REET बाल विकास एवं शिक्षण विधियाँ प्रैक्टिस सेट 02 : विगत परीक्षाओं में पूछें गये महत्वपूर्ण प्रश्न, अवश्य पढ़ें

REET Child Development And Teaching Methods Practice Set 02 : राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड अजमेर द्वारा शिक्षक भर्ती के लिए राजस्थान अध्यापक पात्रता परीक्षा (रीट) की अधिसूचना जारी कर दी गयी है, तथा इस परीक्षा का आयोजन 23 और 24 जुलाई 2022 को किया जाएगा। आयोग द्वारा अब इसके लिए एडमिट कार्ड जारी कर दिया गया है।

अब उम्मीदवार के पास बहुत ही कम समय शेष बचा हुआ है, ऐसे में उम्मीदवारों को यह सलाह दी जाती है कि वे अपनी तैयारी को और तेज कर दें। इसी कड़ी में आज हम बाल विकास के इस प्रैक्टिस सेट को लेकर आए हैं, जो की परीक्षा दृष्टि से अतिमहत्वपूर्ण प्रश्न साबित होंगे और साथ ही इनका अध्ययन करने से उम्मीदवार को परीक्षा में पूछें जाने वाले प्रश्नों के स्तर का भी आकलन हो जाएगा।

REET Child Development And Teaching Methods Practice Set 02
REET Child Development And Teaching Methods Practice Set 02

REET Child Development And Teaching Methods Practice Set 02 (25 महत्वपूर्ण MCQ)

प्रश्न. किस मनोवैज्ञानिक के द्वारा सर्वप्रथम बुद्धि परीक्षण का निर्माण किया गया ?

  • वेवसलर
  • बिने
  • कैटल
  • स्पीयरमैन

उत्तर: 2

प्रश्न. एक शिक्षक द्वारा प्रतिभाशाली बालकों के उत्थान हेतु कौन-सा प्रयास किया जाएगा?

  • पढ़ाने की धीमी गति
  • विशिष्ट कक्षाएँ व प्रोत्साहन
  • उन्हें दंड देना
  • उन पर ध्यान नहीं देना

उत्तर: 2

प्रश्न. शिक्षा के अधिकार अधिनियम, 2009 में शिक्षक के लिए प्रति सप्ताह न्यूनतम कार्य घंटों की संख्या क्या है ?

  • 30
  • 56
  • 45
  • 70

उत्तर: 3

प्रश्न. एक विद्यालय के प्रधानाचार्य द्वारा विद्यार्थियों की विभिन्न संवेगात्मक समस्याओं के कारणों को पहचानने व उन्हें दूर करने हेतु कौन-सा अनुसंधान किया जाता है?

  • क्रियात्मक अनुसंधान
  • गुणात्मक अनुसंधान
  • ऐतिहासिक अनुसंधान
  • वर्णनात्मक अनुसंधान

उत्तर: 1

प्रश्न. निम्नलिखित में से कौन-सा सिद्धान्त परिणामों द्वारा सीखने से संबंधित है ?

  • क्रिया-प्रसूत अनुबन्धन
  • अंतर्दृष्टि अधिगम
  • शास्त्रीय अनुबन्धन
  • संज्ञानात्मक सीखना

उत्तर: 1

प्रश्न. जब हम वर्तमान ‘स्कीमा’ का प्रयोग बाह्य जगत् के विश्लेषण हेतु करते हैं, तब उसे कहा जाता है?

  • आत्मसात्मीकरण
  • संबंध
  • अनुकूलन
  • संतुलन

उत्तर: 1

प्रश्न. निम्नलिखित में से कौन-सी प्रक्षेपीय परीक्षण की विशेषता नहीं है ?

  • अस्पष्ट उद्दीपक
  • अनुक्रिया की स्वतन्त्रता
  • व्यक्तिपरक प्रत्यक्षक
  • वस्तुनिष्ठ व्याख्या

उत्तर: 4

प्रश्न. व्यक्तित्व को मापने के लिये सोलह पी.एफ. प्रश्नावली किसने दी ?

