UPTET 2021 बाल विकास प्रैक्टिस सेट 8 : यूपीटीईटी परीक्षा से पहले पढ़ें ये महत्वपूर्ण 30 प्रश्न

विज्ञापन

UPTET Child Development Practice Set : उत्तर प्रदेश प्रशिक्षण परीक्षा नियामक 28 नवंबर को UPTET की परीक्षा आयोजित करने वाला है, इस परीक्षा में सफल होने के लिए उम्मीदवार तैयारियों में जुटे हैं। इस लेख जरिए हम आपको बाल विकास (Child Development) विषय से जुड़े 30 महत्वपूर्ण प्रश्नों से अवगत कराएंगे, जो इस साल UPTET की परीक्षा के लिहाज से आपके लिए बेहद ही जरूरी हैं।

विज्ञापन
UPTET Child Development Practice Set
UPTET Child Development Practice Set

UPTET 2021 बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र प्रैक्टिस सेट 8 (30 प्रश्न)

प्रश्न . _______ के अतित्रिक्त बुद्धि के निम्नलिखित पक्षों को स्टेनबर्ग के त्रितंत सिद्धांत से संबोधित किया गया है.

  • संदर्भगत
  • अवयवभूत
  • सामाजिक
  • अनुभविक

उत्तर : 3

प्रश्न. निम्न में से कौन अधिगमकर्ता को अधिक स्वतन्त्रता देता है?

विज्ञापन
  • संरचनावाद
  • क्रियाशीलतावाद
  • व्यवहारवाद
  • सृजनशीलतावाद

उत्तर : 4

प्रश्न. विज्ञान एवं कला प्रदर्शनियाँ, संगीत एवं नृत्य प्रस्तुतियाँ तथा विद्यालय-पत्रिका निकालना _______ लिए हैं।

  • शिक्षार्थियों को सृजनात्मक मार्ग उपलब्ध कराने
  • विभिन्न व्यवसायों के लिए विद्यार्थियों को प्रशिक्षित करने
  • विद्यालय का नाम रोशन करने
  • अभिभावकों को संतुष्ट करने

उत्तर : 1

प्रश्न. पूर्व अनुभव के आधार पर संवेदना को अर्थ प्रदान करना कहलाता है

  • संवेदना
  • अभिप्रेरणा
  • प्रत्यक्षज्ञान
  • कल्पना

उत्तर : 2

प्रश्न. गिलफोर्ड ने ‘अपसारी चिन्तन’ पद का प्रयोग किसके समान अर्थ में किया है?

  • बुद्धि
  • सृजनात्मकता
  • बुद्धि एवं सृजनात्मकता
  • इनमें से कोई नहीं

उत्तर : 2

प्रश्न. निम्न में से कौन-सी सृजनात्मकता की विशेषता नहीं?

विज्ञापन
  • मौलिकता
  • अपरिवर्तनशीलता
  • उत्पादकता
  • नवीन ज्ञान की खोज

उत्तर : 2

प्रश्न. हॉवर्ड गार्डनर का बुद्धि का सिद्धांत ________ पर बल देता हैं.

  • शिक्षार्थियों में अनुबंधित कौशलों
  • सामान्य बुद्धि
  • विद्यालय में आवश्यक समान योग्यताओं
  • प्रत्येक व्यक्ति की विलक्षण योग्यतों

उत्तर : 4

प्रश्न. निम्न में कौन-सी परिस्थिति सृजनात्मकता को बढ़ाने में सहायक होगी?

  • सीखने हेतु सीमित अवसर हों।
  • बच्चों को उत्तर याद करने के लिए कहा जाए।
  • समस्या का समाधान बता दिया जाए।
  • जब बच्चों को स्वयं करके सीखने के लिए अधिक से अधिक अवसर दिए जाए।

उत्तर : 4

प्रश्न. सृजनात्मक चिंतन की अवस्था जिसमें व्यक्ति चेतन तथा अचेतन स्तरों पर समस्या सुलझाने में प्रयासरत रहता है

  • अंतर्दृष्टि
  • उद्भवन
  • प्रदीप्ति
  • सत्यापन

उत्तर : 2

प्रश्न. “सृजनात्मकता मौलिक परिणामों को अभिव्यक्त करने की मानसिक प्रक्रिया है।” यह कथन है

  • कोल एंव ब्रूस का
  • ड्रेवहल का
  • डीहान का
  • क्रो एवं क्रो का

उत्तर : 4

प्रश्न. सृजनात्मक शिक्षार्थी है

  • अभिसारी चिंतक
  • अपसारी चिंतक
  • बहुत परिश्रमी
  • बहिर्मुखी

उत्तर : 2

प्रश्न. निम्न में कौन सृजनात्मकता से सम्बन्धित नहीं है?

