UPPSC Agriculture Service Syllabus In Hindi | यूपीपीएससी एग्रीकल्चर सिलेबस

UPPSC Agriculture Service Syllabus 2022 In Hindi : उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग (UPPSC) प्रयागराज, द्वारा एग्रीकल्चर के क्षेत्र में एग्रीकल्चर सर्विस के लिए UPPSC Agriculture Services Notification को जारी किया जाता है, इस भर्ती में परीक्षा के लिए काफी लोगों को आमंत्रित भी किया जाता है।

आज हम इस लेख के जरिए उम्मीदवारों को UPPSC Agriculture Service Syllabus 2023 In Hindi तथा UPPSC Agricultur Exam Pattern के बारे में जानकारी प्रदान करने जा रहे हैं, जिससे कि वे परीक्षा में अच्छा प्रदर्शन कर सकें।

UPPSC AGRICULTURE SERVICE SYLLABUS HINDI
UPPSC AGRICULTURE SERVICE SYLLABUS HINDI

UPPSC Agriculture परीक्षा का संक्षिप्त विवरण

संस्था का नामUttar Pradesh Public Service Commission
Posts NameDistrict Horticulture Officer, Senior Technical Assistant, Food Processing Officer
श्रेणीSyllabus
लेख का नामUPPSC Agriculture Officer Syllabus In Hindi
आधिकारिक वेबसाइटuppsc.up.nic.in

UPPSC Agriculture Service Exam Pattern

नीचे UPPSC Agriculture Service Exam Pattern दिया गया है, आप इसे देखकर अपने परीक्षा की तैयारी को और भी मजबूत बना सकते हैं –

UPPSC Agriculture Service Pre Exam Pattern निम्नलिखित है –

  1. UPPSC कृषि सेवा प्रारंभिक परीक्षा वस्तुनिष्ठ प्रकार की होगी।
  2. परीक्षा में सामान्य अध्ययन और कृषि विषय शामिल होंगे।
  3. परीक्षा 300 अंकों और 120 प्रश्नों की होगी।
  4. प्रत्येक गलत उत्तर प्रश्न के लिए, अंक का एक तिहाई (0.33) काटा जाएगा।
विषयप्रश्नों की संख्याकुल अंक
भाग -1 – General Study40300 अंक
भाग -2 – Agriculture Subject80
कुल120

UPPSC Agriculture Service Mains Exam Pattern निम्नलिखित है –

  1. यूपीपीएससी कृषि सेवा मेन्स परीक्षा पैटर्न के लिए, उम्मीदवार उपरोक्त तालिका की जांच कर सकते हैं।
  2. सामान्य हिंदी और निबंध विषय के लिए कुल 100 अंक होंगे।
  3. समय अवधि 2 घंटे होगी।
  4. वैकल्पिक विषय के लिए, कुल 200 अंक होंगे।
  5. समय अवधि 3 घंटे होगी।
पेपरविषयअंकसमय अवधि
1.सामान्य हिंदी & निबंध1002 घण्टे
2.वैकल्पिक विषय2003 घण्टे

UPPSC Agriculture Officer Syllabus In Hindi

यदि आप इस परीक्षा में अच्छे अंक प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको UPPSC Agriculture Officer Syllabus In Hindi के बारे में पूरी तरह से जानना होगा कि प्री तथा मेंस में किस-किस टॉपिक से प्रश्न पूछे जाते हैं –

सामान्य ज्ञान – (General Knowledge)

  1. सामान्य विज्ञान (हाई स्कूल मानक)।
  2. भारत का इतिहास।
  3. भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन।
  4. भारतीय राजनीति, अर्थव्यवस्था और संस्कृति।
  5. भारतीय कृषि, वाणिज्य और व्यापार।
  6. भारतीय और उत्तर प्रदेश भूगोल और प्राकृतिक संसाधन।
  7. वर्तमान राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय महत्वपूर्ण घटनाएं।
  8. सामान्य बुद्धिमत्ता पर आधारित तर्क और तर्क।
  9. उत्तर प्रदेश की शिक्षा, संस्कृति, कृषि, उद्योग व्यापार, जीवन और सामाजिक परंपराओं के बारे में विशिष्ट ज्ञान।
  10. 8 वीं स्तर तक प्राथमिक गणित: अर्थमैटिक, बीजगणित और ज्यामिति।
  11. पारिस्थितिकी और पर्यावरण।

