RRB NTPC CBT 2 Exam 2022: भारतीय संविधान एवं राजव्यवस्था के मुख्य प्रश्न, देखें

RRB NTPC CBT 2 Indian Constitution And Polity Practice Set 05: भारतीय रेलवे भर्ती बोर्ड द्वारा RRB NTPC CBT 2 की परीक्षा का आयोजन 15 फरवरी 2022 से 19 फरवरी 2022 तक प्रस्तावित किया गया था, फिलहाल इसे स्थगित कर दिया गया है, आपको बता दें कि रेलवे भर्ती बोर्ड द्वारा जल्द ही यह परीक्षा आयोजित कराई जायेगी, इसलिए ऐसी परिस्थिति में उम्मीदवार अपनी तैयारी को निरंतर जारी बनाये रखें।

ऐसे में आज हम इस लेख के माध्यम से रेलवे भर्ती बोर्ड द्वारा आयोजित की गयी पिछली परीक्षाओं में पूछे जा चुके भारतीय संविधान एवं राजव्यवस्था के 25 महत्वपूर्ण प्रश्नोत्तर को लेकर आये हैं, अतः इन प्रश्नों के अध्ययन से उम्मीदवारों की तैयारी और मजबूत होगी, साथ ही परीक्षा में अच्छे अंक प्राप्त करने में भी मदद मिलेगी।

RRB NTPC CBT 2 Indian Constitution And Polity Practice Set 05
RRB NTPC CBT 2 Polity Practice Set 5

RRB NTPC CBT 2 Indian Constitution And Polity Practice Set 05 (25 महत्वपूर्ण प्रश्नोत्तर)

प्रश्न. भारतीय संविधान की प्रस्तावना में जिन आदर्शों एवं उद्देश्यों की रूपरेखा दी गयी है, उनकी व्याख्या की गयी है-

  • मूल अधिकारों के अध्याय में
  • राज्य के नीति निदेशक सिद्धान्तों के अध्याय में
  • मूल अधिकारों, राज्य के नीति निदेशक सिद्धान्तों एवं मौलिक कर्तव्यों के अध्याय में
  • संविधान के पाठ में कहीं नहीं

उत्तर : 3

प्रश्न. भारतीय संविधान की प्रस्तावना में निम्नलिखित में से किस स्वतंत्रता का वर्णन नहीं है?

  • विचार की स्वतन्त्रता
  • विचार प्रकट करने की स्वतन्त्रता
  • विश्वास की स्वतन्त्रता
  • आर्थिक स्वतन्त्रता

उत्तर : 4

प्रश्न.  26 नवम्बर, 1949 को अंगीकृत भारतीय संविधान की प्रस्तावना में शब्द सम्मिलित नहीं थे-

1.समाजवादी
2.पंथनिरपेक्ष
3.गणराज्य
4.अखण्डता

अधोलिखित कूटों में से सही उत्तर चुनिये-

  • 1, 2 और 3
  • 2, 3 और 4
  • 3 और 4
  • 1, 2 और 4

उत्तर : 1

प्रश्न. संविधान में दिया गया आमुख-

1. न्यायालय में लागू होता है।
2. महत्वपूर्ण है और उसकी उपयोगिता है।
3. शासन करने के उद्देश्यों को उल्लिखित करता है।
4. संविधान के कानूनी अर्थ निर्णय में सहायता करता है।

नीचे दिए गए कूट में से सही उत्तर का चयन कीजिए-

  • 1 और 2
  • 2 और 3
  • 1, 2 और 3
  • 2, 3 और 4

उत्तर :  4

प्रश्न. ‘समाजवादी’ तथा ‘धर्मनिरपेक्ष’ शब्द संविधान की प्रस्तावना में सम्मिलित किए गए थे-

  • 41 संशोधन द्वारा
  • 42वें संशोधन द्वारा
  • 43 संशोधन द्वारा
  • 44वें संशोधन द्वारा

उत्तर : 2

प्रश्न. “सभी व्यक्ति पूर्णतः और समान रूप से मानव हैं” यह सिद्धांत जाना जाता है-

  • सार्वभौमिकता
  • समष्टिवाद
  • समाजवाद
  • अन्तः क्रियावाद

उत्तर : 1

प्रश्न. भारतीय गणतंत्र 26-11-1950 को सही संवैधानिक वस्तुस्थिति थी जब संविधान लागू किया गया था?

