Haryana HTET 2022 Child Development And Pedagogy Practice Set 07 | परीक्षा में शामिल होने से पूर्व अवश्य पढ़ लें ये महत्वपूर्ण प्रश्न

Haryana HTET 2022 Child Development And Pedagogy Practice Set 07 : हरियाणा में शिक्षक बनने की तैयारी करने वाले उम्मीदवारों के लिए बोर्ड ऑफ एजुकेशन, हरियाणा भिवानी द्वारा आयोजित कराई जाने वाली शिक्षक पात्रता परीक्षा (TET) के लिए कुछ महीने पूर्व अधिसूचना जारी किया गया था तथा अधिसूचना के आधार पर HTET Exam 2022 का आयोजन 03 व 04 दिसम्बर 2022 को किया जाएगा।

ऐसे में आज हम इस लेख के माध्यम से बाल विकास एवं शिक्षा शास्त्र के 50 महत्वपूर्ण प्रश्नों को लेकर आये हैं जो की परीक्षा दृष्टि से बेहद उपयोगी हैं, तो परीक्षा में शामिल होने से पूर्व Haryana HTET 2022 Child Development And Pedagogy Practice Set 07 को एक बार अवश्य पढ़ें।

Haryana HTET 2022 Child Development And Pedagogy Practice Set 07
Haryana HTET 2022 Child Development And Pedagogy Practice Set 07

Haryana HTET 2022 Child Development And Pedagogy Practice Set 07

प्रश्न. निम्नलिखित में से कौन-सा कथन सत्य है?

  • आनुवंशिक बुनावट व्यक्ति की परिवेश की गुणवत्ता के प्रति, प्रत्युत्तरात्मकता को प्रभावित करती है।
  • गोद लिए गए बच्चों का वही बुद्धि-लब्धांक (IQ) होता है, जो गोद लिए गए उनके सहोदर भाई-बहनों का होता है।
  • अनुभव मस्तिष्क के विकास को प्रभावित नहीं करता ।
  • विद्यालयीकरण का बुद्धि पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता ।

उत्तर: 1

प्रश्न. संज्ञानात्मक विकास निम्न में से किसके द्वारा समर्थित होता है?

  • जितना संभव हो उतनी आवृत्ति से संगत और सुनियोजित परीक्षाओं का आयोजन करना।
  • उन गतिविधियों को प्रस्तुत करना, जो पारंपरिक पद्धतियों को सुदृढ़ बनाती हैं।
  • एक समृद्ध और विविधतापूर्ण वातावरण उपलब्ध करना ।
  • सहयोगात्मक की अपेक्षा वैयक्तिक गतिविधियों पर अधिक ध्यान केंद्रित करना।

उत्तर: 3

प्रश्न. मानव विकास ………… है।

  • गुणात्मक
  • मात्रात्मक
  • मात्रात्मक और गुणात्मक दोनों
  • कुछ सीमा तक अमापनीय

उत्तर: 3

प्रश्न. निम्नलिखित में से कौन-सा तत्व कक्षा में अधिगम हेतु सहायक हो सकता है?

  • बच्चों को अधिगम हेतु प्रेरित करने के लिए परीक्षणों की संख्या को बढ़ा देना।
  • अध्यापकों द्वारा बच्चों की स्वायत्तता को बढ़ावा व सहायता देना।
  • समानता बनाए रखने के लिए किसी एक अनुदेशन पद्धति पर टिके रहना।
  • कालांश की अवधि को 40 मिनट से 50 मिनट तक बढ़ा देना

उत्तर: 2

प्रश्न. परिपक्व विद्यार्थी

  • इस बात में विश्वास करते हैं कि उनके अध्ययन में भावनाओं का कोई स्थान नही है।
  • अपनी बौद्धिकता के साथ अपने सभी प्रकार के द्वंद्वों का शीघ्र समाधान कर लेते हैं।
  • अपने अध्ययन में कभी-कभी भावनाओं की सहायता चाहते हैं।
  • कठिन परिस्थितियों में भी अध्ययन से विचलित नही होते।

उत्तर: 3

प्रश्न. पूर्व विद्यालय में पहली बार आया बच्चा मुक्त रूप से चिल्लाता है। दो वर्ष पश्चात् वही बच्चा जब प्रारंभिक विद्यालय में पहली बार जाता है, तो अपना तनाव चिल्लाकर व्यक्त नहीं करता अपितु उसके कंधे व गर्दन की पेशियां तन जाती हैं। उसके इस व्यावहारिक परिवर्तन का क्या सैद्धांतिक आधार हो सकता है?