  • गोर्डन आलपोर्ट
  • शैल्डन
  • आर.वी. कैटल
  • स्प्रेन्जर

उत्तर: 3

प्रश्न. निम्नलिखित में से कौन-सी विशेषता प्रतिभावान शिक्षार्थी की है ?

  • यदि कक्षा की गतिविधियाँ अधिक चुनौतीपूर्ण नहीं होती हैं, तो वह कम प्रेरित अनुभव करता है और ऊब जाता है
  • वह आक्रामक और कुंठित हो जाता है
  • वह रस्मी व्यवहार करता है जैसे हाथ थपथपाना, हिलना आदि
  • वह बहुत ही तुनकमिज़ाजी होता है

उत्तर: 1

प्रश्न. विशेष आवश्यकता वाले बच्चों को शामिल करना

  • एक अवास्तविक लक्ष्य है।
  • विद्यालयों पर भार बढ़ा देगा
  • शिक्षण के प्रति दृष्टिकोण, विषय-वस्तु और धारणा परिवर्तन की अपेक्षा रखता है
  • जिनमें अक्षमता न हो, उन बच्चों के लिये हानिकारक है

उत्तर: 3

प्रश्न. व्यक्तिगत विभिन्नता का सम्मान करते वक्त, एक शिक्षक से क्या आशा नहीं की जा सकती है?

  • योग्यतानुसार समूह में विभक्त करना।
  • पाठ्यचर्या को समायोजित करना
  • बच्चों को स्वाध्याय के लिए छोड़ देना।
  • शिक्षण विधियों को समायोजित करना।

उत्तर: 3

प्रश्न. यदि पूनम की कालांनुक्रमिक उम्र तथा मानसिक उम्र 9 साल है, तो उसकी बुद्धि-लब्धि का वर्ग हो सकता है

  • उत्कृष्ठ
  • औसत
  • औसत से कम
  • प्रतिभावान

उत्तर: 2

प्रश्न. निम्न में से कौन-से स्वलीनता के लक्षण हैं?

  • कमजोर सामाजिक व्यवहार
  • रूढ़िबद्ध व्यवहार
  • कमजोर संप्रेषण
  • ऊपरी लिखित सभी

उत्तर: 4

प्रश्न. मात्रात्मक व्यक्तिगत क्षमता रूपी प्रक्रिया को कहा जाता है?

  • विकास (डेवलपमेंट)
  • वृद्धि (ग्रोथ )
  • संतुलन (इक्किलिब्रियम)
  • परिपक्वता ( मैचुरेशन)

उत्तर: 2

प्रश्न. किशोरावस्था में एक बच्चे के उचित विकास हेतु माता-पिता तथा शिक्षक निम्न कार्य कर सकते हैं: (निम्न में से कौन-सा ) ?

  • लिंग शिक्षा का उचित ज्ञान देना
  • उचित वातावरण प्रदान करना
  • परामर्श तथा मार्गदर्शन सेवा की व्यवस्था करना
  • इनमें से सभी

उत्तर: 4

प्रश्न. एक पाँच वर्ष के बच्चे में दूसरों के प्रति प्रतिक्रिया तथा संप्रेषण में कमी है तथा असामान्य व्यवहार को बारंबार करता है। इस तरह के लक्षण किस चीज का प्रतीक है?

  • श्रवण बाधिता
  • शैक्षिक पिछड़ापन
  • शैशव स्वलीनता
  • अधिगम अक्षमता

उत्तर: 3

प्रश्न. किशोरावस्था की ऐसी आदत जिसमें खुद को भूखे रखने की प्रवृत्ति होती है तथा यह ज्यादा बालिकाओं में पायी जाती है। ऐसी अवस्था को कहा जाता है?

  • एनोरेक्सिया
  • डेलीरियम ट्रेमेन्स
  • स्वलीनता
  • डाउन सिण्ड्रोम

उत्तर: 1

प्रश्न. निम्न में से कौन-सा शब्द दूरदर्शिता के लिए दिया गया है?