  • लोकतंत्रात्मक, गणतंत्र
  • सम्पूर्ण प्रभुत्व सम्पन्न, धर्मनिरपेक्ष, लोकतंत्रात्मक, गणराज्य
  • सम्पूर्ण प्रभुत्व सम्पन्न, लोकतंत्रात्मक, गणराज्य
  • सम्पूर्ण प्रभुत्व सम्पन्न, समाजवादी, धर्म निरपेक्ष, लोकतंत्रात्मक, गणराज्य

उत्तर : 3

प्रश्न. निम्नलिखित में से कौन सही है?

  • सामाजिक समानता संविधान में प्रत्याभूत नहीं है।
  • देश में सामाजिक समानता पहले से ही विद्यमान थी
  • सामाजिक समानता संविधान में प्रत्याभूत है।
  • उपर्युक्त से कोई नहीं।

उत्तर : 3

प्रश्न. भारत सन्दर्भ निम्न में से कौन ‘धर्मनिरपेक्ष’ शब्द का सही व्यक्त करता है?

  • भारत अनेक धर्म हैं।
  • भारतीयों को धार्मिक स्वतंत्रता प्राप्त है।
  • धर्मानुपालन व्यक्ति की इच्छा पर निर्भर है।
  • भारत का कोई धर्म नहीं है।

उत्तर : 4

प्रश्न. निम्नलिखित शब्दों कौन सा शब्द सन् 1975 में भारतीय संविधान प्रस्तावना सम्मिलित था?

  • बन्धुत्व
  • सम्प्रभु
  • समानता
  • अखण्डता

उत्तर : 4

प्रश्न. निम्नलिखित की उद्देशिका नहीं है?

  • समाजवादी
  • लोक कल्याण
  • पंथनिरपेक्ष
  • प्रभुतासम्पन्न

उत्तर : 2

प्रश्न. निम्नलिखित में किस वाद उच्चतम न्यायालय णे धारणा प्रस्तुत कि की ‘उद्देशिका संविधान का भाग है?

  • यूनियन ऑफ इंडिया बनाम डॉ. कोहली
  • बनारसी दास बनाम स्टेट ऑफ यू.पी.
  • बोम्मई यूनियन ऑफ बनाम पंजाब
  • मलक सिंह बनाम स्टेट ऑफ पंजाब

उत्तर : 3

प्रश्न. निम्नलिखित कौन-सी भारतीय संविधान की विशेषता नहीं है?

  • संसदात्मक सरकार
  • अध्यक्षात्मक सरकार
  • स्वतंत्र न्यायपालिका
  • संघात्मक सरकार

उत्तर : 2

प्रश्न. निम्नलिखित कौन-सा राज्य का सबसे महत्वपूर्ण तत्व है?

  • ध्वज
  • राजधानी
  • संप्रभुता
  • शासनाध्यक्ष

उत्तर : 3

प्रश्न. भारत में प्रजातंत्र इस तथ्य पर आधारित है कि-

  • संविधान लिखित है।
  • यहाँ मौलिक अधिकार प्रदान किए गए हैं।
  • जनता को सरकारों को चुनने तथा बदलने का अधिकार प्राप्त है।
  • यहाँ राज्य के नीति निदेशक तत्व है।

उत्तर : 3

प्रश्न. निम्नांकित में से कौन एक अध्यक्षात्मक शासन प्रणाली का आधारभूत तत्व है।

  • एकल कार्यपालिका
  • संविधान की कठोरता
  • व्यवस्थापिका की सर्वोच्चता
  • अविशिष्ट अधिकार राज्यों के पास होना

उत्तर : 1

प्रश्न. गणतंत्रीय अवधारणा से सम्बन्धित निम्नांकित में से कौन एक नहीं है?

  • एक राज्य जिसमें जनता सर्वोच्च हो
  • सर्वोच्च शक्ति निर्वाचित प्रधान में निहित हो
  • सर्वोच्च शक्ति एक राजा के समान (एक ही) व्यक्ति में निहित हो
  • एक ऐसी सरकार जो जनता द्वारा निर्वाचित प्रतिनिधियों से बने

उत्तर : 3

प्रश्न. संसदीय शासन प्रणाली सर्वप्रथम किस देश में विकसित हुई?

