UPTET 2021 बाल विकास प्रैक्टिस सेट 4 : परीक्षा में शामिल होने से पहले, इन प्रश्नों को जरूर पढ़ें

विज्ञापन

UPTET Child Development Questions : उत्तर प्रदेश प्रशिक्षण परीक्षा नियामक जल्द ही UPTET की परीक्षा आयोजित करने वाला है, ऐसे में इसके लिए आयोग ने 19 नवंबर 2021 को एडमिट कार्ड भी जारी कर दिया है। इस परीक्षा में सफल होने के लिए उम्मीदवार तैयारियों में जुटे हैं।

विज्ञापन

ऐसे में आज हम इस लेख के जरिए आपको बाल विकास (Child Development) विषय से जुड़े 30 महत्वपूर्ण प्रश्नों से अवगत कराएंगे, जो इस साल यूपीटीईटी की परीक्षा के लिहाज से बेहद ही जरूरी हैं।

UPTET Child Development Questions
UPTET Child Development Questions

UPTET 2021 बाल विकास प्रैक्टिस सेट 4 – 30 प्रश्न

प्रश्न. निम्न में से कौन-सी शिक्षा मनोविज्ञान की सर्वाधिक व्यक्तिनिष्ठ विधि है?

  • अन्तर्दर्शन
  • बहिदर्शन
  • अवलोकन
  • प्रयोगीकरण

उत्तर : 1

विज्ञापन

प्रश्न. निम्नलिखित में से कौन-सा विकल्प शिक्षा मनोविज्ञान की एक सीमा है?

  • बाल विकास की विभिन्न अवस्थाओं का ज्ञान
  • कक्षा की समस्याओं का समाधान
  • बालक केन्द्रित शिक्षा
  • वैयक्तिक विभिन्नताओं की समस्या

उत्तर : 4

प्रश्न. बाल मनोविज्ञान के अनुसार शिक्षा के क्षेत्र में मुख्य स्थान है

  • बालक का
  • अध्यापक का
  • अभिभावक का
  • प्रशासक का

उत्तर : 1

प्रश्न. मनोविज्ञान का शिक्षा के क्षेत्र में सबसे बड़ा योगदान है

  • विषय केन्द्रित शिक्षा
  • शिक्षक केन्द्रित शिक्षा
  • क्रिया केन्द्रित शिक्षा
  • बाल केन्द्रित शिक्षा

उत्तर : 4

प्रश्न. मनोविज्ञान प्रारम्भ में किस विषय का अंग था?

  • दर्शनशास्त्र
  • तर्कशास्त्र
  • नीतिशास्त्र
  • भौतिकी

उत्तर : 1

विज्ञापन

प्रश्न. ‘मनोविज्ञान ने सर्वप्रथम अपनी आत्मा का परित्याग किया, फिर अपने मन का और फिर अपनी चेतना का, अभी वह एक प्रकार के व्यवहार को संजोए है” कथन था।

  • टिचनर का
  • वुण्ट का
  • वुडवर्थ का
  • मैक्डूगल का

उत्तर : 3

प्रश्न. प्रयोगात्मक विधि को सर्वप्रथम प्रस्तावित किया

  • जुड ने
  • राइस एवं कार्नमैन ने
  • विलहेल्म वुन्ट ने
  • कोलिन्स व ड्रेवर ने

उत्तर : 3

प्रश्न. प्रारम्भ में आत्मा का प्रयोग किस शास्त्र में किया जाता था?

  • अर्थशास्त्र
  • दर्शनशास्त्र
  • समाजशास्त्र
  • शिक्षाशास्त्र

उत्तर : 2

प्रश्न. 1882 ई. में किस मनोवैज्ञानिक द्वारा लन्दन में मानवीय विशेषताओं का अध्ययन करने के लिए प्रयोगशाला का निर्माण किया गया?

