RAJSTHAN REET बाल विकास एवं शिक्षण विधियां प्रैक्टिस सेट 05 : परीक्षा में पूछें जा सकते हैं, इस प्रकार के प्रश्न जरूर पढ़ें

RAJSTHAN REEET Child Development And Teaching Methods Practice Set 05 : राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड अजमेर द्वारा शिक्षक भर्ती के लिए राजस्थान अध्यापक पात्रता परीक्षा (रीट) की अधिसूचना जारी कर दी गयी है, तथा इस परीक्षा का आयोजन 23 और 24 जुलाई 2022 को किया जाएगा। आयोग द्वारा अब इसके लिए एडमिट कार्ड जारी कर दिया गया है।

हम आपको बता दें की अब उम्मीदवार के पास बहुत ही कम समय शेष बचा हुआ है, जिसको देखते हुये आज हम अभ्यर्थी के बेहतर परिणाम और अधिक अंक प्राप्त करने हेतु बाल विकास एवं शिक्षण विधियाँ के इस प्रैक्टिस सेट को लेकर आये हैं। जो की परीक्षा दृष्टि से अतिआवश्यक प्रश्न साबित होंगे और साथ ही उम्मीदवार को परीक्षा में पूछें जाने वाले प्रश्नों के स्तर से भी अवगत कराएंगे।

RAJSTHAN REEET Child Development And Teaching Methods Practice Set 05
RAJSTHAN REEET Child Development And Teaching Methods Practice Set 05

RAJSTHAN REEET Child Development And Teaching Methods Practice Set 05 (25 MCQ)

प्रश्न. परिवेश की वस्तु, जिसे प्राणी प्राप्त करने का प्रयास करता है, कही जाती है?

  • प्रबलन
  • प्रेरक
  • उद्दीपक
  • प्रलोभन

उत्तर: 2

प्रश्न. व्यक्तिगत भेद में हम पाते हैं?

  • विचलनशीलता
  • प्रतिमानता
  • दोनों (a) और (b)
  • उपर्युक्त में से कोई नहीं

उत्तर: 3

प्रश्न. मेरडिथ के अध्ययन के आधार पर कहा जाता है कि सामान्य रूप से उन परिवारों के बालक होते हैं, जो सामाजिक स्तर से ऊँचे होते हैं।

  • अधिक स्वस्थ एवं विकसित.
  • अधिक स्वस्थ एवं कम विकसित
  • कम स्वस्थ एवं विकसित
  • स्वस्थ नहीं पर विकसित

उत्तर: 2

प्रश्न. कैटल द्वारा विश्लेषित किए गए व्यक्तित्व शीलगुणों की संख्या कितनी हैं?

  • 13
  • 16
  • 15
  • 14

उत्तर: 2

प्रश्न. सशक्त अभिप्रेरणा सीखने का प्रभावशाली घटक है?

  • इससे बालक स्वस्थ रहता है।
  • ध्यान करता है।
  • शीघ्र सीखता है।
  • प्रसन्न रहता है

उत्तर: 3

प्रश्न. निम्न में कौन-सी तकनीक प्रक्षेपण तकनीक नहीं हैं?

  • खेल तकनीक
  • शब्द साहचर्य परीक्षण
  • चित्र साहचर्य परीक्षण
  • व्यक्तिगत अध्ययन

उत्तर: 4

प्रश्न. प्रजातिगत व्यक्तिगत विभिन्नताओं को समझने में निम्न में से क्या मददगार साबित नहीं होता?

  • मूल्य व्यवस्था
  • शाब्दिक एवं अशाब्दिक सम्प्रेषण
  • अधिगम की प्रक्रियाएँ एवं विभिन्न व्यवस्थाएँ
  • बुद्धि

उत्तर: 4

प्रश्न. व्यक्तित्व व्यक्ति में उन मनोदैहिक व्यवस्थाओं का गत्यात्मक संगठन है जो वातावरण के साथ उसके अपूर्व समायोजन को निर्धारित करता है। व्यक्तित्व की यह परिभाषा दी है?