  • ऑप्टिक एट्रोफी
  • एस्टिगमेटिज्म
  • हाईपरोपिया
  • रिफ्रैक्शन

उत्तर: 2

प्रश्न. सीखने का व्यावहारिक सिद्धांत……… द्वारा दिया गया है?

  • थार्नडाइक
  • गार्डनर,
  • कोहलर
  • हल तथा टोलमैन

उत्तर: 3

प्रश्न. निम्न में से कौन-सी संस्था प्रशिक्षण नियमावली तथा कार्यक्रमों का विकलांगता पुनर्वास के क्षेत्र में भारत में क्रियान्वयन करता है?

  • राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद
  • राष्ट्रीय शैक्षिक योजना एवं प्रशासन विश्वविद्यालय
  • राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसन्धान एवं प्रशिक्षण परिषद
  • भारतीय पुनवार्स परिषद

उत्तर: 4

प्रश्न. एक क्रिकेट खिलाड़ी अपनी गेंदबाजी के कौशल को विकसित कर लेता है, पर यह उसके बल्लेबाजी के कौशल को प्रभावित नहीं करता। इसे कहते-

  • विधेयात्मक प्रशिक्षण अन्तरण
  • निषेधात्मक प्रशिक्षण अन्तरण
  • शून्य प्रशिक्षण अन्तरण
  • इनमें से कोई नहीं

उत्तर: 3

प्रश्न. निम्न में से कौन-सा कथन किसी व्यक्ति के मानसिक स्वास्थ्य को उत्तम रूप से प्रदर्शित करता है?

  • पूर्ण अभिव्यक्ति, संगतिकरण और सामान्य लक्ष्य की और निर्देशन
  • मानसिक विकारों का न होना
  • व्यक्तित्व के विकारों से मुक्ति
  • उपर्युक्त सभी

उत्तर: 1

प्रश्न. फ्रायड, पियाजे एवं अन्य मनोवैज्ञानिकों ने व्यक्तित्व विकास की विभिन अवस्थाओं के संदर्भ में व्याख्या की है। पर पियाजे ने

  • कहा कि विकास की अवस्था वातावरण से निर्धारित होती हैं।
  • कहा कि शैशवावस्था के अनुभव ही अधिक प्रभावित करते हैं, बाकी अवस्थाओं के सीमित प्रभाव होते हैं।
  • विभिन्न अवस्थाओं को समझाने के लिए संज्ञानात्मक बदलाव के बारे में कहा।
  • इनमें से कोई नहीं

उत्तर: 3

प्रश्न. गिलफोर्ड ने ‘अभिसारी चिन्तन’ पद का प्रयोग किसके समान अर्थ में किया है?

  • बुद्धि
  • सूजनात्मकता
  • बुद्धि एवं सृजनात्मकता
  • इनमें से कोई नहीं

उत्तर: 2

प्रश्न. निम्न में से कौन-सा कथन रुचि के बारे में सत्य नहीं है?

  • रुचियाँ जन्मजात और अर्जित दोना होती हैं।
  • रुचियाँ समय के अनुसार बदलती रहती है।
  • रुचियाँ योग्यताओं एवं अभिक्षमताओं से संबंधित नहीं होती हैं।
  • रुचियाँ व्यवहार में आकर्षण एवं विकर्षण के प्रतिविम्ब नहीं है।

उत्तर: ?

इस प्रश्न का सही उत्तर क्या होगा? हमें अपना जवाब कमेंट सेक्शन में जरूर दें।

आशा है आपको हमारे द्वारा प्रदान किया गया यह प्रैक्टिस सेट अवश्य पसन्द आया होगा। ऐसे ही हर प्रकार की सरकारी परीक्षाओं के प्रैक्टिस सेट प्राप्त करने के लिए सरकारी अलर्ट को बुकमार्क करें।

कमेन्ट करें