RRB NTPC CBT 2 सामान्य ज्ञान प्रैक्टिस सेट 7 : पिछले वर्षों के विशेष प्रश्नों का संग्रह

RRB NTPC CBT 2 GK Practice Set 7 : रेलवे द्वारा RRB NTPC CBT – 2 की परीक्षा तारीख निर्धारित कर दी गई है, यह परीक्षा 14 फरवरी से 18 फरवरी के बीच मे आयोजित कराई जाएगी, फिलहाल अभी तक NTPC CBT– 1 का रिजल्ट की प्रक्रिया जारी नहीं किया गया है, लेकिन रेलवे भर्ती बोर्ड की तरफ से आधिकारिक आदेश के अनुसार CBT 1 का रिजल्ट की प्रक्रिया 15 जनवरी 2022 को जारी कर दिया जाएगा।
ऐसे में हमारी टीम इस लेख के जरिये, पिछले वर्षों के विशेष सामान्य ज्ञान के बेहद महत्वपूर्ण चुने हुए प्रश्नों को लेकर आए हैं अतः इन प्रश्नों का अध्ययन करके अभ्यर्थी को परीक्षा में अच्छे अंक सुनिश्चित कर पाएंगे तथा स्वयं का मूल्यांकन भी कर पाएंगे।

RRB NTPC CBT 2 GK Practice Set 7
RRB NTPC CBT 2 GK Practice Set 7

RRB NTPC CBT 2 GK Practice Set 7

प्रश्न. प्राचीन हिंदू विधि का लेखा किस को कहा जाता है-

  • वाल्मीकि
  • वशिष्ठ
  • मनु
  • पाणिनि

उत्तर : 3

प्रश्न. भगवान बुद्ध ने अपना प्रथम उपदेश कहाँ दिया था?

  • बोधगया
  • सारनाथ
  • सांची
  • कुशीनगर

उत्तर : 2

प्रश्न. जातक पवित्र ग्रंथ है-

  • वैष्णवों का
  • जैनियों का
  • बौध्दों का
  • शैवों का

उत्तर : 3

प्रश्न. बौद्ध धर्म के प्रचार-प्रसार के लिए कौन-सी भाषा प्रयोग की गई थी?

  • संस्कृत
  • हिन्दी
  • प्राकृत
  • पालि

उत्तर : 4

प्रश्न. त्रिपिटकका …….. का धार्मिक ग्रंथ है।

  • हिन्दू धर्म
  • मुस्लिम धर्म
  • जैन धर्म
  • बौद्ध धर्म

उत्तर : 4

प्रश्न. बुद्ध के उपदेशों का संग्रह है

  • बुद्ध चरित्
  • अभिधम्म पिटक
  • सुत पिटक
  • विनय पिटक

उत्तर : 3

प्रश्न. बौद्ध शिक्षा का वर्णन निम्नलिखित में से किसमें है?

  • त्रिरत्न में
  • त्रिपिटक में
  • शीलव्रत में
  • अणुव्रत में

उत्तर : 2

प्रश्न. प्राचीन भारत का वह प्रसिद्ध शासक जिसने अपने जीवन के अंतिम दिनों में जैन धर्म अपनाया था?

  • चंद्रगुप्त
  • अशोक
  • बिन्दुसार
  • समुद्रगुप्त

उत्तर : 1

प्रश्न. चाणक्य किस का प्रधानमंत्री था?

  • चंद्रगुप्त मौर्य
  • चंद्रगुप्त द्वितीय
  • बिम्बिसार
  • अशोक

उत्तर : 1

प्रश्न. चाणक्य को निम्न से जाना जाता था-

  • विष्णुगुप्त
  • समुद्रगुप्त
  • श्रीगुप्त
  • इनमें से कोई नहीं

उत्तर : 1

प्रश्न. निम्नलिखित में से कौन-सा भारत का प्राचीनतम राजवंश है?

  • कुषाण
  • वर्धन
  • मौर्य
  • गुप्त

उत्तर : 3

प्रश्न. हड़प्पा संस्कृति की मुद्राओं एवं पक्की मिट्टी की कलाकृतियों में किस पशु का चित्रण नहीं किया गया है?

  • गाय
  • बाघ
  • गैंडा
  • हाथी

उत्तर : 1

प्रश्न. सिन्धु घाटी सभ्यता के लोगों की मुद्रा (Coins) में किस देवता की आकृति चित्रित थी?

  • पशुपति
  • विष्णु
  • इन्द्र
  • वरुण

उत्तर : 1

प्रश्न. निम्नलिखित में से प्राचीनतम राजवंश कौन-सा है?

  • मौर्य
  • नंद
  • गुप्त
  • पल्लव

उत्तर : 2

प्रश्न. महाबलीपुरम् में स्थित मंदिर संबंधित है-

  • काकतीय वंश से
  • चोल वंश से
  • पल्लव वंश से
  • गुप्त वंश से

उत्तर : 3

प्रश्न. मंदिर निर्माण-कला में विमान-शैली का प्रचलन किसके शासनकाल में हुआ?

  • मौर्य वंश
  • चोल वंश
  • गुप्त वंश
  • राष्ट्रकूट वंश

उत्तर : 2

प्रश्न. तंजौर के वृहद् मंदिर का निर्माण ……. ने किया।

  • कुलोत्तुंग चोल
  • राजराजा चोल
  • राजेंद्र चोल
  • सुंदर चोल

उत्तर : 2

प्रश्न. चोल शासकों की भाषा क्या थी?

  • संस्कृत
  • कन्नड़
  • तमिल
  • तेलुगू

उत्तर : 3

प्रश्न. राष्ट्रकूटों द्वारा निर्मित प्रसिद्ध मंदिर कौन-सा है?

  • अजंता
  • महाबलीपुरम्
  • एलोरा
  • खजुराहो

उत्तर : 3

प्रश्न. सिन्धु घाटी सभ्यता के लोग पूजा करते थे-

  • विष्णु
  • ब्रह्मा
  • इन्द्र और वरुण
  • पशुपति

उत्तर : 4

प्रश्न. निम्नलिखित में से किस विद्वान ने सर्वप्रथम हड़प्पा सभ्यता के अवशेषों को खोजा था?

  • सर जॉन मार्शल
  • आर. डी. बनर्जी
  • ए. कनिंघम
  • दयाराम साहनी

उत्तर : 3

प्रश्न. सिंधु घाटी सभ्यता की लिपि थी-

  • ब्राह्मी
  • द्रविड़ीयन
  • हड़प्पा
  • अभी तक सही पहचान नहीं हो पाई है

उत्तर : 4

प्रश्न. ऋग्वैदिक आर्य किस भाषा का प्रयोग करते थे?

  • द्रविड़
  • प्राकृत
  • संस्कृत
  • अथर्ववेद

उत्तर : 3

प्रश्न. शास्त्रीय संगीत के सिद्धांत की विवेचना की गई है-

  • यजुर्वेद में
  • सामवेद में
  • ऋग्वेद में
  • अथर्ववेद में

उत्तर : 2

प्रश्न. वैदिक युग के लोगों द्वारा सर्वप्रथम किस धातु का प्रयोग किया गया था?

  • चाँदी
  • सोना
  • लोहा
  • ताँबा

उत्तर : ??

इस प्रश्न का सही उत्तर क्या होगा? हमें अपना जवाब कमेंट सेक्शन में जरूर दें।

आशा है आपको यह प्रैक्टिस सेट पसंद आया होगा, सरकारी परीक्षाओं से जुड़ी हर जानकरियों हेतु सरकारी अलर्ट को बुकमार्क जरूर करें।

Leave a Comment