UPTET/CTET हिंदी भाषा प्रैक्टिस सेट 50 : विगत वर्षों के इन 30 महत्वपूर्ण प्रश्नों पर डालें एक नज़र

CTET/UPTET Hindi Language Practice Set 50 : CTET की परीक्षा प्रारंभ हो चुकी है जो कि 13 जनवरी तक चलने वाली है, इस परीक्षा की तैयारी अभ्यर्थी कई महीनों से कर रहें है ताकि परीक्षा में बेहतर अंक प्राप्त कर सकें। CTET की परीक्षा ऑनलाईन माध्यम द्वारा कराई जा रही है। UPTET परीक्षा तिथि की घोषणा हो चुकी है, जो कि 23 जनवरी 2022 को आयोजित कराई जाएगी।

ऐसे में इस लेख के माध्यम से हम आपको UPTET/CTET के परीक्षा में पूछे गए विगत वर्षों के हिंदी भाषा के 30 महत्वपूर्ण प्रश्नों से अवगत कराएंगे, जिसका अध्ययन कर के आप अपनी तैयारी को और भी मजबूत बना सकतें हैं।

CTET/UPTET Hindi Language Practice Set 50
CTET/UPTET Hindi Language Practice Set 50

CTET/UPTET Hindi Language Practice Set 50

प्रश्न : उच्च प्राथमिक स्तर पर बच्चे की भाषा क्षमता का
आकलन करने की दृष्टि से सबसे कमजोर प्रश्न है

  • दोषों का पर्दाफ़ाश करना कब बुरा रूप ले सकता है।
  • आपके सपनों का भारत कैसा होना चाहिए? लिखिए।
  • समाचार चैनलों के कार्यक्रमों की सार्थकता पर तर्क सहित अपने विचार लिखिए।
  • लेखक ने अपने जीवन की किन दो घटनाओं को महत्त्वपूर्ण बताया है ?

उत्तर : 4

प्रश्न : हिंदी भाषा शिक्षक के रूप में सर्वाधिक महत्त्वपूर्ण है

  • भाषा की परिभाषाओं का याद होना
  • साहित्यिक लेखन एवं पुरस्कार
  • भाषा की शिक्षा शास्त्रीय समझ
  • साहित्यिक संगोष्ठियों में भागीदारी

उत्तर : 3

प्रश्न : भाषा शिक्षण के संदर्भ में सतत और व्यापक आकलन के लिए सर्वाधिक महत्त्वपूर्ण बिंदु है

  • बच्चों की उच्चारण त्रुटियों पर अत्यधिक ध्यान देना
  • बच्चों भाषा प्रयोग का निरंतर अवलोकन
  • बच्चों के भाषा प्रयोग का कक्षायी अवलोकन
  • बच्चों के पढ़ने-लिखने की कुशलता का अवलोकन

उत्तर : 2

प्रश्न : वाणी अस्थायी होती है और …….. भाषा की तुलना में काफी तेजी से बदलती रहती है।

  • पारंपरिक
  • मौखिक
  • शास्त्रीय
  • लिखित

उत्तर : 4

प्रश्न : उच्च प्राथमिक स्तर पर सीखने का एक महत्त्वपूर्ण उद्देश्य है

  • पठित सामग्री को ज्यों का त्यों प्रस्तुत करना।
  • पठित सामग्री का तार्किक विश्लेषण करना।
  • पठित सामग्री के पक्ष में अपनी बात रखना।
  • पठित सामग्री के विरुद्ध अपनी बात रखना।

उत्तर : 2

प्रश्न : ‘पाठ से तीनों प्रकार की संज्ञाओं के उदाहरण खोजकर लिखिए। अभ्यास प्रश्न ………….. का उदाहरण है।

  • व्याकरण कंठस्थ करने
  • संदर्भ में व्याकरण
  • व्याकरणिक जटिलता
  • व्याकरण पर अत्यधिक बल