कृषि विषय

  1. फसल वितरण और उत्पादन के पर्यावरणीय कारक।
  2. फसल वृद्धि के कारक के रूप में जलवायु तत्व।
  3. यूपी के विभिन्न कृषि-जलवायु क्षेत्रों में फसल पैटर्न।
  4. एकाधिक, मल्टीस्टोरी, रिले और इंटर-क्रॉपिंग की अवधारणा और टिकाऊ फसल उत्पादन के संबंध में उनका महत्व।
  5. यू.पी. के विभिन्न क्षेत्रों में खरीफ और रबी सीजन के दौरान उगाए गए महत्वपूर्ण अनाज, दलहन, तिलहन, फाइबर, चीनी और नकदी फसलों के उत्पादन के लिए पैकेज और अभ्यास।
  6. कृषि वानिकी और सामाजिक वानिकी के संदर्भ में विभिन्न प्रकार के वानिकी पौधों की महत्वपूर्ण विशेषताएं, गुंजाइश और प्रसार।
  7. आधुनिक अवधारणा सहित भारतीय मिट्टी का वर्गीकरण।
  8. मिट्टी के खनिज और कार्बनिक घटक और मिट्टी की उत्पादकता को बनाए रखने में उनकी भूमिका।
  9. मिट्टी और पौधों में आवश्यक पौष्टिक तत्व और अन्य लाभकारी तत्व।
  10. सहजीवी और गैर-सहजीवी नाइट्रोजन निर्धारण।
  11. मिट्टी की उर्वरता के सिद्धांत और विवेकपूर्ण उर्वरक उपयोग के लिए इसका मूल्यांकन।
  12. मृदा संरक्षण, वाटरशेड आधार पर योजना।
  13. ड्राईलैंड कृषि और इसकी समस्याएं।
  14. यूपी के वर्षा आधारित कृषि क्षेत्र में कृषि उत्पादन को स्थिर करने की तकनीक।
  15. जैविक खेती की आवश्यकता और गुंजाइश।
  16. सिंचाई और जल निकासी।
  17. फार्म प्रबंधन और इसका दायरा, महत्व और विशेषता।
  18. कृषि अर्थव्यवस्था में सहकारी समितियों की भूमिका।
  19. खेती के प्रकार और प्रणाली और उन्हें प्रभावित करने वाले कारक।
  20. कृषि विस्तार, इसका महत्व और भूमिका, विस्तार कार्यक्रम की विधि, संचार और नवाचारों को अपनाना।
  21. विस्तार कार्यकर्ताओं और किसानों के लिए प्रशिक्षण कार्यक्रम।
  22. एक्सटेंशन सिस्टम और कार्यक्रम।
  23. उत्पादन और ग्रामीण रोजगार में कृषि की भूमिका।

इसके अलावा पौधों और वनस्पति से संबंधित लगभग सभी अध्याओं से प्रश्न पूछे जा सकते हैं, ऐसे में उम्मीदवारों को यह सलाह दी जाती है, की वह अपनी तैयारी पूरी रखें।

