CBSE CTET General Hindi Practice Set 10 | CTET परीक्षा 2016 में पूछें गये सामान्य हिन्दी के महत्वपूर्ण प्रश्न उत्तर सहित, अवश्य पढ़ें

CBSE CTET General Hindi Practice Set 10 : केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा की तैयारी करने वाले उम्मीदवारों को अब अपनी तैयारी को और तेज कर देना चाहिए क्योंकि ऑनलाइन आवेदन की तिथि अब समाप्त हो चुकी तथा बोर्ड CTET Exam 2022 को लेकर परीक्षा केंद्रों का निर्धारण भी कर चुका है। ऐसा माना जा रहा कि दिसम्बर और जनवरी 2023 के माह के बीच कभी भी परीक्षा का आयोजन किया जा सकता है। इसीलिए आज हम सीटीईटी परीक्षा में पूछे जाने वाले सामान्य हिन्दी के सबसे महत्वपूर्ण प्रश्न और उत्तर आपके लिए लाएं हैं।

ऐसे में आज हम इस लेख के माध्यम से Ctet General Hindi question paper pdf को लेकर आये हैं जो की परीक्षा दृष्टि से बेहद उपयोगी है साथ ही हमारे द्वारा प्रस्तुत यह प्रैक्टिस सेट सभी उम्मीदवारों को उनकी तैयारी को एक नया आयाम देगा तथा अच्छे अंक प्राप्त करने में भी मदद करेंगा।

CBSE CTET General Hindi Practice Set 10
CBSE CTET General Hindi Practice Set 10

CBSE CTET General Hindi Practice Set 10 (30 महत्वपूर्ण प्रश्नोत्तर)

प्रश्न. भाषा और विचार के सम्बन्धो कि चर्चा अग्रणी है?

  • पियाजे
  • चॉम्स्की
  • स्किनर
  • वाइगोत्स्की

उत्तर: 2

प्रश्न. सिद्धार्थ की माँ ने अपने परिवार के सदस्यों से अनुरोध किया है कि घर में एक ही भाषा का प्रयोग करें जिससे कि सिद्धार्थ का भाषायी विकास ठीक से हो सके। उनके बारे में आप क्या कहेंगे?

  • वह सिद्धार्थ को समृद्ध भाषिक परिवेश से वंचित कर रही हैं।
  • वह सिद्धार्थ के भाषिक परिवेश में किसी प्रकार का अवरोध नहीं चाहतीं
  • वह सिद्धार्थ के भाषायी विकास के लिए विशेष प्रयत्न कर रही हैं
  • वह भाषा-अर्जन के सिद्धान्तों की गहरी समझ रखती हैं

उत्तर: 2

प्रश्न. प्राथमिक स्तर पर भाषा शिक्षण के सन्दर्भ में सर्वाधिक महत्त्वपूर्ण है कि बच्चे-

  • लिखी / छपी सामग्री का अर्थ समझ सकें
  • लिखी / छपी सामग्री को बोल-बोलकर पढ़ सकें
  • अक्षरों को जोड़-जोड़कर पढ़ सकें
  • शब्दों को जोड़-जोड़कर वाक्य पढ़ सकें

उत्तर: 1

प्रश्न. प्राथमिक स्तर पर लेखन क्षमता के सन्दर्भ में सर्वाधिक महत्वपूर्ण है?

  • मौलिक विचार
  • श्रुतलेख
  • सुलेख
  • वर्तनी

उत्तर: 2

प्रश्न. निम्नलिखित में से कौन-सी गतिविधि श्रवण एवं वाचन कौशलों के विकास के लिए सर्वाधिक उपयुक्त होगी?

  • रेडियो समाचार सुनाना
  • कहानी सुनाकर उस पर बच्चों की प्रतिक्रिया जानना
  • हावभाव के साथ कविता बुलवाना
  • प्रश्नोत्तर सत्र आयोजित करना

उत्तर: 2

प्रश्न. वाणी होती है और लिखित भाषा की तुलना में काफी तेजी से बदलती रहती है।

  • गौण
  • अस्थायी
  • स्थायी
  • स्थिर

उत्तर: 2

प्रश्न. ‘बहुभाषी कक्षा’ से तात्पर्य है?