उत्तर : 2

प्रश्न : आठवीं कक्षा में मुदित पढ़ते समय परेशानी का अनुभव करता है। संभवतः मुदित …….. से ग्रस्त है।

  • डिस्लेक्सिया
  • अफ़ेजिया
  • डिस्केलकुतिया
  • स्मिाफिया

उत्तर : 1

प्रश्न : प्रारंभिक स्तर पर हिंदी भाषा की पाठ्य पुस्तक का निर्माण करते समय इस बात का ध्यान रखा जाए कि पाठ

  • बच्चों में पढ़ने-लिखने की कुशलता का ही विकास करें।
  • बच्चों में साहित्यिक लेखन की क्षमता का ही विकास करें।
  • कुछ पूर्वनिर्धारित संदेशों को पहुँचाने के उद्देश्य रखते हों।
  • कुछ पूर्वनिर्धारित संदेशों को पहुँचाने के उद्देश्य न रखते हों।

उत्तर : 4

प्रश्न : बच्चों में पठन के प्रति रुचि जागृत करने के लिए पाठ्य पुस्तक के अतिरिक्त ……. सामग्री का विकास किया जा सकता है।

  • मूल्यपरक
  • पूरक
  • सरल
  • जटिल

उत्तर : 2

प्रश्न : पढ़ने का संबंध ………. से है।

  • अर्थ
  • शुद्धता
  • तीव्र गति
  • अक्षर ज्ञान

उत्तर : 1

प्रश्न : उच्च प्राथमिक स्तर पर हिंदी भाषा की पाठ्य पुस्तकों में अन्य विषयों के पाठों को स्थान देने का एक महत्त्वपूर्ण उद्देश्य है

  • हिन्दी की पाठ्य-पुस्तक को समावेशी बनाना।
  • दूसरे विषयों का ज्ञान देना।
  • विषय की शब्दावली का विकास।
  • अन्य विषयों का कार्यभार कम करना ।

उत्तर : 1

प्रश्न : बच्चों में जन्मजात भाषिक क्षमता होती है। इसका एक शिक्षाशास्त्रीय पक्ष यह है कि पर्याप्त अवसर मिलने पर बच्चा

  • सुनना – बोलना जल्दी सीखेगा।
  • परिचित भाषा जल्दी सीखेगा।
  • नई भाषा आसानी से सीखेगा।
  • पढ़ना-लिखना जल्दी सीखेगा।

उत्तर : 3

प्रश्न : ‘भाषा की नियमबद्ध प्रवृत्ति को पहचानना और उसका विश्लेषण करना उच्च प्राथमिक स्तर के भाषा शिक्षण का एक ……उद्देश्य है।

  • सर्वोपरि
  • निरर्थक
  • महत्त्वपूर्ण
  • कमजोर

उत्तर : 3

प्रश्न : कक्षा आठ के बच्चों की पठन अवबोधन क्षमता का विकास करने में सहायक है

  • नाटक का मंचन
  • क्लोज़ परीक्षण
  • पाठ्य सामग्री को दोहराना
  • लिखित परीक्षा

उत्तर : 2

प्रश्न : उच्च प्राथमिक स्तर पर बच्चों के भाषा-विकास की दृष्टि से सबसे कम महत्त्वपूर्ण है

  • सृजनात्मक लेखन
  • परिचर्चा
  • श्रुतलेख
  • संवाद अदायगी

उत्तर : 3

निर्देश : निम्नलिखित गद्यांश को पढ़कर पूछे गए निम्नलिखित नौ प्रश्नों के सबसे उपयुक्त उत्तर वाले विकल्प चुनिए :