  • कैटेल
  • अल्फ्रेड बिने
  • गाल्टन
  • वुडवर्थ

उत्तर : 3

प्रश्न. शिक्षा मनोविज्ञान का अध्ययन अध्यापक को इसलिए करना चाहिए क्योंकि

  • इससे शिक्षक को आत्म-सन्तुष्टि मिल सके
  • इससे वह दूसरों को प्रभावित कर सके
  • इससे वह अपनी परीक्षाओं में प्रथम आ सके
  • इसकी सहायता से अपने शिक्षण को अधिक प्रभावशाली बना सके।

उत्तर : 4

प्रश्न. एक शिक्षक को अपने विद्यार्थियों की क्षमताओं को समझने का प्रयास करना चाहिए। निम्नलिखित में से कौन-सा क्षेत्र इस उद्देश्य के साथ सम्बद्ध है?

  • शिक्षा-समाजशास्त्र
  • सामाजिक दर्शन
  • मीडिया मनोविज्ञान
  • शिक्षा मनोविज्ञान

उत्तर : 4

विज्ञापन

प्रश्न. मनोविज्ञान शिक्षा का आधारभूत विज्ञान है।’ यह किसने कहा है?

  • बी.एन.झा
  • डेविस
  • स्किनर
  • वुडवथ

उत्तर : 2

प्रश्न. आधुनिक मनोविज्ञान का अर्थ है

  • मन का अध्ययन
  • आत्मा का अध्ययन
  • शरीर का अध्ययन
  • व्यवहार का अध्ययन

उत्तर : 4

प्रश्न. शैक्षिक मनोविज्ञान शैक्षिक विकास का एक व्यवस्थित अध्ययन है। शिक्षा मनोविज्ञान की यह परिभाषा द्वारा दी गई

  • स्किनर
  • सी वि गुड
  • जे एम स्टीफन
  • सी. एच. जुद

उत्तर : 3

प्रश्न . शिक्षा मनोविज्ञान है?

  • विशुद्ध विज्ञान
  • व्यावहारिक विज्ञान
  • मानक विज्ञान
  • इनमें से कोई नहीं

उत्तर : 3


प्रश्न. शिक्षा मनोविज्ञान की उत्पत्ति का वर्ष कौन-सा माना जाता है?

  • 1947
  • 1940
  • 1920
  • 1900)

उत्तर : 4

प्रश्न. एक शिक्षक को अपने विद्यार्थियों की क्षमताओं को समझने का प्रयास करना चाहिए। निम्नलिखित में से कौन-सा क्षेत्र इस उददेश्य के साथ सम्बद्ध है?

  • सामाजिक दर्शन
  • मीडिया- मनोविज्ञान
  • शिक्षा मनोविज्ञान
  • शिक्षा समाजशास्त्र

उत्तर : 3

विज्ञापन

प्रश्न. शिक्षा मनोविज्ञान की दृष्टि से निम्न में से कौन-सा कथन सत्य है?

  • बच्चे अपने ज्ञान का स्वयं सूजन करते है
  • विद्यालय में आने से पहले बच्चों को कोई पूर्ण ज्ञान नहीं होता है
  • अधिगम प्रक्रिया में बच्चों को कष्ट होता है
  • बच्चे यथावत वही सीखते है, जो उन्हें पढ़ाया जाता है

उत्तर : 1

प्रश्न. बाल मनोविज्ञान के आधार पर कौन-सा कथन सर्वोत्तम है?

  • सारे बच्चे एक जैसे होते हैं
  • प्रत्येक बच्चा विशिष्ट होता है
  • कुछ बच्चे विशिष्ट होते हैं
  • कुछ बच्चे एक जैसे होते हैं

उत्तर : 2

प्रश्न. प्राथमिक शिक्षक के लिए बाल मनोविज्ञान का ज्ञान आवश्यक है, क्योंकि

  • यह बच्चों को अनुशासित बनाने में सहायता करता है
  • परीक्षा में परिणाम में उन्नति होती है
  • यह बच्चों को अभिप्रेरित करने के लिए सुविधाजनक तरीका बन जाता है
  • यह बच्चों के व्यवहार को समझने में शिक्षक की सहायता करता है

उत्तर : 4

प्रश्न. बाल मनोविज्ञान का केन्द्र बिन्दु है

  • अच्छा शिक्षक
  • शिक्षण प्रक्रिया
  • बालक
  • विद्यालय

उत्तर : 3

प्रश्न. शिक्षा मनोविज्ञान का सम्बन्ध किससे नहीं है?