  • विकास क्रमिक प्रकार से होता है।
  • विकास निरंतरीय होता रहता है।
  • अलग-अलग लोगों में विकास भी भिन्न रूप से होता है।
  • विभेद व एकीकरण विकास के लक्षण हैं।

उत्तर: 4

प्रश्न. प्रकृति-पोषण विवाद निम्नलिखित में से किससे संबंधित है?

  • आनुवांशिकी एवं वातावरण
  • व्यवहार एवं वातावरण
  • वातावरण एवं जीव-विज्ञान
  • वातावरण एवं पालन-पोषण

उत्तर: 1

यह भी पढ़ें

प्रश्न. निम्न में से कौन-सा समाजीकरण की निष्क्रिय एजेंसी है?

  • स्वास्थ्य क्लब
  • परिवार
  • सार्वजनिक पुस्तकालय
  • इको क्लब

उत्तर: 3

प्रश्न. वाइगोत्स्की के सिद्धांत में, विकास के निम्नलिखित में से कौन-से पहलू की उपेक्षा होती है?

  • सामाजिक
  • भाषायी
  • सांस्कृतिक
  • जैविक

उत्तर: 4

प्रश्न. किसने सबसे पहले बुद्धि परीक्षण का निर्माण किया?

  • डेविड वैश्लर
  • चार्ल्स एडवर्ड स्पीयरमैन
  • रॉबर्ट स्टर्नबर्ग
  • एल्फ्रेड बिने

उत्तर: 4

प्रश्न. ध्वनि-संबंधी जागरूकता निम्नलिखित में से किस क्षमता से संबंधित है?

  • ध्वनि संरचना पर चिंतन करना व उसमें हेर-फेर करना
  • सही-सही व धाराप्रवाह बोलना
  • जानना, समझना व लिखना
  • व्याकरण के नियमों में दक्ष होना

उत्तर: 1

प्रश्न. कक्षा-कक्ष में जेंडर (लिंग) विभेद-

  • शिक्षार्थियों के निष्पादन को प्रभावित नहीं करता है।
  • शिक्षार्थियों के ह्रासोन्मुख प्रयासों अथवा निष्पादन का कारण बन सकता है।
  • पुरुष शिक्षार्थियों के वृद्धि-उन्मुख प्रयासों अथवा निष्पादन का कारण बन सकता है।
  • महिला शिक्षकों की अपेक्षा पुरुष शिक्षकों के द्वारा अधिक किया जाता है।

उत्तर: 2

प्रश्न. एक वर्ष तक के शिशु जब आंख, कान व हाथों से ‘सोचते हैं’ तो निम्नलिखित में से कौन-सा स्तर शामिल होता है?

  • मूर्त-संक्रियात्मक स्तर
  • पूर्व-संक्रियात्मक स्तर
  • इंद्रियजनित गामक स्तर
  • अमूर्त संक्रियात्मक स्तर

उत्तर: 3

प्रश्न. रिया कक्षा पिकनिक तय करने हेतु रिषभ से सहमत नहीं है। वह सोचती है कि बहुमत के अनुकूल बनाने के लिए नियमों का संशोधन किया जा सकता है। यह सहपाठी विरोध, पियाजे के अनुसार, निम्नलिखित में से किसके संबंधित है?