       खेल की कक्षा शुरू हुई तो एक दुबली-पतली लड़की शिक्षक से ओलिंपिक रेकॉर्ड्स के बारे में सवाल पूछने लगी। इस पर कक्षा में सभी छात्र हँस पड़े। चार साल की उम्र में ही उसे पोलियो हो गया था। शिक्षक ने भी व्यंग्य किया, 'तुम खेलों के बारे में जानकर क्या करोगी? तुम तो ठीक से खड़ी भी नहीं हो सकती, फिर ओलिंपिक से तुम्हारा क्या मतलब? तुम्हें कौन-सा खेलों में भाग लेना है जो यह सब जानना चाहती हो।' उदास होकर लड़की चुपचाप बैठ गई। सारी  क्लास उस पर देर तक हँसती रही। घर जाकर उसने माँ से पूछा,  'क्या मैं दुनिया की सबसे तेज धावक बन सकती हूँ?” उसकी माँ ने उसे प्रेरित किया और कहा, 'तुम कुछ भी कर सकती हो। इस संसार में नामुमकिन कुछ भी नहीं है।'
       अगले दिन जब खेल पीरियड में उसे बाकी बच्चों से अलग बिठाया गया, तो उसने कुछ सोचकर बैसाखियाँ संभाली और दृढ़ निश्चय के साथ बोली, 'सर, याद रखिएगा, अगर लगन सच्ची और इरादे बुलंद हों, तो सब कुछ संभव है। सभी ने इसे भी मजाक में लिया और उसकी बात पर ठहाका लगाया।
       अब वह लड़की तेज चलने के अभ्यास में जुट गई, वह कोच की सलाह पर अमल करने लगी, अच्छी और पौष्टिक खुराक लेने लगी। कुछ दिनों में उसने अच्छी तरह चलना, फिर दौड़ना सीख लिया। उसके बाद वह छोटी-मोटी दौड़ में हिस्सा लेने लगी। अब कई लोग उसकी मदद के लिए आगे आने लगे। वे उसका उत्साह बढ़ाते। उसके हौंसले बुलंद होने लगे। उसने 1960 के ओलिंपिक में 100 मीटर, 200 मीटर और 4 x 100 रिले में वर्ल्ड रेकॉर्ड बनाकर सबको आश्चर्यचकित कर दिया। ओलिंपिक में इतिहास रचने वाली वह बालिका थी अमेरिका की प्रसिद्ध धाविका विल्मा रूडोल्फ। 

प्रश्न : ‘तुम्हें कौन-सा खेलों में भाग लेना है…… भावार्थ की दृष्टि से देखें तो उपर्युक्त वाक्य है

  • प्रश्नार्थक वाक्य
  • विधानार्थक वाक्य
  • विस्मयार्थक वाक्य
  • निषेधार्थक वाक्य

उत्तर : 4

प्रश्न : लड़की के सवाल पूछने पर छात्र हँस पड़े, क्योंकि लड़की

  • खेलना नहीं चाहती थी
  • बहुत छोटी थी
  • खेलना नहीं जानती थी
  • खेल नहीं सकती थी

उत्तर : 4

प्रश्न : ‘व्यंग्य किया’ का सबसे उपयुक्त अर्थ होगा

  • डाँट लगाई
  • उपहास किया
  • ताना मारा
  • निकाल दिया

उत्तर : 2

प्रश्न : ‘पौष्टिक खुराक’ में दोनों शब्द है, क्रमशः

  • देशज, आगत
  • तत्सम, आगत
  • तत्सम, तद्भव
  • तद्भव, तत्सम

उत्तर : 2

प्रश्न : आपके विचार से लड़की को सफलता की सबसे बड़ी प्रेरणा किसने दी?

  • उसकी माँ ने
  • उसके शिक्षक ने
  • उसके प्रशिक्षक ने
  • उसके सहपाठियों ने

उत्तर : 1

प्रश्न : शिक्षक के उत्तर से उसके बारे में धारणा बनती है कि वह

  • कठोर था।
  • सत्यवादी था।
  • हितैषी था।
  • प्रेरक था।

उत्तर : 1

प्रश्न : ‘आश्चर्य चकित’ का विग्रह होगा

  • आश्चर्य से चकित
  • आश्चर्य है जो चकित
  • आश्चर्य और चकित
  • आश्चर्य में चकित

उत्तर : 1

प्रश्न : लड़की के अनुसार सब कुछ संभव है, यदि हो

  • कठोर परिश्रम और सबल शरीर
  • बुलंद हौंसला और ईश्वर की कृपा
  • सच्ची प्रेरणा और अच्छा प्रशिक्षक
  • सच्ची लगन और ऊँचा इरादा

उत्तर : 4

प्रश्न : गद्यांश में निहित मुख्य संदेश है……….

