Haryana HTET 2022 Child Development And Pedagogy Practice Set 15 | बाल विकास एवं शिक्षा शास्त्र प्रश्नोत्तरी, जरूर पढ़ें

Haryana HTET 2022 Child Development And Pedagogy Practice Set 15 : बोर्ड ऑफ एजुकेशन, हरियाणा भिवानी द्वारा कराई जाने वाली शिक्षक पात्रता परीक्षा (TET) के लिए सितम्बर माह में अधिसूचना जारी किया गया था। इस परीक्षा हेतु लगभग 3 लाख से ज्यादा उम्मीदवारों ने अपना ऑनलाइन आवेदन जमा किया था। HTET Exam 2022 का आयोजन कल से शुरू हो जाएगा जो की 04 दिसम्बर 2022 तक होगा। ऐसे में उम्मीदवार अपनी तैयारी को और भी तेज कर दें, तथा आयोग द्वारा इस भर्ती हेतु परीक्षा के लिए प्रवेश पत्र भी जारी कर दिया गया है।

ऐसे में आज हम इस लेख के माध्यम से बाल विकास एवं शिक्षा शास्त्र के 50 महत्वपूर्ण प्रश्नों को लेकर आये हैं जो की परीक्षा दृष्टि से बेहद उपयोगी हैं। अगर आप भी इस परीक्षा में शामिल होनें वाले है तो परीक्षा में बैठने से पहले Haryana HTET 2022 Child Development And Pedagogy Practice Set 15 को एक बार अवश्य पढ़ें।

Haryana HTET 2022 Child Development And Pedagogy Practice Set 15
Haryana HTET 2022 Child Development And Pedagogy Practice Set 15

Haryana HTET 2022 Child Development And Pedagogy  Practice Set 15

प्रश्न. किसी बालक की वास्तविक आयु 8 वर्ष है और मानसिक आयु 12 वर्ष है, तो उसकी बुद्धिलब्धि होगी-

  • 135
  • 140
  • 145
  • 150

उत्तर: 4

प्रश्न. प्राथमिक कक्षाओं में विषय-वस्तु की नीरसता दूर करने के लिए शिक्षक को उपयुक्त शिक्षण नीति का उपयोग करना चाहिए, वह है-

  • वार्तालाप नीति
  • प्रश्नोत्तर नीति
  • खेल और मनोरंजन नीति
  • प्रदर्शन नीति

उत्तर: 3

प्रश्न. क्रियात्मक अनुसंधान का प्रमुख कार्य है-

  • नए तथ्यों की खोज करना
  • स्थानीय समस्याओं का समाधान करना
  • ज्ञान देना
  • नई व आधारभूत समस्याओं का समाधान करना

उत्तर: 2

प्रश्न. जो बालक स्कूल के जीवन के मध्य में अपनी आयु स्तर की कक्षा से एक नीचे की कक्षा का कार्य करने में असमर्थ हो, वह है-

  • पिछड़ा बालक
  • मानसिक रूप से मन्द बालक
  • समस्यात्मक बालक
  • मादक द्रव्य का सेवन करने वाला बालक

उत्तर: 2

प्रश्न. एक शिक्षक को स्कूल में प्रथम बार आए विशेष आवश्यकता वाले बच्चे के साथ करना चाहिए-

  • उसकी विशेष आवश्यकता के अनुसार विशेष स्कूल में जाने की सलाह
  • अन्य बच्चों से अलग करना
  • बच्चे के अभिभावक से सहयोगी योजना की चर्चा
  • बच्चे की विशेष आवश्यकता के स्तर की जाँच के लिए प्रवेश परीक्षा

उत्तर: 3

प्रश्न. शैक्षिक भ्रमण अधिगम के लिए आवश्यक साधन क्यों है?

  • यह रटने की आदत का विकास करता है
  • पाठ्यचर्या समय पर पूर्ण होती है
  • यह कल्पना शक्ति का विकास करता है
  • भ्रमण के स्थान से प्राप्त ज्ञान स्थायी होता है

उत्तर: 4

प्रश्न. एक शोधकर्ता के रूप में आप निम्नलिखित में से कौन-से शीर्षक को अनुसंधान प्रस्ताव में सम्मिलित नहीं करेंगे?