  • विषमांग नैतिकता
  • प्रतिक्रिया
  • संज्ञानात्मक अपरिपक्वता
  • सहयोग की नैतिकता

उत्तर: 4

प्रश्न. निम्न में कौन-सा स्टर्नबर्ग का बुद्धि का त्रिस्तरीय सिद्धांत का एक रूप है?

  • व्यावहारिक बुद्धि
  • प्रायोगिक बुद्धि
  • संसाधनपूर्ण बुद्धि
  • गणितीय बुद्धि

उत्तर: 1

प्रश्न. निम्न में से कौन-सा सीखने की शैली का एक उदाहरण है?

  • चाक्षुष
  • तथ्यात्मक
  • संग्रहण
  • स्पर्श-संबंधी

उत्तर: 1

प्रश्न. एक शिक्षक कक्षा के कार्य को एकत्र करता है और उन्हें पढ़ता है, उसके बाद योजना बनाता है और अपने अगले पाठ को शिक्षार्थियों की आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए समायोजित करता है। वह … कर रहा/रही है।

  • सीखने का आकलन
  • सीखने के रूप में आकलन
  • सीखने के लिए आकलन
  • सीखने के समय आकलन

उत्तर: 3

प्रश्न. वे शिक्षक, जो विद्यालय आधारित आकलन में अंतर्गत कार्य करते हैं-

  • उन पर अधिक कार्य का बोझ रहता है, क्योंकि उन्हें सोमवार की परीक्षा सहित अकसर परीक्षा लेनी पड़ती है।
  • उन्हें प्रत्येक शिक्षार्थी को प्रत्येक विषय में परियोजना कार्य देना पड़ता है।
  • शिक्षार्थियों के मूल्यों और अभिवृत्तियों का आकलन करने के लिए रोजाना उनका सूक्ष्म अवलोकन करते हैं।
  • व्यवस्था के लिए स्वामित्व की भावना रखते हैं।

उत्तर: 4

प्रश्न. ‘सभी के लिए विद्यालयों में सभी की शिक्षा’ निम्नलिखित में से किसके लिए प्रचार वाक्य हो सकता है?

  • संसक्तिशील शिक्षा
  • समावेशी शिक्षा
  • सहयोगात्मक शिक्षा
  • पृथक शिक्षा

उत्तर: 2

प्रश्न. प्रवाहपूर्णता, व्याख्या, मौलिकता और लचीलापन ……. के साथ संबंधित तत्व हैं।

  • प्रतिभा
  • गुण
  • अपसारी चिंतन
  • त्वरण

उत्तर: 1

प्रश्न. प्रतिभाशाली शिक्षार्थियों को …… से जुड़े प्रश्नों पर अधिक समय देने के लिए कहा जा सकता है।

  • स्मरण
  • समझ
  • सर्जन
  • विश्लेषण

उत्तर: 3

प्रश्न. “ग्रेड अंकों से कैसे अलग है?”
यह प्रश्न निम्न में से किस प्रकार के प्रश्नों से संबंध रखता है?

  • अपसारी
  • मुक्त-अंत
  • विश्लेषणात्मक
  • समस्या-समाधान

उत्तर: 3

प्रश्न. छात्राएं-

  • गणित के सवाल अच्छे से सीखती हैं लेकिन उन्हें तब कठिनाई आती है, जब उनसे उनके तर्क के बारे में पूछा जाता है।
  • अपनी उम्र के लड़कों की तरह गणित में अच्छी है।
  • अपनी उम्र के लड़कों की तुलना में स्थानिक अवधारणाओं में कम कुशलतापूर्ण निष्पादन करती हैं।
  • भाषिक और संगीत संबंधी अधिक क्षमताएं रखती हैं।

उत्तर: 2

प्रश्न. शब्दों में अक्षरों के क्रम को पढ़ने में कठिनाई का अनुभव करना और अकसर चाक्षुष स्मृति का हास ……. से संबंधित है।

  • डिस्लेक्सिया
  • डिस्ग्राफिया
  • डिस्केल्कुलिया
  • डिस्प्राक्सिया

उत्तर: 1

प्रश्न. गणित में अधिगम निर्योग्यता का आकलन निम्न में से किस परीक्षण द्वारा सर्वाधिक उचित तरीके से किया जा सकता है?