  • मानव व्यवहार का अध्ययन
  • मानसिक प्रक्रियाओं का अध्ययन
  • सीखने के तरीकों का अध्ययन
  • संचार माध्यमों का अध्ययन

उत्तर : 4

प्रश्न. निम्नलिखित में से कौन शिक्षा मनोविज्ञान की प्रकृति है?

  • कला
  • विज्ञान
  • विध्यात्मक विज्ञान
  • इनमें से कोई नहीं

उत्तर : 3

विज्ञापन

प्रश्न. शिक्षा मनोविज्ञान की दृष्टि से निम्नलिखित में से कौन-सा कथन सत्य है?

  • बच्चे अपने ज्ञान का स्वयं सृजन करते हैं.
  • विद्यालय में आने से पहले बच्चों को कोई पूर्व ज्ञान नहीं होता है,
  • अधिगम प्रक्रिया में बच्चों को कष्ट होता है
  • बच्चे यथावत् सीखते हैं, जो उन्हें पढ़ाया जाता है

उत्तर : 1

प्रश्न. बाल मनोविज्ञान के आधार पर कौन-सा कथन सर्वोत्तम है?

  • सारे बच्चे एक जैसे होते हैं
  • कुछ बच्चे एक जैसे होते हैं
  • कुछ बच्चे विशिष्ट होते हैं
  • प्रत्येक बच्चा विशिष्ट होता है

उत्तर : 4

प्रश्न. बाल मनोविज्ञान का क्षेत्र है

  • केवल शैशवावस्था की विशेषताओं का अध्ययन
  • केवल गर्भावस्था की विशेषताओं का अध्ययन
  • केवल बाल्यावस्था की विशेषताओं का अध्ययन
  • गर्भावस्था से किशोरावस्था की विशेषताओं को अध्ययन

उत्तर : 4

प्रश्न. मकतब में किस स्तर की शिक्षा दी जाती है?

  • प्राथमिक शिक्षा
  • उच्च शिक्षा
  • विदेशी शिक्षा
  • अति उच्च शिक्षा

उत्तर : 1

प्रश्न. किस घोषणा पत्र को भारतीय शिक्षा का
शिलालेख कहा जाता है?

  • वुड का घोषणा का
  • निम्न घोषणा पत्र
  • सामान्य घोषणा पत्र
  • इनमें से कोई नहीं

उत्तर : 1

प्रश्न. विकासात्मक मनोविज्ञान में जीवन का अध्ययन किया जाता है

  • गर्भकाल
  • जन्म से
  • जीवन प्रयत्न
  • किशोरावस्था में

उत्तर : 2

प्रश्न. कोहलबर्ग के अनुसार सही और गलत प्रश्न के बारे में निर्णय लेने में शामिल चिन्तन-प्रक्रिया को कहा जाता है

  • नैतिक दुविधा
  • सहयोग की नैतिकता
  • नैतिक यथार्थवाद
  • नैतिक तर्कणा

उत्तर : 4

आशा है आपको हमारे द्वारा दी गई यह जानकारी पसंद आई होगी, यूपीटीईटी 2021 परीक्षा से जुड़ी हर जानकरियों हेतु सरकारी अलर्ट को बुकमार्क जरूर करें।

विज्ञापन
Leave a Comment

17 thoughts on “UPTET 2021 बाल विकास प्रैक्टिस सेट 4 : परीक्षा में शामिल होने से पहले, इन प्रश्नों को जरूर पढ़ें”