  • जिस कक्षा में कम-से-कम दो भाषाओं में पाठ्य-पुस्तक उपलब्ध हो
  • जिस कक्षा में प्रत्येक बच्चे के घर की बोली को सम्मान दिया जाता हो
  • जहाँ बहुत-सी भाषाओं का अध्यापन किया जाता है।
  • जिस कक्षा के शिक्षक/शिक्षिका दो या दो से अधिक भाषाएँ पढ़-लिख सकते हों

उत्तर: 4

प्रश्न. संज्ञान के स्तर पर विकसित आसानी से अनूदित होती रहती है।

  • ज्ञान क्षमता
  • तर्क क्षमता
  • व्याकरण क्षमता
  • भाषा क्षमता

उत्तर: 4

प्रश्न. पूरी पाठ्यचर्या में में भाषा की भूमिका को अनदेखा नहीं किया जा सकता।

  • मूल्य-निर्माण
  • ज्ञान-निर्माण
  • व्याकरण-निर्माण
  • आकलन-निर्माण

उत्तर: 1

प्रश्न. प्राथमिक कक्षाओं के भाषा-शिक्षक होने के नाते आपकी सर्वाधिक महत्त्वपूर्ण भूमिका है।

  • बच्चे की भाषायी क्षमता के विकास के लिए तरह-तरह के अवसर जुटाना
  • बच्चों को वाद-विवाद के लिए तैयार करना
  • विद्यार्थियों को सर्वाधिक अंक प्राप्त करने के लिए तैयार ‘करना
  • कक्षा में पाठ्य-पुस्तक का अच्छी तरह से निर्वाह करना

उत्तर: 1

प्रश्न. दूसरी कक्षा में पढ़ने वाला रोहित हिन्दी की कक्षा में अपनी मातृभाषा में बात करता है। आप क्या करेंगे?

  • उसकी भाषा को समझने की कोशिश करेंगे
  • बाकी बच्चों से उसकी भाषा सीखने के लिए कहेंगे
  • उसे डाँटेंगे कि वह कक्षा में मातृभाषा का प्रयोग न करे
  • उसे बिल्कुल अनदेखा कर पढ़ाते रहेंगे

उत्तर: 1

प्रश्न. ‘पढ़ना’ सीखने के लिए कौन-सा उपकौशल अनिवार्य नहीं है?

  • भावनात्मक सम्बन्ध
  • वर्णमाला याद करने का कौशल
  • अनुमान लगाने का कौशल
  • भाषा की संरचना की समझ

उत्तर: 3

यह भी पढ़ें

  1. CTET सामान्य हिन्दी प्रैक्टिस सेट 09
  2. CTET सामान्य हिन्दी प्रैक्टिस सेट 08
  3. Ctet सामान्य हिन्दी प्रैक्टिस सेट 07

प्रश्न. द्विभाषिक बच्चे……..विकास, सामाजिक सहिष्णुता और चिन्तन में अपेक्षाकृत बेहतर होते हैं।

  • संज्ञानात्मक, सीमित
  • संज्ञानात्मक, विस्तृत
  • संक्रियात्मक, सीमित
  • संक्रियात्मक, केन्द्रित

उत्तर: 2

प्रश्न. निम्नलिखित में से किसके अभाव में हम पढ़ नहीं सकते?

  • लिपि से परिचय
  • बारहखड़ी से परिचय
  • वर्णमाला की क्रमबद्धता का ज्ञान
  • संयुक्ताक्षरों की पहचान

उत्तर: 1

प्रश्न. प्राथमिक स्तर की कक्षा में भिन्न-भिन्न प्रान्तों के अलग-अलग भाषा बोलने वाले बच्चों का नामांकन हुआ है। ऐसी स्थिति में भाषा की कक्षा बच्चों के भाषायी विकास के सन्दर्भ में –

  • जटिल चुनौती के रूप में सामने आती है।
  • अवरोध ही प्रस्तुत करती हैं
  • बहुत बड़ी समस्या बन जाती है।
  • अनमोल संसाधन के रूप में कार्य करती है

उत्तर: 4

प्रश्न. पहली कक्षा की भाषा अध्यापिका अपने एक विद्यार्थी के भाषायी विकास के सम्बन्ध में चिन्तित है, क्योंकि

  • विद्यार्थी पठन-पाठन में रुचि प्रदर्शित नहीं करता है
  • विद्यार्थी को घर पर बात करने के बहुत कम अवसर मिलते हैं
  • विद्यार्थी के माता और पिता की मातृभाषा अलग-अलग है
  • विद्यार्थी अपने साथियो से बहुत झगड़ता है है

उत्तर: 1

प्रश्न. बच्चों के बोलना सीखने के सन्दर्भ में कौन-सा कथन सही है?

  • सभी बच्चों की ‘बोलना’ सीखने की गति एक समान होती है
  • बड़े परिवार में बच्चों की ‘बोलना’ सीखने की गति तेज होती है
  • निर्धन परिवारों से आए बच्चों की ‘बोलने’ सीखने की गति धीमी होती है
  • कहने-सुनने के अधिक-से-अधिक अवसर मिलने पर बच्चे बोलना सरलता से सीखते हैं।

उत्तर: 4

प्रश्न. विद्यालय/कक्षा में समृद्ध भाषायी परिवेश से तात्पर्य है

  • मुख्य धारा की भाषा सुनने के अधिक-से-अधिक अवसर
  • बोलने-सुनने, पढ़ने-लिखने के अधिक-से-अधिक
  • अवसर एक से अधिक भाषाओं के शब्दकोष की उपलब्धता
  • अध्यापक को एक से अधिक भाषाओं की जानकारी

उत्तर: 2

प्रश्न. अपने विद्यार्थियों के भाषा सम्बन्धी क्रमिक विकास का आकलन करने के लिए आपकी निर्भरता मुख्य रूप से किस पर है?’

