UP Labour Registration : यूपी श्रमिक पंजीकरण कराने वाले लोगों को मिलेगा इन योजनाओं का लाभ

विज्ञापन

UP Labour Registration : उत्तर प्रदेश श्रमिक कार्ड का उद्घाटन उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने किया है। उत्तर प्रदेश श्रम पंजीकरण योजना के तहत राज्य सरकार राज्य के सभी श्रमिक वर्ग को पंजीकृत होने का अवसर प्रदान करती है और राज्य सरकार श्रमिक पंजीकरण के तहत पंजीकृत श्रमिकों को सभी सरकारी योजनाओं का लाभ प्रदान करती है।

विज्ञापन

ऐसे में जो भी व्यक्ति उत्तर प्रदेश श्रमिक पंजीकरण 2021 के लिए ऑनलाइन आवेदन करने के इच्छुक हैं, वे इसके लिए योग्यता और मानदंडो को ध्यान से पढ़ लें। इसके अलावा इस लेख के जरिए हम आपको “उत्तर प्रदेश श्रमिक पंजीकरण 2021” के बारे में संक्षिप्त जानकारी प्रदान करेंगे।

UP Labour Registration

श्रमिक कार्ड ऑनलाइन उत्तर प्रदेश – संक्षिप्त विवरण

  • योजना का नाम : उत्तर प्रदेश श्रमिक पंजीकरण
  • लॉन्च किया गया : माननीय मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा
  • लाभार्थी : राज्य के श्रमिक
  • योजना का उद्देश्य : आर्थिक और सरकारी योजनाओं का लाभ प्रदान करना
  • आधिकारिक वेबसाइट : http://upbocw.in/
  • आय/जाति/निवास प्रमाणपत्र बनवाएं : edistrict UP

उत्तर प्रदेश श्रमिक पंजीकरण के लाभ

श्रम विभाग की ओर से श्रमिकों को काफी सारी योजनाओं का मुफ्त लाभ मिलेगा। इसके लिए उन्हें श्रम विभाग के कार्यालय में पंजीकरण कराना होगा। आप चाहें तो अपने नजदीकी लोक सेवा केंद्र पर संबंधित अभिलेखों के साथ ऑनलाइन पंजीकरण भी करा सकते हैं। साथ ही उन्हें श्रम विभाग में पंजीकरण के लिए 20 रुपये पंजीकरण शुल्क और 20 रुपये वार्षिक योगदान शुल्क जमा करना होगा, नीचे उन सेवाओं की सूची दी गई है –

विज्ञापन
  • मातृत्व, शिशु एवं बालिका मदद योजना
  • कौशल विकास, तकनीकी उन्नयन एवं प्रमाणन योजना
  • सौर उर्जा सहायता योजना
  • कन्या विवाह अनुदान योजना
  • आवास सहायता योजना
  • गम्भीर बीमारी सहायता योजना
  • मृत्यु, विकलांगता सहायता एवं अक्षमता पेंशन योजना
  • अन्त्येष्टि सहायता योजना
  • शौचालय सहायता योजना
  • चिकित्सा सुविधा योजना
  • आपदा राहत सहायता योजना
  • महात्मा गाँधी पेन्शन योजना
  • प0 दीनदयाल उपाध्याय चेतना योजना
  • संत रविदास शिक्षा सहायता योजना
  • मेधावी छात्र पुरस्कार योजना
  • आवासीय विद्यालय योजना

इसके अलावा रजिस्ट्रेशन करवाने के बाद प्रवासी श्रमिक चिकित्सा योजना के तहत 3000 रुपये के हकदार हो जाते हैं, साथ ही मृत्यु होने पर 5.25 लाख रुपये की राशि प्रदान की जाएगी, और गंभीर बीमारी की स्थिति में प्रवासी श्रमिकों के इलाज का सारा खर्च सरकार उठाएगी।

उत्तर प्रदेश लेबर रजिस्ट्रेशन के लिए जरुरी दस्तावेज

Uttar Pradesh Shramik Card रजिस्ट्रेशन के लिए आपको निम्नलिखित जरुरी दस्तावेजों की आवश्यकता पड़ सकती है –

विज्ञापन
  • आधार कार्ड
  • राशन पत्रिका
  • मतदाता पहचान पत्र
  • बैंक का विवरण
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