  • अभिक्षमता परीक्षण
  • स्क्रीनिंग परीक्षण
  • निदानात्मक परीक्षण
  • उपलब्धि परीक्षण

उत्तर: 3

प्रश्न. सिद्धांत चित्र …….. के द्वारा नवीन अवधारणाओं की समझ बढ़ाते हैं।

  • विषय-क्षेत्रों के बीच ज्ञान के स्थानांतरण
  • विशिष्ट विवरण पर एकाग्रता केंद्रित करने
  • अध्ययन के लिए शैक्षणिक विषय-वस्तु की प्राथमिकता तय करने
  • तर्कपूर्ण ढंग से सूचनाओं को व्यवस्थित करने की योग्यता को बढ़ाने

उत्तर: 4

प्रश्न. अल्बर्ट बंडूरा के सामाजिक अधिगम सिद्धांत के अनुसार, निम्न में से कौन-सा सही है?

  • खेल अनिवार्य है और उसे विद्यालय में प्राथमिकता दी जानी चाहिए।
  • बच्चों के सीखने के लिए प्रतिरूपण (मॉडलिंग) एक मुख्य तरीका है।
  • अनसुलझा संकट बच्चे को नुकसान पहुंचा सकता है।
  • संज्ञानात्मक विकास सामाजिक विकास से स्वतंत्र है।

उत्तर: 2

प्रश्न. एक आंतरिक बल, जो प्रोत्साहित करता है और व्यवहारपरक प्रतिक्रिया के लिए बाध्य करता है एवं उस प्रतिक्रिया को विशिष्ट दिशा उपलब्ध करता है, है।

  • अभिप्रेरण
  • संवेग
  • अध्यवसाय
  • वचनबद्धता

उत्तर: 1

प्रश्न. निम्न में से कौन-सी शब्दावली प्रायः “अभिप्रेरणा” के साथ अंतःबदलाव के साथ इस्तेमाल की जाती है?

  • पुरस्कार (प्रेरक)
  • उत्प्रेरणा
  • आवश्यकता
  • संवेग

उत्तर: 3

प्रश्न. ……. प्रेरणाएं अनुभूतियों के संतुष्टिकरण की अवस्थाओं तक पहुंचने ओर वैयक्तिक लक्ष्यों को प्राप्त करने की आवश्यकता को संबोधित करती हैं।

  • प्रभावी
  • भावात्मक
  • संरक्षण-उन्मुखी
  • सुरक्षा-उन्मुखी

उत्तर: 2

प्रश्न. निगमनात्मक तर्कणा में शामिल है/हैं-

  • सामान्य से विशिष्ट की ओर तर्कणा ।
  • विशिष्ट से सामान्य की ओर तर्कणा ।
  • ज्ञान का सक्रिय निर्माण और पुनर्निर्माण।
  • अन्वेषणपरक सीखना और स्वतः खोजपरक पद्धतियां।

उत्तर: 1

प्रश्न. जब बच्चे एक अवधारणा को सीखते हैं और उसका प्रयोग करते हैं, तो अभ्यास उनके द्वारा की जाने वाली त्रुटियों को कम करने में मदद करता है। यह विचार के द्वारा दिया गया।

  • ई.एल. थॉर्नडाइक
  • जीन पियाजे
  • जे. बी. वॉटसन
  • लेव वाइगोत्स्की

उत्तर: 1

प्रश्न. निम्न में से कौन-सा कौशल संवेगात्मक बुद्धि में संबंधित है?

  • याद करना
  • विचार करना
  • समानुभूति देना
  • गतिक प्रक्रमण

उत्तर: 3

प्रश्न. निम्नलिखित में से कौन-सा कारक अधिगम को सकारात्मक प्रकार से प्रभावित करता है?