  • मुर्रे
  • जे.बी. वॉटसन
  • जी. डब्ल्यू. आलपोर्ट
  • स्किनर

उत्तर: 3

प्रश्न. प्रायः बालकों की बुद्धि का मापन किया जाता है?

  • अवाचिक समूह बुद्धि परीक्षणों के द्वारा
  • वाचिक समूह बुद्धि परीक्षणों के द्वारा
  • अवाचिक व्यक्तिगत बुद्धि परीक्षणों के द्वारा
  • वाचिक व्यक्तिगत बुद्धि परीक्षणों

उत्तर: 1

प्रश्न. निम्न में कौन-सा कथन विकास के बारे में सत्य नहीं है?

  • विकास अन्तः क्रिया का फल
  • विकास एक व्यवस्थित श्रृंखला का अनुगामी है।
  • विकास एक व्यक्तिगत प्रक्रिया है।
  • विकास विशिष्ट से सामान्य की ओर होता है।

उत्तर: 4

प्रश्न. बालकों की सोच अमूर्तता की अपेक्षा मूर्त अनुभवों एवं प्रत्ययों से होती है। यह अवस्था है?

  • 7 से 12 वर्ष तक
  • 12 वर्ष से वयस्क तक
  • 2 से 7 वर्ष तक
  • जन्म से 2 वर्ष तक

उत्तर: 1

प्रश्न. मानव विकास किन दोनों के योगदान का परिणाम है?

  • अभिभावक एवं अध्यापक का
  • सामाजिक एवं सांस्कृतिक कारकों का
  • वंशक्रम एवं वातावरण का
  • इनमें से कोई नहीं

उत्तर: 3

प्रश्न. निम्न में से कौन पियाजे के अनुसार बौद्धिक विकास का निर्धारक तत्व नहीं है?

  • सामाजिक चरण
  • अनुभव
  • संतुलनीकरण
  • इनमें से कोई नहीं

उत्तर: 1

प्रश्न. विशेष आवश्यकता वाले बच्चों को पढ़ाने के लिए निम्नलिखित में से कौन-सी व्यूह रचना अधिक उपयुक्त है?

  • अधिकतम बच्चों को सम्मिलित करते हुए कक्षा में चर्चा करना।
  • विद्यार्थियों को सम्मिलित करते हुए अध्यापक द्वारा निर्देशन
  • सहकारी अधिगम तथा पीअर ट्यूटरिंग (सहपाठियों द्वारा अनुशिक्षण)
  • अध्यापन के लिए योग्यता आधारित समूहीकरण

उत्तर: 3

प्रश्न. विज्ञान एवं कला प्रदर्शनियाँ, संगीत एवं नृत्य प्रस्तुतियाँ तथा विद्यालय-पत्रिका निकालना;” “के लिए हैं।

  • विभिन्न व्यवसायों के लिए विद्यार्थियों को प्रशिक्षित करने
  • विद्यालय का नाम रोशन करने
  • अभिभावकों को सन्तुष्ट करने
  • शिक्षार्थियों को सृजनात्मक मार्ग उपलब्ध कराने

उत्तर: 4

प्रश्न. समावेशी शिक्षा उस विद्यालयी शिक्षा व्यवस्था की ओर संकेत करती है?

  • जो केवल बालिका शिक्षा को बढ़ावा देने की आवश्यकता पर बल देती है।
  • जो सभी निर्योग्य बच्चों को शामिल करती है
  • जो उनकी शारीरिक, बौद्धिक, सामाजिक, भाषिक या अन्य विभिन्न योग्यता स्थितियों को ध्यान में रखे बगैर सभी बच्चों को शामिल करती है
  • जो विशेष आवश्यकता वाले बच्चों को विशिष्ट विद्यालयों के माध्यम से शिक्षा देने को प्रोत्साहित करती है