  • अनुसंधान समस्या की पृष्ठभूमि
  • अनुसंधान के उपकरण
  • अनुसंधान के लिए मूल विस्तृत व्याख्या
  • अनुसंधान की परिकल्पनाएँ

उत्तर: 3

प्रश्न. “संवेगात्मक रूप से अभिप्रेरित बच्चों” की मुख्य विशेषता है-

  • उनका अतिप्रक्रियात्मक स्वभाव
  • उनका अंतर्मुखी स्वभाव
  • अपने विचार प्रकट करने का संतुलित तरीका
  • उनका विषादग्रस्त व्यवहार

उत्तर: 1

प्रश्न. निम्नलिखित रिक्त स्थान के लिए सही उत्तर का ‘चयन करें-

  • संज्ञानात्मक एवं मनोप्रेरणा
  • ज्ञानात्मक
  • भावात्मक
  • शारीरिक क्षमता

उत्तर: 3

यह भी पढ़ें

प्रश्न. सीखने की खेल विधि उपयोगी है-

  • बाल्यावस्था हेतु
  • पूर्व बाल्यावस्था हेतु
  • युवावस्था हेतु
  • परिपक्वावस्था हेतु

उत्तर: 1

प्रश्न. निम्नलिखित में कौन-सी मूल्यांकन की प्रविधि है ?

  • प्रश्नावली
  • मत सूची
  • साक्षात्कार
  • ये सभी

उत्तर: 4

प्रश्न. एक शिक्षक गद्य व सब्जियों, फलों के चित्र का उपयोग कर अपने विद्यार्थियों के साथ चर्चा करता है विद्यार्थी विवरण से जोड़कर पोषण के तथ्यों को सीखते हैं इस दृष्टिकोण का आधार है-

  • सीखने की क्लासिकल अवस्था
  • पुनर्बलन का सिद्धान्त
  • सीखने का क्रिया प्रस्तुत अनुकूलन
  • ज्ञान का निर्माण

उत्तर: 3

प्रश्न. निम्नलिखित में से कौन-सा चिन्तन अनुसंधान सम्बन्धित है?

  • परम्परागत चिन्तन
  • विकेन्द्रित चिन्तन
  • वैज्ञानिक चिन्तन
  • ये सभी

उत्तर: 4

प्रश्न. तर्क, जिज्ञासा तथा निरीक्षण शक्ति का विकास होता है-

  • 6 वर्ष की आयु में
  • 8 वर्ष की आयु में
  • 11 वर्ष की आयु में
  • 15 वर्ष की आयु में

उत्तर: 3

प्रश्न. ” एक व्यक्ति का दूसरे व्यक्ति से अन्तर एक सार्वभौमिक घटना जान पड़ती है” किसने कहा?

  • टॉयलर
  • क्रो एवं क्रो
  • स्किन्नर
  • वुडवर्थ

उत्तर: 1

प्रश्न. पियाजे के विकास की अवस्थाओं में संवेदी गामक अवस्था समायोजित करता है-

  • अनुकरण, स्मृति एवं मानसिक प्रस्तुतीकरण
  • विकल्पों की व्याख्या एवं विश्लेषण करने की क्षमता
  • तार्किक रूप से समस्या के समाधान की क्षमता
  • सामाजिक मुद्दों से सरोकार

उत्तर: 1

प्रश्न. शैशवावस्था होती है-

  • पाँच वर्ष तक
  • बारह वर्ष तक
  • 21 वर्ष तक
  • इनमें से कोई नहीं

उत्तर: 1

प्रश्न. निम्नलिखित में से कौन-सा कथन असत्य है?

  • अक्षम व्यक्तियों के प्रति विपरीत विचार एवं भावना बच्चा बड़ों से सीखता है
  • विशेष आवश्यकता वाले बच्चे दूसरे क्षेत्रों में कार्य करने में अक्षम होते हैं
  • शारीरिक अक्षमता वाला बच्चा मानसिक अक्षमता नहीं रखता
  • (1) एवं (2) दोनों

उत्तर: 4

प्रश्न. सीखने का स्थानान्तरण है-

  • सीखी गई वस्तु को सँभालना
  • सीखी हुई तरकीब का वैसा ही उपयोग
  • सीखी हुई वस्तु का अन्य परिस्थिति में प्रयोग
  • उपर्युक्त में से कोई नहीं