विज्ञापन
  • मौलिकता
  • प्रवाह
  • मितव्ययिता
  • उपयोगिता

उत्तर : 3

प्रश्न. उत्सुकता परीक्षण निम्न में किसका घटक है?

  • सृजनात्मकता
  • रूचि
  • अभिप्रेरणा
  • बुद्धि

उत्तर : 1

प्रश्न. विद्यार्थियों में संप्रत्ययात्मक विकास को प्रोत्साहन देने के लिए निम्नलिखित में से कौन-सी विधि सबसे प्रभावी है?

  • पुराने प्रत्ययों से किसी संदर्भ के बिना नए प्रत्ययों को अपने आप समझा जाना चाहिए।
  • याद करने के लिए कहकर विद्यार्थियों के गलत विचारों को सही विचारों में बदलना
  • विद्यार्थियों को बहुत-से उदाहरण देना और उन्हें तर्कशक्ति को उपयोग करने के लिए प्रोत्साहित करना
  • जब तक विद्यार्थियों में वांछित संप्रत्ययात्मक परिवर्तन न हो जाए, तब तक दंड का उपयोग करना

उत्तर : 3

प्रश्न 15. सृजनात्मकता क्या है?

  • बुद्धि का एक प्रकार जो उन कौशलों से संबंधित है, जो संचित किए गए ज्ञान और अनुभव पर निर्भर होते हैं।
  • बुद्धि का एक प्रकार जो संसाधन की गति को शामिल करते हुए सूचना-प्रक्रमण कौशलों पर अत्यधिक निर्भर होता है।
  • समस्याओं के मौलिक और अपसारी समाधानों को पहचानने अथवा तैयार करने की योग्यता।
  • सृजनात्मकता 200 से ऊपर की बुद्धिलब्धि से सर्वाधिक बेहतर ढंग से परिभाषित होती है।

उत्तर : 3

प्रश्न. गार्डनर ने सात अभियोग्यताओं का अधिमान निर्धारित किया, इसमें से कौन-सा नहीं है?

  • स्थान सम्बन्धी अभियोग्यता
  • भावनात्मक अभियोग्यता
  • अन्तर्वैयक्तिक अभियोग्यता
  • भाषात्मक अभियोग्यता में

उत्तर : 2

प्रश्न. निम्न में से कौन-सा शिक्षार्थियों में सृजनात्मकता का पोषण करता है?

  • अच्छी शिक्षा के व्यावहारिक मूल्यों के लिए विद्यार्थियों का शिक्षण
  • प्रत्येक शिक्षार्थी की अन्तर्जात प्रतिभाओं का पोषण
  • विद्यालयी जीवन के प्रारम्भ से उपलब्धि के लक्ष्यों पर बल देना
  • परीक्षा में अच्छे अंकों के लिए विद्यार्थियों की कोचिंग करना

उत्तर : 2

प्रश्न. जो बुद्धि सिद्धान्त में सम्मिलित मानसिक प्रक्रियाओं (जैसे-परा घटक) और बुद्धि द्वारा लिए जा सकने वाले विधिक रूपों (जैसे सृजनात्मक बुद्धि) की शामिल करता है, वह है

विज्ञापन
  • स्पीयरमैन का जी कारक
  • स्टैनबर्ग का बुद्धिमात्ता का त्रितत्र
  • बुद्धि का सावेंट सिद्धान्त
  • थर्स्टन का प्राथमिक मानसिक योग्यताएं

उत्तर : 2

प्रश्न. सृजनात्मक मुख्य रूप से……. . से सम्बन्धित है

  • मॉडलिंग
  • अभिसारी चिंतन
  • अनुकरण
  • अपसारी (बहुविध) चिंतन

उत्तर : 4

प्रश्न. बुद्धि के तरल क्रिस्टलीय प्रतिमान के प्रतिपादक कौन थे ?

  • कैटेल
  • वर्नन
  • थॉर्नडाइक
  • स्किनर

उत्तर : 1

प्रश्न. निम्न में से कौन-सा बुद्धि का सिद्धान्त नहीं है?

  • एक तत्व सिद्धान्त
  • द्वि-तत्व सिद्धान्त
  • प्रत्यागमन सिद्धान्त
  • बहुतत्व-सिद्धान्त

उत्तर : 3

प्रश्न. यह आवश्यक नहीं है कि उच्च बुद्धि लब्धि वाले बच्चे……में भी उच्च होंगे।

  • सृजनशीलता
  • अध्ययन
  • विश्लेषण करने
  • अच्छे अंक प्राप्त करने

उत्तर : 1

प्रश्न. बुद्धि एंव सृजनात्मकता में किस प्रकार का सहसम्बन्ध पाया गया है?

