UPTET 2021 बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र प्रैक्टिस सेट 7 : TET परीक्षा से पहले देखें 30 महत्वपूर्ण प्रश्न

Child Development And Pedagogy Questions : उत्तर प्रदेश प्रशिक्षण परीक्षा नियामक 28 नवंबर को UPTET की परीक्षा आयोजित करने वाला है, इस परीक्षा में सफल होने के लिए उम्मीदवार तैयारियों में जुटे हैं।

इस लेख जरिए हम आपको बाल विकास (Child Development And Pedagogy) विषय से जुड़े 30 महत्वपूर्ण प्रश्नों से अवगत कराएंगे, जो इस साल UPTET की परीक्षा के लिहाज से आपके लिए बेहद ही जरूरी हैं।

Child Development And Pedagogy Questions
Child Development And Pedagogy Questions

UPTET 2021 बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र प्रैक्टिस सेट 7 (30 प्रश्न)

प्रश्न. एक परिस्थिति में अर्जित ज्ञान का दूसरी परिस्थितिमें उपयोग कहलाता है

  • सीखने की विधियाँ
  • सीखने में स्थानान्तरण
  • सीखने में पठार
  • सीखने में रुचि

उत्तर : 2

प्रश्न.अनुभव द्वारा व्यवहार में परिवर्तन कहलाता हैं

  • स्मृति
  • सीखना
  • प्रेरणा
  • चिन्तन

उत्तर : 2

प्रश्न. सांख्यिकी में वह रेखाचित्र, जिसमें आवृत्तियों को स्तम्भों द्वारा प्रदर्शित किया जाता है कहलाता है।

  • स्तम्भाकृति
  • आवृत्ति बहुभुज
  • संचयी आवृत्ति
  • रेखाचित्र

उत्तर : 1

प्रश्न. विकास की किस अवस्था में बुद्धि का अधिकतम विकास होता है?

  • बाल्यावस्था
  • शैशवावस्था
  • किशोरावस्था
  • प्रौढ़ावस्था

उत्तर : 3

प्रश्न. शिशु का अधिकांश व्यवहार आधारित होता है

  • मूल प्रवत्ति पर
  • वास्तविकता पर
  • नैतिकता पर
  • ध्यान

उत्तर – 1

प्रश्न. अन्तर्दृष्टि (सूझ) द्वारा सीखने के सिद्धान्त में कोहलर ने प्रयोग किया था

  • कुत्ते पर
  • बिल्ली पर
  • चूहों पर
  • वनमानुषों पर

उत्तर : 4

प्रश्न. यह आवश्यक नहीं है कि उच्च बुद्धि लब्धि वाले बच्चें….में भी उच्च होंगे।

  • सृजनशीलता
  • अध्ययन
  • विश्लेषण करने
  • अच्छे अंक प्राप्त करने

उत्तर : 1

प्रश्न. …..ध्यान को केन्द्रित करने की आन्तरिक दशा हैं

  • अवधि
  • नवीनता
  • रुचि
  • आकार

उत्तर : 3

प्रश्न. निम्न में से किस विधि का उपयोग स्मृति के मापन के लिए नहीं किया जाता है?

  • प्रत्याह्वान विधि
  • तार्किक विधि
  • पहचान विधि
  • पुन: सीखना विधि

उत्तर : 2

प्रश्न. प्रासंगिक अन्तर्बोध परीक्षण (TAT) का विकास…. द्वारा किया गया था।

  • सायमण्ड
  • होल्ट्जमैन
  • मरे
  • बैलक

उत्तर : 3

प्रश्न. मनोविज्ञान का शिक्षा के क्षेत्र में सबसे बड़ा योगदान….. है।

  • विषय केन्द्रित शिक्षा
  • शिक्षक केन्द्रित शिक्षा
  • क्रिया केन्द्रित शिक्षा
  • बाल केन्द्रित शिक्षा

उत्तर : 4

प्रश्न. निम्नलखित में से कौन-सा वृद्धि और विकास के सिद्धान्तों से सम्बन्धित नहीं है?

  • निरन्तरता का सिद्धान्त
  • वर्गीकरण का सिद्धान्त
  • समन्वय का सिद्धान्त
  • वैयक्तिकता का सिद्धान्त

उत्तर : 2

प्रश्न. कक्षा शिक्षण में पाठ प्रस्तावना सोपान सीखने के . किस नियम पर आधारित है?

  • प्रभाव का नियम
  • सादृश्यता का नियम
  • तत्परता का नियम.
  • साहचर्य का नियम

उत्तर : 3

प्रश्न. सम्प्रत्यय निर्माण का प्रथम सोपान है

  • सामान्यीकरण
  • प्रत्यक्षीकरण
  • विभेदीकरण
  • पृथक्करण

उत्तर : 3

प्रश्न. प्रेक्षणात्मक अधिगम सम्प्रत्यय _______ द्वारा किया गया था

  • टोलमैन
  • थॉर्नडाइक
  • बैण्डूरा
  • कोहलर

उत्तर : 3

प्रश्न. अधिगम में,…. ने प्रभाव का नियम दिया था।

  • पॉवलॉव
  • स्किनर
  • वाटसन
  • थॉर्नडाइक

उत्तर : 4

प्रश्न. अवधान के आन्तरिक अथवा व्यक्तिनिष्ठ निर्धारक हैं

  • रुचि, लक्ष्य, अभिवृत्ति
  • उद्दीपक, वस्तु, प्रविधि
  • प्रकाश, ध्वनि, गन्ध
  • पुरस्कार, दण्ड, प्रोत्साहन