  • पोर्टफोलियो के अवलोकन पर
  • मौखिक कार्य करवाने पर
  • गृहकार्य की उत्तर-पुस्तिकाओं के अवलोकन पर
  • कक्षाकार्य के अवलोकन पर

उत्तर: 1

प्रश्न. आपके विद्यार्थी पाठ में आए नवीन/अपरिचित शब्दों के अर्थ जान सकें, इसके लिए आप

  • पाठ के अन्त में दिए गए ‘शब्दार्थ’ देखने के लिए कहेंगी
  • शब्दकोष देखना सिखाएँगी
  • शब्द का अर्थ लिखकर बताएँगी
  • पाठ के सन्दर्भ में अर्थ समझने की स्थिति पैदा करेंगी

उत्तर: 3

प्रश्न. “बच्चों के भाषायी विकास” में समाज की महत्त्वपूर्ण भूमिका होती है।” यह विचार किसका है?

  • पियाजे
  • स्किनर
  • चामस्की
  • वाइगोटत्स्की

उत्तर: 4

प्रश्न. विद्यार्थियों का भाषायी विकास समग्रता से हो सके, इसके लिए सबसे उपयुक्त अनुशंसा होगी

  • शब्दकोष एवं विश्वकोष के प्रयोग की
  • भाषा प्रयोग के विविध अन की
  • सतत एवं व्यापक आकलन की
  • सर्वोत्कृष्ट पुस्तकों की

उत्तर: 3

प्रश्न. लिखित भाषा का प्रयोग

  • केवल प्रतिवेदन लेखन के लिए किया जाता है।
  • कार्यालयी कार्यों के लिए ही किया जाता है
  • अपनी अभिव्यक्ति के लिए किया जाता है।
  • केवल साहित्य सृजन के लिए किया जाता है

उत्तर: 3

प्रश्न. भाषा की कक्षा में भाषायी खेलों का आयोजन मुख्यतः

  • भाषा सीखने की प्रक्रिया में स्वाभाविकता लाता है।
  • आकलन का काम करता है।
  • रोचकता और जोश लाता है।
  • अध्यापक के काम को सरल बनाता है।

उत्तर: 3

प्रश्न. कविता-कहानियों पर चर्चा करने एवं प्रश्न पूछने का उद्देश्य-

  • भाषा की विभिन्न छटाओं का अनुभव कराना है
  • कल्पनाशीलता का पोषण करना मात्र है
  • भाषा सीखने का आकलन करना मात्र है।
  • साहित्य के प्रति बच्चों की रुचि जाग्रत करना है

उत्तर: 2

प्रश्न. भाषा का अस्तित्व एवं विकास के बाहर नहीं हो
सकता।

  • परिवार
  • साहित्य
  • समाज
  • विद्यालय

उत्तर: 3

प्रश्न. किसी समावेशी कक्षा में कौन-सा कथन भाषा शिक्षण के सिद्धान्तों के अनुकूल है?

  • प्रिन्ट समृद्ध माहौल भाषा सीखने में मदद करता है
  • बच्चे अपने अनुभवों के आधार पर भाषा के नियम नहीं बना पाते
  • भाषा विद्यालय में रहकर अर्जित की जाती है
  • व्याकरण के नियमों का ज्ञान भाषा विकास की गति त्वरित करता है

उत्तर: 2

प्रश्न. प्राथमिक स्तर पर विद्यार्थियों के भाषा शिक्षण के सन्दर्भ में कौन-सा कथन सही है?

  • सतत रूप से की जाने वाली टिप्पणियां एवं अनवरत अभ्यास भाषा सीखने में रुचि उत्पन्न करते हैं
  • बच्चे समृद्ध भाषिक परिवेश में सहज रूप से स्वतः भाषा में सुधार कर सकते हैं
  • बच्चों की भाषाई संकल्पनाओं और विद्यालय के भाषाई परिवेश में विरोधाभासी भाषा सीखने में मदद करता है।
  • बच्चे भाषा की जटिल और समृद्ध संरचनाओं का ज्ञान विद्यालय में ही अर्जित करते है

उत्तर: 4

प्रश्न. भाषा सीखने का उद्देश्य है?

  • प्रत्येक स्थिति में भाषा का प्रयोग कर पाना
  • आदेश-निर्देश दे पाना और सुन पाना
  • दूसरों की बातों को समझ पाना
  • अपने मन की बात कह पाना

उत्तर : ?

इस प्रश्न का सही उत्तर क्या होगा? हमें अपना जवाब कमेंट सेक्शन में जरूर दें।

कमेन्ट करें