उत्तर प्रदेश लेबर कार्ड पंजीकरण करने की विधि

  • उत्तर प्रदेश लेबर कार्ड पंजीकरण के लिए सबसे पहले आपको श्रम विभाग, उत्तर प्रदेश सरकार की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • होमपेज पर नीचे की तरफ आपको “श्रमिक पंजीयन का आवेदन” बटन दिखाई देगा उसपर आपको क्लिक करना है, जैसा नीचे चित्र में दर्शाया गया है।
श्रमिक रजिस्ट्रेशन उत्तर प्रदेश
  • इस विकल्प पर क्लिक करते ही आपके सामने उत्तर प्रदेश श्रमिक पंजीकरण के लिए आवेदन फॉर्म खुल कर आ जाएगा।
  • यहाँ आपको अपना आधार एवं मोबाइल नंबर डालकर, मंडल और जनपद चुनना है और आवेदन करें बटन पर क्लिक करना है, जैसा नीचे चित्र में दर्शाया गया है।
विज्ञापन
  • आगे आपके मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी आएगा जिसे डालकर आपको प्रमाणित करना होगा, इसके बाद आपके सामने एक आवेदन पत्र खुलेगा जहाँ आपको सभी जानकारियां भरनी होंगी, और इसके बाद आपका पंजीकरण सफलतापूर्वक हो जाएगा।

इस प्रकार से आप घर बैठे अपने मोबाइल फोन से ही Uttar Pradesh Shramik Card बनवाने के लिए पंजीकरण कर सकते हैं, इसके अलावा आप उत्तर प्रदेश के uplabour.gov.in पोर्टल के जरिए भी अपना श्रमिक कार्ड बनवा सकते हैं।

यूपी लेबर कार्ड कौन-कौन बनवा सकता है?

उत्तर प्रदेश में लेबर कार्ड उत्तर प्रदेश के मूल निवासी जिनकी आयु 18 वर्ष या इससे अधिक है, और जो असंगठित क्षेत्रों में कार्यरत हैं, और निम्नलिखित कामगारों श्रेणियों में आते हैं वे उत्तर प्रदेश लेबर कार्ड बनवाने के लिए आवेदन कर सकते है –

विज्ञापन
  • राजमिस्त्री का कार्य
  • प्लुम्बरिंग
  • लोहार
  • मोजैक पॉलिश
  • सड़क निर्माण
  • मिक्सर चलाने का कार्य
  • पुताई
  • इलेक्ट्रॉनिक कार्य
  • वेल्डिंग का कार्य
  • बढ़ई का कार्य
  • कुआँ खोदना
  • रोलर चलाना
  • छप्पर डालने का कार्य
  • हथौड़ा चलाने का कार्य
  • सुरंग निर्माण
  • टाईल्स लगाने का कार्य
  • कुँए से गाद हटाने का कार्य/डिविंग
  • चट्टान तोड़ने का कार्य या खनिकर्म
  • स्प्रे वर्क या मिक्सिंग वर्क (सड़क निर्माण से संबद्ध)
  • चौकीदारी (निर्माण स्थल पर सुरक्षा प्रदान करने वाला)
  • चुना बनाना
  • मिट्टी का काम
  • मकानों/भवनों की आतंरिक सज्जा काक कार्य
  • बड़े यांत्रिक कार्य, जैसे मशीनरी, पुल निर्माण कार्य आदि
  • अग्निशमन प्रणाली की स्थापना एवं मरम्मत का कार्य
  • ठंडे एवं गरम मशीनरी की स्थापना और मरम्मत का कार्य
  • बाढ़ प्रबंधन व इसी प्रकार के अन्य कार्य से संबंधित सभी कार्य
  • सीमेंट, कंक्रीट, ईट आदि ढ़ोने का कार्य
  • लिफ्ट एवं स्वचालित सीढ़ी स्थापना का कार्य
  • सुरक्षा द्वार एवं अन्य उपकारणों की स्थापना का कार्य
  • मिट्टी, बालू व मौरंग के खनन का कार्य
  • ईट-भट्ठों पर ईट निर्माण का कार्य
  • सामुदायिक पार्क या फुटपाथ का निर्माण
  • रसोई में उपयोग हेतु माडूलर इकाइयों की स्थापना
  • खिड़की ग्रिल, दरवाजे आदि की गढ़ाई एवं स्थापना का कार्य
  • बाँध, पुल, सड़क का निर्माण या भवन निर्माण के अधीन कोई संक्रिया
  • स्विमिंग पुल, गोल्फ कोर्स आदि/सहित अन्य मनोरंजन सुविधाओं का निर्माण कार्य
  • लिपिकीय/लेखा-कर्म (किसी निर्माण अधिष्ठाना लिपि व् लेखाकार के रूप में कार्यरत सभी प्रकार के कर्मकार के लिए)
  • सभी प्रकार के पत्थर काटने, तोड़ने व पिसने का कार्य

कुछ महत्वपूर्ण प्रश्न

उत्तर प्रदेश श्रमिक पंजीकरण कितने दिनों में हो जाता है?