  • ब्रिटेन
  • बेल्जियम
  • फ्रांस
  • स्विट्जरलैंड

उत्तर : 1

प्रश्न. किसने कहा था: “भारत एक अर्ध संघात्मक राज्य है?”

  • हेरॉल्ड लास्की
  • लार्ड ब्राइस
  • आइवर जेनिग्स
  • के.सी ह्वीयर

उत्तर : 4

प्रश्न. संसदात्मक शासन व्यवस्था में-

  • न्यायपालिका का कार्यपालिका पर नियंत्रण होता है।  कार्यपालिका का न्यायपालिका पर नियंत्रण होता है।
  • कार्यपालिका का विधायिका पर नियंत्रण होता है।
  • विधायिका का कार्यपालिका पर नियंत्रण होता है।

उत्तर : 4

प्रश्न. निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिए:

1. भारत एक लोकतांत्रिक राज्य व्यवस्था है।
2. भारत एक प्रभुसत्ता सम्पन्न राज्य है।
3. भारत में लोकतांत्रिक समाज है।
4. भारत एक कल्याणकारी राज्य है।

उपरोक्त कथनों में से कौन से सही हैं?

  • 1 और 2 केवल
  • 2, 3 और 4 केवल
  • 1, 2 और 3 केवल
  • 1, 2, 3 और 4

उत्तर : 4

प्रश्न. भारतीय संविधान के वृहद होने के कारण है-

  • इसमें अनेक संविधानों के अनुभव समाविष्ट हैं।
  • इसमें विस्तृत प्रशासकीय प्रावधान है।
  • यह एक बड़े देश के शासन से सम्बन्धित है
  • यह संघ तथा राज्य सरकारों का संविधान है।

उत्तर : 4

प्रश्न. भारतीय संघवाद को सहकारी संघवाद किसने कहा है?

  • जी आस्टिन
  • के.सी. हीयर
  • सर आइवर जेनिंग्स
  • डी.डी. बसु

उत्तर : 1

प्रश्न. निम्नांकित में से किस एक का कथन है कि “संविधान को संघात्मकता के तंग ढांचे में नहीं ढाला गया है?

  • डी.डी. बसु
  • के. एम. मुंशी
  • बी. आर. अम्बेडकर
  • ए. के अय्यर

उत्तर : 3

प्रश्न. भारत में राजनीतिक व्यवस्था के मूलभूत लक्षण हैं-

1. यह एक लोकतांत्रिक गणतन्त्र है।
2. इसमें संसदात्मक रूप की सरकार है।
3.सर्वोच्च सत्ता भारत की जनता में निहित है।
4.यह एक एकीकृत शक्ति का प्रावधान करती है।

नीचे दिए गए कूट में से सही उत्तर का चयन कीजिए

  • 1 और 2
  • 1, 2 और 3
  • 2, 3 और 4
  • सभी चारों

उत्तर : 2

प्रश्न.  भारतीय राजनीतिक पद्धति के बारे में निम्न में कौन सही नहीं है?

  • संसदीय पद्धति की सरकार
  • धर्म निरपेक्ष राज्य
  • संघीय नीति
  • राष्ट्रीय पद्धति की सरकार

उत्तर : 4

प्रश्न. निम्नलिखित में से किससे विनिर्धारित होता है कि भारत का संविधान परिसंघीय है?

  • संविधान लिखित और अनम्य है।
  • अवशिष्ट शक्तियों का केन्द्र में निहित होना
  • न्यायपालिका स्वतंत्र है
  • केन्द्र और राज्यों के बीच शक्तियों का वितरण

इस प्रश्न का सही उत्तर क्या होगा? हमें अपना जवाब कमेंट सेक्शन में जरूर दें।

आशा है आपको यह प्रैक्टिस सेट पसंद आया होगा, सरकारी परीक्षाओं से जुड़ी हर जानकरियों हेतु सरकारी अलर्ट को बुकमार्क जरूर करें।

Leave a Comment