CBSE CTET Exam 2023, CDP MCQ – 10 | बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र के 30 महत्वपूर्ण MCQ

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) द्वारा केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा का आयोजन शुरू हो चुका है। सीबीएसई सीटीईटी परीक्षा 2022-23 का आयोजन 28 दिसम्बर 2022 से लेकर 07 फरवरी 2023 तक किया जायेगा। आपको बता दें कि सीटेट परीक्षा के लिये इस वर्ष कुल 32.45 लाख उम्मीदवारों ने रजिस्ट्रेशन किया है।

सीटेट परीक्षा की तैयारी कर रहे सभी उम्मीदवारों के लिये आज हम इस लेख के माध्यम से विगत परीक्षाओं में पूछें गये बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र (CDP) के महत्वपूर्ण प्रश्नों को उत्तर सहित लेकर आये हैं तथा इन प्रश्नों का अध्ययन करके उम्मीदवार सीटेट परीक्षा 2023 में उच्चतम अंक प्राप्त करने और प्रश्नों के प्रकार समझने में आसानी प्राप्त होगी।

CBSE CTET Exam 2023, CDP MCQ - 10

CBSE CTET Exam 2023 Child Development and Pedagogy (CPD) MCQ भाग – 10 : बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र के 30 वस्तुनिष्ठ प्रश्न

प्रश्न. थॉर्नडाइक के व्यक्तित्व के वर्गीकरण का आधार है-

  • शारीरिक गठन और शक्लसूरत
  • रचनात्मकता और मौलिकता
  • समायोजन और बुद्धि
  • चिंतन और कल्पना

उत्तर: 4

प्रश्न. विकास के किस काल को ‘अत्यधिक दबाव और तनाव का काल’ कहा गया है?

  • किशोरावस्था
  • प्रौढ़ावस्था
  • मध्यावस्था
  • वृद्धावस्था

उत्तर: 1

प्रश्न. एक शिक्षक को कक्षा में कार्य करना चाहिए-

  • प्रगतिशील भूमिका में
  • प्रभुत्ववादी भूमिका में
  • प्रजातान्त्रिक भूमिका मे
  • प्रभावशाली भूमिका में

उत्तर: 3

प्रश्न. व्यक्तिगत विभिन्नताओं का क्षेत्र है-

  • लिंग भेद
  • शारीरिक रचना
  • मानसिक योग्यताएं
  • ये सभी

उत्तर: 4

प्रश्न. यदि विद्यार्थी पाठ में रूचि न लेते प्रतीत हो, तो शिक्षक को चाहिए कि-

  • शिक्षण विधि बदल दे।
  • ज्य-श्रव्य सामग्री को प्रयोग में लाकर पाठ को रुचिकर बनाए
  • कक्षा से चला जाए।
  • कक्षा में कोई अन्य कार्य प्रारम्भ करे।

उत्तर: 1

प्रश्न. ‘व्यवहार का करना’ पक्ष…… में आता है।

  • सीखने के गतिक क्षेत्र
  • सीखने के भावनात्मक क्षेत्र
  • सीखने के मनोवैज्ञानिक क्षेत्र
  • सीखने के संज्ञानात्मक क्षेत्र

उत्तर: 1

प्रश्न. बच्चों के विकास के सिद्धांतों को समझना शिक्षक की सहायता करता है-

  • शिक्षार्थियों की भिन्न अधिगम शैलियों को प्रभावी रूप में सम्बोधित करने में।
  • शिक्षार्थी के सामाजिक स्तर को पहचानने में
  • शिक्षार्थी की आर्थिक पृष्ठभूमि को पहचानने में
  • शिक्षार्थियों को क्यों पढ़ना चाहिए यह औचित्य स्थापित करने में

उत्तर: 1

प्रश्न. बुद्धि का एकल घटक या एकल अव्यय सिद्धांत दिया था?

  • थार्नडाइक ने
  • पॉवलय में
  • एलफ्रेंड ने
  • फ्रीमैन ने

उत्तर: 3

प्रश्न. बालक का प्रारंभिक विकास मुख्यतः किस पर निर्भर है?

