UP Lekhpal Exam 2022 हिंदी भाषा प्रैक्टिस सेट 07 : परीक्षा में सफलता प्राप्त करने हेतु अवश्य अध्ययन करें

UP Lekhpal Hindi Practice Set 07 : उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग (UPSSSC) द्वारा उत्तर प्रदेश में लेखपाल के लिए 8085 रिक्त पदों पर भर्ती हेतु अधिसूचना जारी की गई थी और इसकी परीक्षा 24 जुलाई 2022 को होना सुनिश्चित किया गया था परन्तु किसी अपरिहार्य कारणों के वजह से परीक्षा को स्थगित करना पड़ा था लेकिन आयोग के द्वारा हाल ही में एक नई परीक्षा तिथि जारी की गई है जो 31 जुलाई 2022 है और आयोग के द्वारा इस भर्ती हेतु एडमिट कार्ड जारी कर दिया गया हैं।

जैसा की आपको पता है लेखपाल भर्ती परीक्षा में अब बहुत कम ही दिन शेष बचे हैं और ऐसे में परीक्षा के अंतिम दिनों में प्रैक्टिस सेट का अध्ययन करना अभ्यर्थियों के लिए अच्छा साबित हो सकता है। आज हम आपको हिंदी भाषा के कुछ महत्वपूर्ण प्रश्नों से अवगत कराने जा रहें हैं जो लेखपाल भर्ती परीक्षा के परिपेक्ष्य से बहुत ही महत्वपूर्ण हैं इसलिए अभ्यर्थी इन प्रश्नों को जरूर पढ़ें।

UP Lekhpal Hindi Practice Set 07
UP Lekhpal Hindi Practice Set 07

UP Lekhpal Hindi Practice Set 07

प्रश्न. ‘अनभिज्ञ’ शब्द का विलोम रूप है-

  • भिज्ञ
  • अभिज्ञ
  • अन-अभिज्ञ
  • अनाभिज्ञ

उत्तर: 2

प्रश्न. दिए गए विकल्पों में से “ऋजु” का विरुद्धार्थी शब्द कौन सा है?

  • सुर
  • वक्र
  • सरस
  • मिथ्या

उत्तर: 2

प्रश्न. जिसके पास कुछ भी न हो-

  • गरीब
  • अकिंचन
  • दरिद्र
  • विनीत

उत्तर: 2

प्रश्न. ‘उपनिवेश से सम्बन्ध हो जिसका उसके लिए एक शब्द है-

  • औपनिवेशिक
  • उपनिवेशिक
  • औपन्यासिक
  • उपनिवेशवाद

उत्तर: 1

प्रश्न. ‘अश्व” का पर्यायवाची नहीं है-

  • तरंग
  • घोटक
  • घोड़ा
  • हय

उत्तर: 1

प्रश्न ‘कोप’ और ‘रोष’ किस शब्द के समानार्थी शब्द हैं?

  • मोद
  • हर्ष
  • आनंद
  • क्रोध

उत्तर: 4

प्रश्न. शुद्ध शब्द है?

  • अनाधिकार
  • अन्तर्ध्यान
  • अहिल्या
  • उपर्युक्त

उत्तर: 4

प्रश्न. इनमें से अशुद्ध वर्तनी का शब्द है-

  • महत्व
  • पैतृक
  • वाल्मीकि
  • सन्यासी

उत्तर: 4

प्रश्न. ‘अन्धे को दीपक दिखाना” मुहावरे का सही अर्थ चुनिए-

  • अन्धे का रास्ता रोशन करना
  • ना समझ को उपदेश देना
  • ना समझ को रोशनी देना
  • अन्धे की सहायता करना

उत्तर: 2

प्रश्न. ‘गोद में लड़का शहर भर में ढिंढोरा’ मुहावरा का सही । अर्थ है?

