकार के अनुबंधन में निहित है

  • अनुक्रिया सामान्यीकरण
  • अनुक्रिया अनुबंधन
  • उद्दीपक सामान्यीकरण
  • उपर्युक्त में से कोई नहीं

उत्तर : 3

प्रश्न : सीखना एक तरह के व्यवहार का

  • संशोधन हैं
  • बचाव है
  • प्रसार है
  • विस्तार है

उत्तर : 1

विज्ञापन

प्रश्न : स्किनर बॉक्स का प्रयोग किया जाता है

  • चालक अधिगम के लिए
  • शाब्दिक अधिगम के लिए
  • प्रसूत अनुबंधन के लिए
  • आकस्मिक अधिगम के लिए

उत्तर : 3

प्रश्न : बुद्धिमापन की भाटिया बैटरी परीक्षण में है

  • 4 उप-परीक्षण
  • 8 उप-परीक्षण
  • 5 उप-परीक्षण
  • 7 उप-परीक्षण

उत्तर : 3

प्रश्न : शिक्षण विधि का चयन करते समय निम्न में से किसको ध्यान में रखने की आवश्यकता नहीं है

  • विद्यार्थियों का मानसिक स्तर
  • व्यक्तिगत भेद
  • अभिभावक की पृष्ठभूमि
  • विषय की विशिष्ट प्रकृति

उत्तर : 3

प्रश्न : निम्न में से कौन-सी बाल्यावस्था की एक विशेषता नहीं है

  • अभिवृद्धि में स्थिरता
  • सामूहिकता की प्रबलता
  • जिज्ञासा की कमी
  • समूह एवं खेलों में सहभागिता

उत्तर : 3

प्रश्न : निम्न में से कौन-सा सृजनात्मक प्रक्रिया से सम्बन्धित नहीं है

  • आयोजन
  • उद्भवन
  • अभिप्रेरण
  • प्रबोधन

उत्तर : 3

विज्ञापन

प्रश्न : निम्न में से कौन-सा बुद्धि और विकास का प्रथम
चरण है

  • नैतिक विकास
  • सामाजिक विकास
  • शारीरिक विकास
  • मानसिक विकास

उत्तर : 3

प्रश्न : भारतीय संविधान के किस अनुच्छेद में 6-14 आयु वर्ग के बच्चों के लिए निःशुल्क व अनिवार्य शिक्षा का अधिकार शामिल किया गया है?

  • अनुच्छेद 26
  • अनुच्छेद 45
  • अनुच्छेद 15
  • अनुच्छेद 21A

उत्तर : ??

इस प्रश्न का सही उत्तर क्या होगा? हमें अपना जवाब कमेंट सेक्शन में जरूर दें।

आशा है आपको यह प्रैक्टिस सेट पसंद आया होगा, सरकारी परीक्षाओं से जुड़ी हर जानकरियों हेतु सरकारी अलर्ट को बुकमार्क जरूर करें।

विज्ञापन
Leave a Comment

106 thoughts on “UPTET / CTET बाल विकास एवं शिक्षा शास्त्र प्रैक्टिस सेट 17 : परीक्षा में जानें से पहले इन 30 प्रश्नों का करें अध्ययन”