  • माता-पिता
  • वातावरण
  • वातावरण (परिवेश)
  • समाज

उत्तर: 1

प्रश्न. क्या बुद्धिमान माता-पिता (अभिभावक) के बच्चे (संतानें) सदैव पढ़ाई में होते हैं?

  • हाँ
  • नहीं
  • मनोविज्ञान इस संबंध में कोई उत्तर नहीं दे सकता
  • यह ईश्वर पर निर्भर है।

उत्तर: 2

प्रश्न. रोशा स्याही धब्बा परीक्षण जो व्यक्तित्व का मूल्यांकन करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है का विकास किया?

  • आइसैंक ने
  • हारमन रोशों ने
  • जीन पियाजेट ने
  • एलपोर्ट ने

उत्तर: 2

प्रश्न. बहुबुद्धि का सिद्धांत किसने दिया?

  • जीन पियाजे
  • बिने
  • हावर्ड गार्डनर
  • इनमें कोई नहीं

उत्तर: 3

प्रश्न. इनमें से कौन सी ग्रंथि को नियंत्रित करती है तथा इस प्रकार शरीर की सामान्य तथा अनुपातिक विकास को प्रभावित करती है?

  • यौन ग्रंथि
  • मूत्र अधि
  • थायरायड ग्रंथि
  • इनमें कोई नहीं

उत्तर: 4

प्रश्न. ‘सीखने के नियम’ के प्रतिपादक है-

  • फ्रायड
  • थॉर्नडाइक
  • स्किनर
  • एडलर

उत्तर: 2

इसे भी पढ़ें

  1. सीबीएसई CTET एग्जाम 2023, CDP MCQ – 09
  2. सीबीएसई CTET एग्जाम 2023, CDP MCQ -07
  3. सीबीएसई CTET एग्जाम 2023, CDP MCQ – 06

प्रश्न. किस मनोवैज्ञानिक के अनुसार ‘विकास एक सतत् और धीमी-धीमी प्रक्रिया है?

  • कोलेसनिक
  • पियाजे
  • स्किनर
  • हरलॉक

उत्तर: 3

प्रश्न. विकास में वृद्धि से तात्पर्य है-

  • ज्ञान में वृद्धि
  • संवेग में वृद्धि
  • वजन में वृद्धि
  • आकार, सोच, समझ कौशलों में वृद्धि

उत्तर: 4

प्रश्न. मानसिक विकास को प्रभावित करने वाले कारक है-

  • वंशानुक्रम
  • परिवार का वातावरण
  • परिवार की सामाजिक स्थिति
  • उपरोक्त समस्त

उत्तर: 4

प्रश्न. यदि आपकी कक्षा का बच्चा C को D तथा D को C लिखे / पढ़े, तो वह कौन-से रोग से पीड़ित है?

  • मलेरिया
  • फाइलेरिया
  • डिसलेक्सिया
  • टायफाइड

उत्तर: 3

प्रश्न. पियाजे के अनुसार संज्ञानात्मक बाल विकास की कितनी अवस्थाएं हैं?

  • 3अवस्थाएं
  • 5 अवस्थाएं
  • 4 अवस्थाएं
  • 6 अवस्थाएं

उत्तर: 3

प्रश्न. एक बच्ची को उसके पिता चहलकदमी करा रहे थे। बच्ची जानती थी कि चिड़िया जैसी चीजें होती है परन्तु उसने कभी पतंग को नहीं देखा था। पतंग को देखकर उसने कहा ‘चिड़िया’ को तो देखों, उसके पिता ने कहा ‘यह एक पतंग है।’ यह उदाहरण दिखाता है।

  • सम्मिलन
  • संरक्षण
  • समायोजन
  • वस्तु का प्रदर्शन

उत्तर: 1

प्रश्न. बच्चे उसी वातावरण में सीख सकते है, जहाँ-

  • उनके अनुभवों एवं भावनाओं को उचित स्थान मिले।
  • उन्हें खेलने का मौका मिले।
  • उन्हें मित्र बनाने का मौका मिले।
  • कड़ा अनुशासन हो ।