  • छोटे शिशु को तलाशना
  • अत्यधिक शरारती बालक
  • पास में वस्तु रहते हुए चारों ओर खोजना
  • छोटे बालक की प्रशंसा करना ।

उत्तर: 3

प्रश्न. दिए विकल्पों में से सही का चयन कर रिक्त स्थान की पूर्ति करें

“यह रास्ता …. है, सावधानी पूर्वक चलें।”

  • दुर्गम
  • उऋण
  • अनुमोदन
  • अवाई

उत्तर: 1

प्रश्न. रिक्त स्थान की पूर्ति कीजिये पानी से लोग डूबते हैं, तो कहीं ख़रीदा जाता है।

  • कोई, तेल
  • कट्टी, लोग
  • कुछ, पानी
  • कहीं, पानी

उत्तर: 4

प्रश्न ‘अगुआ बनकर दिखाने वाला पथ-प्रदर्शक …..
कहलाता है” रिक्त स्थान के लिए उचित शब्द का
चयन करें।

  • मंजिल
  • रास्ता
  • लक्ष्य
  • स्थान

उत्तर: 2

प्रश्न. खूब सोच-विचार करने के बावजूद भी हम किसी पर नहीं पहुँच सके-

  • निदान
  • प्रमाण
  • परिणाम
  • रिमाण

उत्तर: 3

प्रश्न. निम्न में कौन सा वाक्य सरल वाक्य नहीं है?

  • लड़का दौड़ता है।
  • बंदर पेड़ पर चढ़ रहे थे।
  • मैंने लड़के को बुलाया।
  • इस मेले का उद्देश्य है कि व्यापार में वृद्धि हो ।

उत्तर: 4

प्रश्न. ” यद्यपि वह पंडित है, फिर भी हठी है” को संयुक्त वाक्य में परिवर्तित करने पर सही उत्तर होगा-

  • वह पंडित है, किंतु हठी है।
  • वह पंडित है। वह हठी है।
  • पंडित होने के कारण वह हठी है।
  • पंडित होते हुए भी वह हठी है।

उत्तर: 1

प्रश्न. दो या दो से अधिक समीपस्थ वर्णों के मेल से जो
परिवर्तन होता है, वह है-

  • संधिविच्छेद
  • स्वर
  • व्यंजन
  • सन्धि

उत्तर: 4

प्रश्न. मतैक्य’ में कौन-सी संधि है-

  • दीर्घ
  • यण्
  • वृद्धि
  • गुण

उत्तर: 3

प्रश्न. ‘देशांतर” में कौन-सा समास है?

  • कर्मधारय
  • द्विगु
  • बहुव्रीहि
  • द्वंद्व

उत्तर: 1

प्रश्न. ‘हानि-लाभ’ में कौन-सा समास है?

  • द्विगु समास
  • तत्पुरुष समास
  • बहुव्रीहि समास
  • द्वन्द्व समास

उत्तर: 4

प्रश्न. ‘रावण सिर सरोज बनचारी ।
चलि रघुवीर सिली-मुख धारी । ‘
सिली- मुख में अलंकार है

  • श्लेष
  • लाटानुप्रास
  • वृत्यनुप्रास
  • उपमा

उत्तर: 1

प्रश्न. निम्नलिखित वाक्य में रेखांकित किये हुए भाग में कौन-सा पदबंध है?
‘असहाय की बात आजकल नहीं सुनी जाती है।

  • क्रिया-विशेषण
  • सर्वनाम
  • विशेषण
  • क्रिया

उत्तर: 4

प्रश्न. निर्देश नीचे दिये पढ़कर पूछे गये प्रश्नों के उत्तर दीजिए

प्रेम की भाषा शब्द रहित है। नेत्रों की, कपोलों की मस्तक की भाषा भी शब्द-रहित है। जीवन का तत्व भी शब्द से परे है। सच्चा आचरण- प्रभाव, शील, अचल-स्थिति- संयुक्त आचरण न तो साहित्य के लंबे व्याख्यानों से गढ़ा जा सकता है न वेदों की श्रुतियों के मीठे उपदेशों से, न अंजील से, न कुरान से, न धर्मचर्चा से, न केवल सत्संग से जीवन के अरण्य में घुसे हुए पुरुष के हृदय पर प्रकृति और मनुष्य के जीवन के मौन व्याख्यानों के यत्न से सुनार के छोटे हथौड़े की मंद-मंद चोटों की तरह आचरण का रूप प्रत्यक्ष होता है।

प्रश्न. प्रेम की भाषा है

  • अर्थ – रहित
  • भाव- रहित
  • ज्ञान- रहित
  • शब्द -रहित

उत्तर: 4

प्रश्न. ‘अरण्य’ का शाब्दिक अर्थ होता है

  • वृक्ष
  • जंगल
  • उपवन
  • पुष्प

उत्तर: 2

प्रश्न. ‘यत्न’ से आशय है-

  • रत्न
  • भाषण
  • प्रयास
  • परिश्रम

उत्तर : ?

इस प्रश्न का सही उत्तर क्या होगा? नीचे कमेंट करके जरूर बताएं।

कमेन्ट करें