उत्तर: 3

प्रश्न. व्यक्तिगत विभन्नताओं के मापन की सर्वोत्तम मापनी है-

  • नमित मापनी
  • अन्तराल मापनी
  • क्रमसूचक मापनी
  • समानुपाती मापनी

उत्तर: 2

प्रश्न. विद्यार्थी और शिक्षक के बीच की एक संवादात्मक प्रक्रिया जो उनके सीखने के वातावरण में बदलाव लाती है, वह है-

  • मूल्यांकन
  • आकलन
  • (1) व (2) दोनों
  • इनमें से कोई नहीं

उत्तर: 3

प्रश्न. विद्यार्थियों की उपलब्धि का मूल्यांकन करने के लिए शालाओं में उपयोग में आने वाली विधियाँ है-

  • परिमाणात्मक एवं निरीक्षण विधि
  • परिमाणात्मक एवं गुणात्मक विधि
  • गुणात्मक एवं साक्षात्कार विधि
  • उपर्युक्त में से कोई नहीं

उत्तर: 2

प्रश्न. आशा 14 वर्ष की आयु में वह सब कार्य करती है। जो अधिकतर 6-7 वर्ष के बच्चे करते है। आशा की यह अवस्था का कारण है-

  • मानसिक अक्षमता
  • अपंगता
  • आनुवंशिकता
  • कुपोषण

उत्तर: 1

प्रश्न. व्यक्तिगत निदान विधि का उपयोग है, विशेषतः –

  • बुद्धिमान बालकों का अध्ययन
  • असामान्य एवं संतुलित बालकों का
  • दुर्बल बालकों का अध्ययन
  • सामान्य बालकों का अध्ययन

उत्तर: 3

प्रश्न. अध्ययन की दृष्टि से व्यक्तिगत विभिन्नताओं का महत्त्व है-

  • विद्यार्थियों की व्यक्तिगत शिक्षण व्यवस्था
  • व्यक्तिगत रूचियों के अनुसार गृह कार्य देना
  • विद्यार्थियों का समरूप समूहों में वर्गीकरण
  • उपर्युक्त सभी

उत्तर: 3

प्रश्न. विभेदकारी परीक्षण अन्तर करता है-

  • कमजोर विद्यार्थियों में
  • सामान्य विद्यार्थियों में
  • प्रतिभाशाली विद्यार्थियों में
  • उपर्युक्त सभी

उत्तर: 4

प्रश्न. एक बालक जो शारीरिक दोषों से ग्रस्त है उसमें उत्पन्न होती है-

  • संवेगात्मक स्थिरता
  • अच्छी आदतें
  • मिथ्याभिमान
  • हीनता की भावना

उत्तर: 3

प्रश्न. द्वि-तत्त्व सिद्धान्त के प्रतिपादक कौन है?

  • स्पीयरमैन
  • जेम्स ड्रेवर
  • हॉल्स
  • वेल्स

उत्तर: 1

प्रश्न. मनोविज्ञान की प्रयोगशाला किस मनोवैज्ञानिक ने स्थापित की?

  • ऐस्किवरल
  • स्पीयरमैन
  • हॉल्स
  • वुण्ट

उत्तर: 4

प्रश्न. 1882 ई. में किस मनोवैज्ञानिक द्वारा लन्दन में मानवीय विशेषताओं का अध्ययन करने के लिए प्रयोगशाला का निर्माण किया गया?

  • कैटेल
  • गाल्टन
  • अल्फ्रेड बिने
  • वुडवर्थ

उत्तर: 3

प्रश्न. बालक में क्रियाओं को नियमित करने तथा रुचि उत्पन्न करने के लिए कौन-सा कारक उत्तरदायी है?

  • प्रेरणा
  • समझ
  • ज्ञान
  • स्वअध्ययन

उत्तर: 1

प्रश्न. मूल्यांकन का उद्देश्य है-

  • बच्चे को उत्तीर्ण / अनुत्तीर्ण घोषित करना
  • बच्चों ने क्या सीखा यह जानना
  • बच्चे के सीखने में आई कठिनाई को जानना
  • उपर्युक्त सभी

उत्तर: 4

प्रश्न. अधिगम का शिक्षा में योगदान है-

  • व्यवहार परिवर्तन में
  • नवीन अनुभव प्राप्त करने में
  • समायोजन में
  • उपर्युक्त सभी

उत्तर: 4

प्रश्न. मनोवैज्ञानिक वाइगॉट्स कहाँ थे?