  • धनात्मक
  • शून्य
  • ऋणात्मक
  • ये सभी

उत्तर : 1

प्रश्न. विज्ञान एवं कला प्रदर्शनियाँ, संगीत एवं नृत्य प्रस्तुतियाँ तथा विद्यालय-पत्रिका निकालना…. के लिए हैं।

विज्ञापन
  • शिक्षार्थियों को सृजनात्मक मार्ग उपलब्ध कराने
  • विभिन्न व्यवसायों के लिए विद्यार्थियों को प्रशिक्षित करने
  • विद्यालय का नाम रोशन करने
  • अभिभावकों को संतुष्ट करने

उत्तर : 1

प्रश्न. बुद्धि के बारे में निम्नलिखित में से कौन-सा कथन सर्वाधिक उपयुक्त है?

  • बुद्धि को केवल मानकीकृत बुद्धिलब्धि परीक्षणों के आयोजन के द्वारा विश्वसनीय रूप से निर्धारित किया जा सकता है।
  • बुद्धि मूलभूत रूप से स्नायु-तंत्र-संबंधी कार्यप्रणाली है। उदाहरणार्थ- प्रक्रमण की गति, संवेदी-विभेद आदि।
  • बुद्धि विद्यालय में अच्छा प्रदर्शन करने की योग्यता है।
  • बुद्धि बहु-आयामी है और इसमें कई पहलू निहित हैं।

उत्तर : 4

प्रश्न. निम्न में से कौन-सा शिक्षार्थियों में सृजनात्मकता का पोषण करता है?

  • प्रत्येक शिक्षार्थी की अंतर्जात प्रतिभाओं का पोषण करने के अवसर उपलब्ध कराना
  • विद्यालयीय जीवन के प्रारम्भ से उपलब्धि के लक्ष्यों पर बल देना
  • परीक्षा में अच्छे अंकों के लिए विद्यार्थियों कीकोचिंग करना
  • अच्छा शिक्षा के व्यावहारिक मूल्यों के लिए विद्यार्थियों का शिक्षण

उत्तर : 1

प्रश्न. अवधारणाओं का विकास मुख्य रूप से का हिस्सा है।

  • शारीरिक विकास
  • सामाजिक विकास
  • संवेगात्मक विकास
  • बौद्धिक विकास

उत्तर : 4

प्रश्न. बहुविध बुद्धि सिद्धान्त के अनुसार सभी प्रकार के पशुओं, खनिजों और पेड़-पौधों को पहचानने और वर्गीकृत करने की योग्यता….. कहलाती है।

  • तार्किक -गणितीय बुद्धि
  • प्राकृतिक बुद्धि
  • भाषिक बुद्धि
  • स्थानिक बुद्धि

उत्तर : 2

प्रश्न. जो बुद्धि सिद्धान्त में सम्मिलित मानसिक प्रक्रियाओं (जैसे-परा घटक) और बुद्धि द्वारा लाए जा सकने वाले विविध रूपों (जैसे-सृजनात्मक बुद्धि) को शामिल करता है, वह है

  • स्टर्नबर्ग का बुद्धिमत्ता का त्रितंत्र सिद्धान्त
  • बुद्धि का सावेंट सिद्धान्त
  • थर्स्टन की प्राथमिक मानसिक योग्यताएँ
  • स्पीयरमैन का ‘जी’ कारक

उत्तर : 1

प्रश्न. निम्नलिखित में से कौन-सी बहुबुद्धि सिद्धान्त की आलोचना है?

  • बहुबुद्धि शिक्षार्थियों को अपने रूझान को खोजने में मदद उपलब्ध कराती है।
  • यह व्यावहारिक बुद्धि पर आवश्यकता से अधिक बल देती है।
  • यह आनुभाविक साक्ष्यों को बिल्कुल भी समर्थन नहीं दे सकता।
  • बहुबुद्धि केवल ‘प्रतिमाएँ हैं जो पूर्ण रूप में बुद्धि में विद्यमान रहती हैं।

उत्तर : 4

आशा है आपको हमारे द्वारा दी गई यह जानकारी पसंद आई होगी, यूपीटीईटी 2021 परीक्षा से जुड़ी हर जानकरियों हेतु सरकारी अलर्ट पर रोजाना विजिट करें।

विज्ञापन
Leave a Comment

159 thoughts on “UPTET 2021 बाल विकास प्रैक्टिस सेट 8 : यूपीटीईटी परीक्षा से पहले पढ़ें ये महत्वपूर्ण 30 प्रश्न”