UPPSC Agriculture Service Mains Exam Syllabus

Mains Exam के लिए परीक्षा का सिलेबस नीचे दिया गया है –

हिंदी: सामान्य हिंदी के तहत अपठित गद्यांश का संक्षेपण, उससे सम्बन्धित प्रश्न परीक्षा में पूछे जाएंगे इसके अलावा, रेखांकित अंशों की व्याख्या एवं उसका उपयुक्त शीर्षक भी उम्मीदवारों से पूछा जा सकता है। साथ ही उम्मीदवारों से अनेकार्थी शब्द, अर्थबोध, शब्द-रूप, सन्धि, समास, क्रियायें, हिन्दी वर्णमाला, विराम चिन्ह, विलोम शब्द, पर्यायवाची शब्द, तत्सम एवं तद्भव, क्षेत्रीय, विदेशी (शब्द भण्डार), वर्तनी,शब्द रचना, वाक्य रचना, अर्थ, मुहावरे एवं लोकोक्तियाँ, उत्तर प्रदेश की मुख्य बोलियाँ तथा हिन्दी भाषा के प्रयोग में होने वाली अशुद्धियाँ इत्यादि से जुड़े प्रश्न भी पूछे जा सकते हैं।

UPPSC Agriculture Syllabus Essay

इसके अलावा उम्मीदवारों को अधिकतम 500 शब्दों का एक निबंध भी लिखना होगा। निबंध के विषय निम्नलिखित होंगे।

  1. विज्ञान तथा पर्यावरण
  2. प्राकृतिक आपदायें एवं उनके निवारण
  3. कृषि, उद्योग एवं व्यापार।
  4. साहित्य, संस्कृति
  5. राष्ट्रीय विकास योजनायें/क्रियान्वयन
  6. राष्ट्रीय-अन्तर्राष्ट्रीय, सामयिक सामाजिक समस्यायें/निदान

Paper – 2 (द्वितीय प्रश्नपत्र) – वैकल्पिक विषय

इसके अलावा अभ्यर्थियों को एक वैकल्पिक विषय का भी पेपर देना होगा जिसके बारे में कुछ महत्वपूर्ण बातें निम्नलिखित हैं :

  1. इसमें कुल प्रश्नों की संख्या 8 होगी।
  2. प्रश्न-पत्र अनुभाग-‘A ‘और अनुभाग ‘B’ दो भागों में विभाजित होगा।
  3. अनुभाग ’ए’ में 04 प्रश्न और अनुभाग बी ’में 04 प्रश्न होंगे।
  4. प्रश्न संख्या -1 और 05 अनिवार्य होंगे और प्रत्येक खंड से दो प्रश्न अनिवार्य होंगे।
  5. सभी प्रश्नों के एक ही अंक होंगे और उम्मीदवारों को कुल 05 प्रश्नों के उत्तर देने होंगे।

“दोनों परीक्षाओं को पास करने के बाद उम्मीदवारों को साक्षात्कार की प्रक्रिया से गुजरना होगा, जो कि पूरे 50 अंको का होगा।”

UPPSC Agriculture Service Syllabus PDF Download

उम्मीदवार UPPSC Agriculture Service Syllabus PDF Download UPPSC की आधिकारिक वेबसाइट के जरिये कर सकते हैं, या सिलेबस का पीडीएफ अक्सर भर्ती की अधिसूचना के साथ जारी किया जाता है, आप तब अपने सिलेबस का पीडीएफ डाउनलोड कर सकते है।

UPPSC Agriculture Service Exam से जुड़े कुुछ महत्वपूर्ण प्रश्न

UPPSC Agriculture Service की चयन प्रक्रिया क्या है?

UPPSC Agriculture Service में सफल होने के लिए आपको प्री, मेंस और साक्षात्कार में उत्तीर्ण होना पड़ेगा।

UPPSC कृषि सेवा प्रारंभिक परीक्षा में नेगेटिव मार्किंग होगी?

UPPSC कृषि सेवा प्रारंभिक परीक्षा में 1/3 नेगेटिव मार्किंग का प्रावधान है।

UPPSC कृषि Service के लिए कुल पदों की संख्या कितनी है?

UPPSC कृषि Service के लिए कुल पदों की संख्या 564 निर्धारित की गई है।

आशा है आपको हमारे द्वारा दी गई UPPSC Agriculture Service Syllabus In Hindi और UPPSC Agriculture Service Exam Pattern से जुड़ी जानकारी अच्छी लगी होगी, ज्यादा जानकारी के लिए आधिकारिक वेबसाइट पर विजिट करें।

कमेन्ट करें