  • जापान
  • फ्रांस
  • रूस
  • चीन

उत्तर: 3

प्रश्न. “व्यावहारिक बुद्धि का अर्थ है कि बुद्धि संस्कृति का उत्पाद होती है।” यह किसका कथन है?

  • स्टर्नबर्ग
  • सैलोवी
  • वाइगॉट्स
  • मेयर

उत्तर: 1

प्रश्न. विभेदक परीक्षण का उपयोग किस मनोवैज्ञानिक ने भारतीय अनुकूलन के अनुसार विकसित किया है?

  • होरेस
  • जे पी गिलफोर्ड
  • जे एम ओझा
  • वालाश

उत्तर: 4

प्रश्न. किसका तात्पर्य उन विशिष्ट तरीकों से है जिनके द्वारा व्यक्ति अपनी अनुभूतियों को व्यक्त करता है?

  • आत्म नियंत्रण
  • अन्तनिरीक्षण
  • आत्म सम्मान
  • आत्म प्रबलन

उत्तर: 4

प्रश्न. किस परीक्षण में 10 मसिलक्ष्य या स्याही धब्बे होते हैं?

  • रोर्शा परीक्षण
  • 16 पी एफ.
  • ई पी क्यू.
  • एम एम पी आई

उत्तर: 1

प्रश्न. व्यक्तियों के शारीरिक बीमारियों में कितने प्रतिशत तक दबाव की भूमिका महत्त्वपूर्ण है?

  • 45 से 65
  • 51 से 69
  • 52 से 71
  • 50 से 70

उत्तर: 4

प्रश्न. किस अभिक्षमता को ए. एस. टी. के नाम से जाना जाता है?

  • विभेदक अभिक्षमता
  • सामान्य अभिक्षमता
  • आर्ल्ड सर्विसेज अभिक्षमता
  • व्यावसायिक अभिक्षमता

उत्तर: 3

प्रश्न. प्रारम्भ में आत्मा का प्रयोग किस शास्त्र में किया जाता था?

  • अर्थशास्त्र
  • दर्शनशास्त्र
  • समाजशास्त्र
  • शिक्षाशास्त्र

उत्तर: 2

प्रश्न. किसका अभिप्राय अपने व्यवहार को नियंत्रित करने से है?

  • आत्म नियंत्रण
  • आत्म प्रबलन
  • आत्म अभिव्यक्ति
  • आत्म अनुदेश

उत्तर: 1

प्रश्न. “Pathology of Brain” नामक पुस्तक किसके द्वारा प्रकाशित है?

  • हॉलर
  • क्रेपलिन
  • बेन्जामिन रश
  • फिलिप

उत्तर: 2

प्रश्न. असामान्य मनोविज्ञान के आधुनिक युग के जनक थे

  • एडलर
  • जुंग
  • सिगमण्ड फ्रायड
  • जीन एसक्यूरल

उत्तर: 3

प्रश्न. Father of Medicine के नाम से किस मनोवैज्ञानिक को जाना जाता था?

  • हिप्पोक्रेटीज
  • अरस्तू
  • आइजेन्क
  • प्लेटो

उत्तर: 2

प्रश्न. अधिगम का शिक्षा में योगदान है।

  • व्यवहार परिवर्तन में
  • नवीन अनुभव प्राप्त करने में
  • समायोजन में
  • इनमें से सभी में

उत्तर: 4

प्रश्न. थकान का कारण नहीं है

  • निरन्तर कार्य करते रहना
  • शिक्षण विधियाँ
  • विश्राम
  • अपर्याप्त रोशनी

उत्तर: 3

प्रश्न. सामूहिक पागलपन के प्रमाण किस शताब्दी से किस शताब्दी तक मिले?

  • 10वीं से 15वीं तक
  • 11वीं से 16वीं तक
  • 10वीं से 14वीं तक
  • 10वीं से 16वीं तक

उत्तर: 4

प्रश्न. मनः स्नायु विकृति के रोग का लक्षण है

  • भय
  • रोग
  • आशंका
  • कष्ट

उत्तर: 3

प्रश्न. छात्रों में चोरी करने की आदत को कैसे दूर किया जा सकता है?

  • बालकों को पारितोषिक देकर
  • उदाहरण देकर
  • ताड़ना देकर
  • सजा देकर

उत्तर: ?

इस प्रश्न का सही उत्तर क्या होगा? हमें अपना जवाब कमेंट सेक्शन में जरूर दें।

कमेन्ट करें