  • अनुत्तीर्ण हो जाने का भय
  • सहपाठियों से प्रतियोगिता
  • अर्थपूर्ण संबंध
  • माता-पिता की ओर से दबाव

उत्तर: 3

प्रश्न. ………. के अतिरिक्त बुद्धि के निम्नलिखित पक्षों को स्टेनबर्ग के त्रितंत्र सिद्धांत में संबोधित किया गया है।

  • अवयवभूत
  • सामाजिक
  • संदर्भगत
  • आनुभाविक

उत्तर: 2

प्रश्न. हॉवर्ड गार्डनर का बुद्धि का सिद्धांत …… पर बल देता है।

  • सामान्य बुद्धि
  • विद्यालय में आवश्यक समान योग्यताओं
  • प्रत्येक व्यक्ति की विलक्षण योग्यताओं
  • शिक्षार्थियों में अनुबंधित कौशलों

उत्तर: 3

प्रश्न. शिक्षार्थियों में वैयक्तिक भिन्नताओं को संबोधित करने के लिए एक विद्यालय किस प्रकार का सहयोग उपलब्ध करवा सकता है?

  • बाल-केंद्रित पाठ्यचर्या का पालन करना और शिक्षार्थियों को सीखने के अनेक अवसर उपलब्ध कराना।
  • शिक्षार्थियों में वैयक्तिक भिन्नताओं को समाप्त करने के लिए हर संभव उपाय करना।
  • धीमी गति से सीखने वाले शिक्षार्थियों को विशेष विद्यालयों में भेजना।
  • सभी शिक्षार्थियों के लिए समान स्तर की पाठ्यचर्या का अनुगमन करना।

उत्तर: 1

प्रश्न. सतत् और व्यापक मूल्यांकन …….. पर बल देता है।

  • सीखने को सुनिश्चित करने के लिए व्यापक स्केल पर निरंतर परीक्षण
  • सीखने को किस प्रकार अवलोकित, रिकॉर्ड और सुधारा जाए इस पर
  • शिक्षण के साथ परीक्षाओं का सामंजस्य
  • बोर्ड परीक्षाओं की अनावश्यकता पर

उत्तर: 2

प्रश्न. विद्यालय आधारित आकलन-

  • शिक्षा बोर्ड की जवाबदेही कम कर देता है।
  • सार्वभौमिक राष्ट्रीय मानकों की प्राप्ति में बाधा उत्पन्न करता है।
  • परिचित वातावरण में अधिक सीखने में सभी शिक्षार्थियों की मदद करता है।
  • शिक्षार्थियों और शिक्षकों को अंगभीर और लापरवाह बनाता है।

उत्तर: 3

प्रश्न. थ, फ, च ध्वनियां हैं-

  • रूपिम
  • लेखीम
  • शब्दिम
  • स्वनिम

उत्तर: 4

प्रश्न. कक्षा में जेंडर रूढ़िबद्धता से बचने के लिए एक शिक्षक को

  • लड़के-लड़कियों को एक साथ अपारंपरिक भूमिकाओं में रखना चाहिए।
  • अच्छी लड़की अच्छा लड़का कहकर शिक्षार्थियों के अच्छे कार्य की सराहना करनी चाहिए।
  • कुश्ती में भाग लेने के लिए लड़कियों को निरुत्साहित करना।
  • लड़कों का जोखिम उठाने और निर्भीक बनने के लिए प्रोत्साहित करना

उत्तर: 1

प्रश्न. विद्यालयों को किसके लिए वैयक्तिक भिन्नताओं को पूरा करना चाहिए?

  • वैयक्तिक शिक्षार्थियों के मध्य खाई को कम करने के लिए।
  • शिक्षार्थियों के निष्पादन और योग्यताओं को समान करने के लिए।
  • यह समझने के लिए कि क्यों शिक्षार्थी सीखने के योग्य या अयोग्य हैं।
  • वैयक्तिक शिक्षार्थी को विशिष्ट होने की अनुभूति कराने के लिए।

उत्तर: 3

प्रश्न. ‘सीखने की तत्परता’ ……. की ओर संकेत करती है।

  • शिक्षार्थियों का सामान्य योग्यता स्तर
  • सीखने के सातत्यक में शिक्षार्थियों का वर्तमान संज्ञानात्मक स्तर
  • सीखने के कार्य की प्रकृति को संतुष्ट करने
  • थॉर्नडाइक का तत्परता का नियम

उत्तर: 2

प्रश्न. एक शिक्षिका की कक्षा में कुछ शारीरिक विकलांगता वाले बच्चे हैं। निम्नलिखित में से उसके लिए क्या कहना सबसे उचित होगा?