श्रमिक पंजीकरण जनहित गारंटी के अंतर्गत आवर्त है इसीलिए आवेदन करने के 7 दिन के भीतर पंजीयन हो जाता है।

यूपी में लेबर कार्ड कैसे बनवाएं?

उत्तर प्रदेश में लेबर कार्ड बनवाने के लिए आपको ऑनलाइन आवेदन करना होगा। इसके लिए आपको यूपी श्रमिक पंजीकरण की आधिकारिक वेबसाइट upbocw.in पर जाना होगा।

विज्ञापन
उत्तर प्रदेश श्रमिक कार्ड के क्या फायदें हैं?

उत्तर प्रदेश श्रमिक कार्ड बनवाने के बाद सरकार की तरफ से भविष्य में आपको आर्थिक सहायता के साथ ही कई सारी योजनाओं का लाभ भी मिलेगा।

आशा है हमारे द्वारा दी गई उत्तर प्रदेश श्रमिक पंजीकरण से जुड़ी यह जानकारी आपको पसंद आई होगी, ऐसी ही सरकारी योजनाओं की महत्वपूर्ण जानकारियों हेतु सरकारी अलर्ट को बुकमार्क करें।

विज्ञापन
विज्ञापन

  1. योगी जी किसी भी सरकारी योजना का लाभ सीधे तौर पर लेना अत्यंत दुर्लभ कठिन मैंने अट्ठारह में चिकित्सा सुविधा हेतु आवेदन किया था जिसका भुगतान होना दिखाया जा रहा है लेकिन मुझे प्राप्त नहीं हुआ मेरी बेटी डेढ़ साल की है लेकिन मुझे बोला गया इसका शिशु हितलाभ का लाभ 1 साल से पहले मिल सकता था 1 साल के बाद नहीं 10 चक्कर लगाने के बाद यह जानकारी प्राप्त हुई

    Reply
  2. विज्ञापन
      • महोदय जी मेरा भी पंजीकरण नही हुआ है तो तहसील में किससे मिलना होगा

      • किसी भी जन सुविधा केंद्र या CSC सेंटर से पंजीकरण करा सकते हो।

      • श्रम विभाग एक झुमटा और दलालों का रोजगार है इसमें हमारे बुंदेलखंड में जितनी भी दलाल हैं वह सभी दलाल झूठी बातें कर करके मजदूरों से पैसा आते रहते हैं मैं भी एक श्रम विभाग का सदस्य हूं मैंने भी श्रम विभाग में पंजीकरण करवाया है और अभी तक 3 साल के अंतर्गत अपनी जेब से दो हजार या तीन हजार पैसा दलालों को दे चुका हूं मगर अभी तक एक पैसे का हमें कोई भी लाभ नहीं मिला है इस खबर को योगी आदित्यनाथ जी के पास पहुंचाई जाए और श्रम विभाग की सर्वे कराई जाए हमारे पास तक कोई भी लाभ नहीं आ पाता है

      • Bak bash sarkar hai Akhilesh Yadav ki sarkar mai saikil bhi milti thi is Sarkar mai karam cari maje mar rahe hai

  3. योगी सरकार मजदूरों के बारे में भी सोचती है???

    Reply
      • श्रम कामगार को साइकिल दिलवानी हो तो क्या करना पडता है और कहाँ सम्पर्क करना पड़ता है

    • रुपकिशोर डगरोली वालैश्रम. You have a dean falcon you can go away i will tell overture how lovely meal on me lyrics yeah hi you dirty smelly bottom of your anime harmonica duty hello where are you please call me

      Reply
  4. विज्ञापन
  5. विज्ञापन
      • Sir upbocw me balance nhi kat ta h.mera sharmik kard aaj 15din ho gaye satyapit nhi huaa h.koi sujhav batye

      • यां सब बाकबास ह मैं अमरोह श्रम विभाग में अपना कार्ड को लेकर गया एक बार नही 4 बार फिर भी उन्हों काम नहीं किया 1 अंशदान करना की फीस 700 मांगी मे नही मानता 7830821512 call

कमेन्ट करें