उत्तर: 1

प्रश्न. एक विद्यार्थी अपने अध्यापक से समय की पाबन्दी सीखता है, यह एक उदाहरण है-

  • वाचिक अभिगम का
  • प्रेक्षण अधिगम का
  • कौशल अधिगम का
  • अधिगम अन्तरण का

उत्तर: 2

प्रश्न. विद्यार्थियों के सीखने में जो रिक्तियों रह जाती है, उनके निदान के बाद… चाहिए।

  • सघन अभ्यास कार्य होना
  • समुचित उपचारात्मक कार्य होना।
  • वह कुण्ठित है।
  • वह संवेगात्मक रूप से संतुलित नहीं है।

उत्तर: 2

प्रश्न. एक शिक्षक, बच्चे द्वारा की गई छोटी-छोटी गलतियों पर क्रोध प्रकट करना है। यह इंगित करता है कि-

  • वह बच्चे का शुभचिन्तक है।
  • उसमें ज्ञान की कमी है।
  • वह कुण्ठित है
  • वह संवेगात्मक रूप से संतुलित नहीं है।

उत्तर: 4

प्रश्न. मानव आवश्यकताओं का पदानुक्रम किसने दिया?

  • थॉर्नडाइक
  • मास्लो
  • गिल्फोर्ड
  • कॉपका

उत्तर: 2

प्रश्न. बालक का चिंतन किसके द्वारा प्रदर्शित नहीं होता है?

  • आत्मकेन्द्रिकता
  • सजीवतावाद
  • यथार्थवाद
  • वैयक्तिकवाद

उत्तर: 4

प्रश्न. जीन पियाजे की संज्ञानात्मक विकास की अवस्थाओं के अनुसार जिसे पूर्व-प्रत्ययात्मक काल जाना जाता है, निम्न में से किससे संबंधित है?

  • इन्द्रिय गति अवस्था से
  • मूर्त संक्रिया अवस्था से
  • पूर्व संक्रियात्मक अवस्था से
  • औपचारिक संक्रिया अवस्था से

उत्तर: 3

प्रश्न. पियाजे के संज्ञानात्मक सिद्धांत की अवस्थाओं का क्रम निम्न है-

  • संवेदनात्मक गामक काल-मूर्त संक्रियात्मक् काल-पूर्व संक्रियात्मक काल आपैचारिक संक्रियात्मक काल
  • संवेदनात्मक गामक काल- पूर्व संक्रियात्मक काल-मूर्त संक्रियात्मक काल औपचारिक संक्रियात्मक काल
  • पूर्व संक्रियात्मक काल-संवेदनात्मक गामक काल-मूर्त संक्रियात्मक काल – औपचारिक संक्रियात्मक काल
  • पूर्व संक्रियात्मक काल संवेदनात्मक गामक काल अपचारिक संक्रियात्मक काल-मूर्त संक्रियात्मक काल ।

उत्तर: 2

प्रश्न. मनोविज्ञान का क्षेत्रवादी सिद्धांत दिया-

  • कर्ट लेविन ने
  • सी. टी. मॉर्गन ने
  • लियोन फेस्टिंगर ने
  • हेनरी गोडार्ड ने

उत्तर: 1

प्रश्न. एक अच्छे शिक्षक का सबसे महत्वपूर्ण गुण है-

  • विषय-वस्तु का पूर्ण ज्ञान
  • अच्छा सम्प्रेषण कौशल
  • विद्यार्थियों के हित का ध्यान रखना
  • ये सभी

उत्तर: 4

प्रश्न. शिक्षा का उद्देश्य है-

  • अच्छा नागरिक बनाना
  • ऐसे व्यक्तियों का निर्माण करना जो समाज के लिए उपयोगी है।
  • व्यावहारिकता का निर्माण करना।
  • उपर्युक्त सभी।

उत्तर : ?

इस प्रश्न का सही उत्तर क्या होगा? हमें अपना जवाब कमेंट सेक्शन में जरूर दें।

  1. sabhi

    Reply
  2. D

    Reply
कमेन्ट करें