  • पहिया-कुर्सी वाले बच्चे हॉल में जाने के लिए अपने समवयस्क साथी बच्चों से मदद ले सकते हैं।
  • शारीरिक रूप से असुविधाग्रस्त बच्चे कक्षा में ही कोई वैकल्पिक गतिविधियों कर सकते हैं।
  • मोहन खेल के मैदान में जाने के लिए आप अपनी बैसाखियों का प्रयोग क्यों नहीं करते?
  • पोलियो ग्रस्त बच्चे अब एक गाना प्रस्तुत करेंगे।

उत्तर: 2

प्रश्न. ………के अतिरिक्त निम्नलिखित सभी के कारण अधिगम अक्षमता उत्पन्न हो सकती है।

  • सेरेब्रल डिस्फंक्शन
  • व्यवहारगत विघ्न
  • संवेगात्मक विघ्न
  • सांस्कृतिक कारक

उत्तर: 4

प्रश्न. बच्चों में सीखने और सुनने के लिए अधिगम-योग्य वातावरण के लिए निम्नलिखित में से कौन उपयुक्त हैं?

  • एक लंबे समय के लिए निष्क्रिय रूप से सुनना ।
  • निरंतर गृहकार्य देता रहना।
  • सीखने वाले द्वारा व्यक्तिगत कार्य करना ।
  • शिक्षार्थियों को कुछ यह छूट देना कि क्या सीखना है और कैसे सीखना है।

उत्तर: 4

प्रश्न. गतिक कौशलों में अधिगम निर्योग्यता …. कहलाती है।

  • डिस्प्रेक्सिया
  • डिस्केल्कुलिया
  • डिस्लेक्सिया
  • डिस्फेजिया

उत्तर: 1

प्रश्न. एक समावेशी विद्यालय-

  • शिक्षार्थियों की क्षमताओं की परवाह किए बिना सभी के अधिगम परिणामों को सुधारने के लिए प्रतिबद्ध होता है।
  • शिक्षार्थियों के मध्य अंतर करता है और विशेष रूप से सक्षम बच्चों के लिए कम चुनौतीपूर्ण उपलब्धि लक्ष्य निर्धारित करता है।
  • विशेष रूप से योग्य शिक्षार्थियों के अधिगम परिणामों को सुधारने के लिए विशिष्ट रूप से प्रतिबद्ध होता है।
  • शिक्षार्थियों की निर्योग्यता के अनुसार, उनकी सीखने की आवश्यकताओं को निर्धारित करता है।

उत्तर: 1

प्रश्न. ………. के कारण प्रतिभाशालिता होती है।

  • आनुवंशिक रचना
  • वातावरणीय अभिप्रेरणा
  • (1) और (2) का संयोजन
  • मनो-सामाजिक कारकों

उत्तर: 3

प्रश्न. प्रतिभाशाली शिक्षार्थी (को)-

  • ऐसे सहयोग की आवश्यकता होती है, जो सामान्यतः विद्यालयों द्वारा उपलब्ध नहीं कराए जाते।
  • शिक्षक के बिना अपने अध्ययन को व्यवस्थित कर लेते हैं
  • अन्य शिक्षार्थियों के लिए अच्छे मॉडल बन सकते हैं।
  • अधिगम-निर्योग्य नहीं हो सकते।

उत्तर: ?

इस प्रश्न का सही उत्तर क्या होगा? हमें अपना जवाब कमेंट सेक्शन में जरूर दें।

कमेन्ट करें