  • सफलता के लिए लगन और परिश्रम आवश्यक है।
  • शारीरिक अक्षमता वाले लोगों को अधिक परिश्रम करना पड़ता है।
  • किसी का मजाक उड़ाना ठीक नहीं।
  • शिक्षक को दयालु होना चाहिए।

उत्तर : 1

निर्देश : निम्नलिखित काव्यांश को पढ़कर पूछे गए निम्नलिखित छः प्रश्नों के सबसे उपयुक्त उत्तर वाले विकल्प को चुनिए

     दिशाएँ निमंत्रण मुझे दे रही हैं 
     सफलता का यह द्वार मेरे लिए है।।
     न अवरोध कोई न बाधा कहीं है, 
     न संदेह कोई न व्यवधान कोई। 
     अटल एक विश्वास मन में भरा है,
     नहीं पथ-डगर आज अनजान कोई।।
     हृदय में कहीं कह रहा बात कोई, 
     धरा औ गगन सिर्फ तेरे लिए है।
     नहीं कुछ यहाँ जो मुझे रोक पाए, 
     न कोई यहाँ जो मुझे टोक पाए।
     अजानी हवा में बहे जा रहा हूँ 
     मुझे आज लगता कि मैं वह नहीं हूँ।
     रही जगमगा इंद्रधनुषी दिशाएँ,
     दिगंतर मंदिर रस अलौकिक पिए हैं।।

प्रश्न : कविता का केंद्रीय स्वर है

  • सुनसानी और अनजानापन
  • कर्म और प्रेरणा
  • उत्साह और आत्मविश्वास
  • बाधाएँ और विघ्न

उत्तर : 3

प्रश्न : दिशाएँ कवि को क्यों बुला रही हैं?

  • संदेह दूर करने के लिए
  • सफलता प्राप्त करने के लिए
  • कविता पाठ करने के लिए
  • अनजान रास्तों से बचने के लिए

उत्तर : 2

प्रश्न : व्याकरण की दृष्टि से ‘इंद्रधनुषी’ शब्द है

  • विशेषण
  • संज्ञा
  • क्रियाविशेषण
  • सर्वनाम

उत्तर : 1

प्रश्न : अर्थ की दृष्टि से शेष से भिन्न शब्द को पहचानिए

  • व्यवधान
  • बाधा
  • डगर
  • अवरोध

उत्तर : 3

प्रश्न : किस पंक्ति से प्रतीत होता है कि कवि का व्यक्तित्व बदल गया है?

  • नहीं कुछ यहाँ जो मुझे रोक पाए।
  • मुझे आज लगता कि मैं वह नहीं हूँ।
  • अटल एक विश्वास मन में भरा है।
  • अजानी हवा में बहे जा रहा हूँ।

उत्तर : 2

प्रश्न : कवि को अपनी सफलता पर अटल विश्वास क्यों है?

  • उसे रोक-टोक करने वाला कोई नहीं है।
  • सफलता पाना बहुत सरल है।
  • उसे कोई रुकावट नहीं दिखाई देती।
  • दिशाएँ उसे बुला रही हैं।

उत्तर : ??

इस प्रश्न का सही उत्तर क्या होगा? हमें अपना जवाब कमेंट सेक्शन में जरूर दें।

आशा है आपको यह प्रैक्टिस सेट पसंद आया होगा, सरकारी परीक्षाओं से जुड़ी हर जानकरियों हेतु सरकारी अलर्ट को बुकमार्क जरूर करें।

Leave a Comment