उतर : 1

प्रश्न. बाल मनोविज्ञान का क्षेत्र है

  • केवल शैशवावस्था की विशेषताओं का अध्ययन
  • केवल गर्भावस्था की विशेषताओं का अध्ययन
  • केवल बाल्यावस्था की विशेषताओं का अध्ययन
  • गर्भावस्था से किशोरावस्था की विशेषताओं
  • का अध्ययन

उत्तर : 4

प्रश्न. वह अवस्था जोकि माता के 21 वें गुणसूत्र जोड़े के अलग न हो पाने के कारण होती है, कहलाती है

  • डाउन्स सिण्ड्रोम
  • क्लीनफेल्टर सिण्ड्रोम
  • टर्नर सिण्ड्रोम
  • विल्सन सिण्ड्रोम

उत्तर : 1

प्रश्न. कोह्रबर्ग के अनुसार किस अवस्था में नैतिकता बाह्य कारकों द्वारा निर्धारित होती है?

  • पूर्व पारम्परिक अवस्था
  • पारम्परिक अवस्था
  • पश्चात् पारम्परिक अवस्था
  • उपरोक्त में से कोई नहीं

उत्तर : 1

प्रश्न. निम्नलिखित में से कौन-सा एक सही क्रम है?

  • अण्डाणु-शुक्राणु, ब्लास्टोसिस्ट, युग्मनज
  • ब्लास्टोसिस्ट, अण्डाणु-शुक्राणु, युग्मनज
  • ब्लास्टोसिस्ट, युग्मनज, अण्डाणु-शुक्राणु
  • अण्डाणु-शुक्राणु, युग्मनज, ब्लास्टोसिस्ट

उत्तर : 4

प्रश्न. अन्तर्मुखी, बहिर्मुखी तथा उभयमुखी व्यक्तित्व का वर्गीकरण-‘ द्वारा किया गया है।

  • क्रेचनर
  • युंग
  • शैल्डन
  • स्फ्रेंजर

उत्तर : 2

प्रश्न. उदाहरण, निरीक्षण, विश्लेषण, वर्गीकरण, नियमीकरण निम्नलिखित में से किस विधि के सोपान हैं?

  • निगमन विधि
  • आगमन विधि
  • अन्तर्दर्शन विधि
  • बहिर्दर्शन विधि

उत्तर : 2

प्रश्न. फ्रायड के अनुसार हमारे मूल्यों का आन्तरिकीकरण में होता है।

  • इदम्
  • पराहम्
  • अहम्
  • परिस्थितियों

उत्तर : 2

प्रश्न. व्यवहारवादी ______ ने कहा है, “मुझे नवजात शिशु दे दो। मैं उसे डॉक्टर, वकील, चोर या जो चाहूँ बना सकता हूँ।”

  • फ्रीमैन
  • वाटसन
  • न्यूमैन
  • होलजिंगर

उत्तर : 2

प्रश्न. ध्यान आकर्षित होने की प्रमुख भूमिका होती हैं।

  • उद्दीपन की तीव्रता
  • उद्दीपन की उपादेयता
  • उद्दीपन की विश्वसनीयता
  • उद्दीपन की सक्रियता

उत्तर : 1

प्रश्न. ” ‘छात्र में रुचि उत्पन्न करने की कला है।”

  • शिक्षण
  • समदृष्टि
  • साहनुभूति
  • प्रेरणा

उत्तर : 4

प्रश्न. फ्रायड के अनुसार

  • ग्रहण किए या सीखे हुए तथ्यों को धारण करने या पुनःस्मरण करने की असफलता को विस्मरण कहत हैं “
  • विस्मरण का अर्थ है किसी समय प्रयत्न करने पर भी किसी पूर्व अनुभव का स्मरण करने या पहले की सीखी हुई किसी क्रिया को करने की असफलता”
  • विस्मरण वह प्रवृत्ति है, जिसके द्वारा दुखद अनुभवों को स्मृति से अलग कर दिया जाता है”
  • उपरोक्त में से कोई नहीं ।

उत्तर : 3

प्रश्न. भाषा विकास का सिद्धान्त नहीं है

  • अनुबंधन का सिद्धान्त
  • अनुकरण का सिद्धान्त
  • अतिरिक्त शक्ति का सिद्धान्त
  • परिपक्वता का सिद्धान्त

उत्तर : 3

प्रश्न. अपने ऊर्जाबल (Libido) को बाहर की ओर अभिव्यक्त करने वाले व्यक्ति का प्रकार होता है

  • ज्ञानात्मक व्यक्तित्व
  • कलात्मक व्यक्तित्व
  • बहिर्मुखी व्यक्तित्व
  • धार्मिक व्यक्तित्व

उत्तर : 3

आशा है आपको हमारे द्वारा दी गई यह जानकारी पसंद आई होगी, यूपीटीईटी 2021 परीक्षा से जुड़ी हर जानकरियों हेतु सरकारी अलर्ट पर रोजाना विजिट करें।

    • अपनी जानकारी फिर से चेक कीजिये क्योकि सही उत्तर किशोरावस्था ही होगा.

      Reply
      • आपकी बात भी सही है लेकिन बच्चे के अंदर समझ और संस्कृति नाम की चीज 12 साल के भीतर ही नहीं आ जाती है उसके लिए कम से कम उसे किशोर होना पड़ता है।

Leave a Comment