उत्तर: 3

प्रश्न. कक्षा में पाँच शारीरिक विकलांग बच्चे हैं। खेल के कालांश में उन्हें-

  • एक कोने में बैठना चाहिए, वे खेल का आनन्द ले सकें
  • अन्य बच्चों के साथ उचित खेलों में हिस्सा लेने के लिए प्रोत्साहित करना चाहिए
  • केवल आन्तरिक खेलों में हिस्सा लेने की अनुमति देनी चाहिए
  • कक्षा के सभी विद्यार्थियों के साथ खेलने के लिए जोर डालना चाहिए

उत्तर: 2

प्रश्न. जीन पियाजे के अनुसार अनुकूलन…… द्वारा होता है।

  • आत्मसात्करण
  • अनुभव
  • आत्मसात्करण तथा व्यवस्थापन
  • व्यवस्थापन

उत्तर: 3

प्रश्न. परामर्श में सम्मिलित नहीं है?

  • बच्चे को धैर्यपूर्वक सुनना
  • बच्चे से मित्रता पूर्वक बातचीत करना
  • बच्चे के दृष्टिकोण को समझना
  • बच्चे को अनुशासन में रखना

उत्तर: 4

प्रश्न. समस्या के अर्थ को जानने के लिए योग्यता, वातावरण के दोषों, कमियों एवं रिक्तियों के प्रति सजगता विशेषता है?

  • प्रतिभाशाली बालकों की
  • सामान्य बालकों की
  • सृजनशील बालकों की
  • इनमें से कोई नहीं

उत्तर: 3

प्रश्न. एक कॉलेज जाने वाली लड़की ने फर्श पर कोट फेंकने की आदत डाल ली है। लड़की की माँ ने उससे कहा कि कमरे से बाहर जाओ और कोट को खूँटी पर टाँगो । लड़की अगली बार घर में प्रवेश करती है, कोट को हाथ पर रख कर अलमारी की तरफ जा कर कोट को खूँटी पर टाँग देती है। यह उदाहरण है?

  • श्रृंखलागत अधिगम का
  • उद्दीपन-अनुक्रिया अधिगम का
  • प्रत्यय-अधिगम का
  • उपर्युक्त सभी

उत्तर: 1

प्रश्न. सृजनशीलता के पोषण के लिए एक अध्यापक को निम्न में से किस विधि की सहायता लेनी चाहिए?

  • ब्रेन स्टार्मिंग / विचारावेश
  • व्याख्यान विधि
  • दृश्य-श्रव्य सामग्री
  • इनमें से सभी

उत्तर: 1

प्रश्न. निम्न में से कौन-सा कथन सही नहीं है?

  • आवश्यकता वंचना की शारीरिक अवस्था नहीं है।
  • अन्तनोंद आवश्यकता का मनोवैज्ञानिक परिणाम है।
  • आवश्यकता एवं अन्तर्नोद समान नहीं है, बल्कि समानान्तर हैं।
  • मूलप्रवृत्तियाँ आन्तरिक जैविक बल हैं।

उत्तर: 1

प्रश्न. शिक्षा का अधिकार अधिनियम, 2009 में एक अध्यापक के लिए न्यूनतम कार्य घंटे प्रति सप्ताह निर्धारित किए गए हैं?

  • 40 घंटे
  • 45 घंटे
  • 50 घंटे
  • 55 घंटे

उत्तर: 2

प्रश्न. शिक्षा का अधिकार अधिनियम, 2009 में एक अध्यापक को निम्न में से किस दायित्व को पूरा करना होगा?

  • विद्यालय में नियमित रूप से समय पर उपस्थित होना होगा।
  • पाठ्यक्रम का संचालन कर पूरा करना होगा।
  • सम्पूर्ण पाठ्यक्रम को निर्धारित समय पर पूरा करना होगा।
  • उपर्युक्त सभी

उत्तर: ?

इस प्रश्न का सही उत्तर क्या होगा? हमें अपना जवाब कमेंट सेक्शन में जरूर दें।

आशा है आपको हमारे द्वारा प्रदान किया गया यह प्रैक्टिस सेट अवश्य पसन्द आया होगा। ऐसे ही हर प्रकार की सरकारी परीक्षाओं के प्रैक्टिस सेट प्राप्त करने के लिए सरकारी अलर्ट को बुकमार्क करें।

कमेन्ट करें